राशन कोटेदारों से वसूली करते पकड़ा गया फर्जी जिला आपूर्ति अधिकारी

राशन कोटेदारों से वसूली करते पकड़ा गया फर्जी जिला आपूर्ति अधिकारी

suchita mishra | Publish: Mar, 14 2018 04:35:04 PM (IST) Shahjahanpur, Uttar Pradesh, India

फर्जी जिला आपूर्ति अधिकारी से पहले शहर में फर्जी डीएम का मामला भी सामने आ चुका है।

शाहजहांपुर। जिले में फर्जी जिला आपूर्ति अधिकारी का मामला सामने आया है। यहां पुलिस ने एक ऐसे शख्स को गिरफ्तार किया है जो जिला आपूर्ति अधिकारी बनकर कोटेदारों से वसूली करता था। फिलहाल पुलिस ने युवक को गिरफ्तार करके जेल भेज दिया है व उसकी टीम के दो अन्य साथियों की तलाश की जा रही है। आपको बता दें कि शाहजहांपुर में फर्जी अधिकारी पकड़े जाने का यह कोई पहला मामला नहीं है। इससे पहले भी यहां एक युवक फर्जी आईएएस अधिकारी बनकर जिलाधिकारी के चेंबर में घुस गया था और उसने डीएम की कुर्सी पर बैठकर खुद को जिले का नया डीएम बताया था।

ये है पूरा मामला
थाना रोजा के बल्लिया गांव में तीन युवक पूर्ति विभाग के अधिकारी बनकर एक राशन की दुकान पर पहुंचे। उनमें से अनूप नाम के एक युवक ने खुद को जिला आपूर्ति अधिकारी बताया व उसकी टीम के रूप में दो अन्य युवक निरीक्षण अधिकारी बनकर साथ आए व गांव गांव जाकर राशन की सरकारी दुकानों का सत्यापन करने लगे। जांच के नाम पर कोटेदारों सेराशन का रिकॉर्ड दिखाने को कहा। रिकॉर्ड देखने के बाद उन्होंने उसमें गड़बड़ी की बात कहते हुए राशन कोटेदार से पैसों की मांग की। पैसे मांगने पर कोटेदारों को शक हुआ और उन्होंने गांव के लोगों को वहां बुला लिया।खुद को घिरता हुआ देख दो लोग वहां से भाग गए जबकि अनूप, जो कि जिला आपूर्ति अधिकारी बनकर आया था, को ग्रामीणों ने पकड़ लिया। पहले तो उसकी जमकर धुनाई की फिर पुलिस के हवाले कर दिया।

इस बारे में थाना रोजा के थानाध्यक्ष जसवीर सिंह का कहना है कि आरोपी युवक शाहजहांपुर के थाना सदर बाजार का रहने वाला है। शौक पूरे करने के लिए उसे पैसों की जरूरत थी। इसके लिए उसने ये तरीका आजमाया। फिलहाल उसे जेल भेज दिया है। बाकी दो युवकों की तलाश की जा रही है।

 

Ad Block is Banned