सीकर में माकपा प्रत्याश्यिों पर चला कानून का डंडा, जानिए पूरा मामला

CPIM Sikar : राजस्थान विधानसभा चुनाव 2018 में नामांकन रैली के दौरान डीजे बजाने वाले प्रत्याशियों की अब खैर नहीं है

By: vishwanath saini

Published: 15 Nov 2018, 04:29 PM IST

सीकर. राजस्थान विधानसभा चुनाव 2018 में नामांकन रैली के दौरान डीजे बजाने वाले प्रत्याशियों की अब खैर नहीं है। इस दौरान डीजे बजाने पूर्णतया पाबंदी है और गाडिय़ों में बजने वाला डीजे मोटर व्हीकल एक्ट का भी उल्लंघन है।

इसको लेकर सीकर जिले में पुलिस ने सख्ती शुरू कर दी है। सीकर जिला मुख्यालय पर गुरुवार को पहले ही नामांकन आए और इस दौरान प्रत्याशी के समर्थक डीजे लेकर पहुंच गए। पुलिस ने न केवल डीजे जब्त किया है बल्कि उसके संचालक के खिलाफ मुकदमा भी दर्ज किया है।

जानकारी के मुताबिक गुरुवार को सीकर में धोद विधानसभा क्षेत्र के माकपा प्रत्याशी पेमाराम और सीकर के माकपा प्रत्याशी कयूम कुरैशी का नामांकन था। इस दौरान यह लोग डीजे लेकर कलेक्ट्रेट के बाहर तक पहुंच गए।

इस मौके पर पहुंचे शहर कोतवाल वीरेंद्र शर्मा ने डीजे जब्त कर लिया। डीजे जब्त करने के साथ-साथ इसके खिलाफ दर्ज किया गया है। साथ ही जिन प्रत्याशियों के समर्थन में डीजे आया था। उनको भी नोटिस मिलेगा। इसे आचार संहिता का उल्लंघन भी माना जा रहा है।

नहीं चला सकते मॉडिफाई डीजे
सीकर जिले में सडक़ों पर मॉडिफाइड डीजे की भरमार है। मोटर व्हीकल एक्ट के नियमों के मुताबिक किसी भी वाहन में उसके मूल स्वरूप में छेड़छाड़ नहीं की जा सकती इसके बाद भी लगातार डीजे सडक़ों पर दौड़ते रहते हैं और इनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं होती।

CPIM के नेहरा के पास 65 हजार की संपत्ति
सीकर. सीकर के खंडेला विधानसभा क्षेत्र से इस बार फिर माकपा के टिकट पर सुभाष नेहरा चुनाव मैदान में हैं। चुनाव आयोग में दाखिल शपथ पत्र के अनुसार उनके पास महज 65 हजार की संपत्ति है। शपथ पत्र मेंं पत्नी और परिवार के अन्य सदस्यों की संपत्ति का ब्यौरा नहीं दिया गया है।


सुभाष नेहरा, 56 साल
विधानसभा क्षेत्र: खंडेला
शिक्षा: एमए, एलएलबी पेशा: वकालत
कुल संपत्ति: 65 हजार लगभग
पत्नी की संपत्ति: विवरण उपलब्ध नहीं, पांच सौ ग्राम रजत आभूषण

vishwanath saini Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned