ये देश मिलकर बनाएंगे चांद पर अंतरिक्ष स्टेशन

-छह दशक पहले अंतरिक्ष रिसर्च का सिरमौर रहा रूस फिर पकड़ बना रहा है

By: pushpesh

Updated: 24 Mar 2021, 01:12 AM IST

सोवियत संघ के दौर में अंतरिक्ष अभियानों का सिरमौर रहा रूस अब फिर अपनी पकड़ मजबूत करना चाहता है। इसी के चलते रूसी स्पेस एजेंसी रोसकोमोस ने हाल ही चीन की स्पेस एजेंसी सीएनएसए के साथ चांद की सतह और उसकी कक्षा में रिसर्च केंद्र बनाने के लिए करार किया है। रोसकामोस का कहना है कि स्पेस स्टेशन एक जटिल प्रायोगिक और रिसर्च फैसिलिटी वाला होगा। इसका निर्माण चांद की सतह या उसके ऑर्बिट में किया जाएगा। इस स्टेशन पर बनी फैसिलिटी को कई सारे रिसर्च की एक श्रृंखला के लिए डिजाइन किया जाएगा। इससे चांद पर लंबे समय तक मानव रहित ऑपरेशन को चलाने जैसे काम किए जा सकेंगे। फिलहाल नासा का अंतरिक्ष स्टेशन सक्रिय है।

मंगल ग्रह पर थे पानी के विशाल समुद्र, अब भी पानी मौजूद !

अंतरिक्ष अभियानों में कई देश शामिल
पिछले कुछ वर्षों में अंतरिक्ष अभियान को लेकर होड़ मची है। अमरीका, रूस, चीन, जापान, भारत और यूरोपीय देशों के साथ संयुक्त अरब अमीरात भी इस दौड़ में जुड़ गया। अब नए खिलाड़ी भी इस दौड़ में जुड़ गए। जैसे एलन मस्क की स्पेसएक्स अंतरिक्ष सैर की तैयारी कर रही है।

Show More
pushpesh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned