script मतगणना: पहले सिंगरौली का, फिर देवसर व चितरंगी का आएगा परिणाम | Counting of votes: First result of Singrauli, then Devsar-Chitrangi | Patrika News

मतगणना: पहले सिंगरौली का, फिर देवसर व चितरंगी का आएगा परिणाम

locationसिंगरौलीPublished: Nov 25, 2023 11:32:41 pm

Submitted by:

Ajeet shukla

सिंगरौली में 19, चितरंगी में 16 और देवसर विधानसभा क्षेत्र में लगेगी 17 टेबल ....

Counting of votes: First result of Singrauli, then Devsar-Chitrangi
Counting of votes: First result of Singrauli, then Devsar-Chitrangi
सिंगरौली. शासकीय पॉलीटेक्निक कॉलेज में मतगणना को लेकर तैयारी तेज कर दी गई है। मतों की गणना को लेकर किए गए इंतजाम के मुताबिक 3 दिसंबर को सबसे पहले सिंगरौली विधानसभा का परिणाम आएगा। उसके बाद देवसर व चितरंगी का परिणाम घोषित होगा। इन दोनों में देवसर का परिणाम पहले घोषित किया जाएगा। यह अनुमान मतदान केंद्रों के आधार पर लगाया जा रहा है।
दरअसल इवीएम से मतों की गणना के लिए प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में 14 टेबल बनाया जाएगा। इसी के आधार पर कितने राउंड की गणना चलेगी, इसका आकलन किया गया है। सिंगरौली विधानसभा क्षेत्र में सबसे कम 261 मतदान केंद्र हैं। सभी 14 टेबल पर 19 राउंड की गणना में सभी मतदान केंद्र के इवीएम की गणना पूरी हो जाएगी। इसी सिंगरौली का परिणाम सबसे पहले घोषित होने का अनुमान लगाया गया है।

देवसर विधानसभा क्षेत्र में 270 मतदान केंद्र हैं। सभी 14 टेबल पर 20 वें राउंड में गणना पूरी होगी। इसी प्रकार चितरंगी विधानसभा क्षेत्र में 284 मतदान केंद्र हैं। इसलिए वहां भी बनाए गए कुल 14 टेबल पर सभी केंद्रों के इवीएम का मत गिनने में 20 राउंड लगेंगे। चूंकि देवसर में चितरंगी की तुलना में मतदान केंद्र कम हैं। इसलिए पहले देवसर और फिर बाद में चितरंगी का परिणाम घोषित होने का अनुमान है।
मतपत्र की गणना को सिंगरौली में तीन टेबल लगेगी
इवीएम के अलावा बैलेट मतपत्र की गणना के लिए अलग से टेबल लगाई जाएगी। पूर्व में प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में एक-एक टेबल लगाने का निर्णय था, लेकिन अब सुविधा को देखते हुए 500 मतपत्र पर एक टेबल लगाने का निर्णय लिया गया है। चूंकि सिंगरौली विधानसभा क्षेत्र में बैलेट मतपत्र की संख्या 1400 है। इसलिए इस विधानसभा क्षेत्र के लिए तीन टेबल लगाई जाएगी। चितरंगी में बैलेट मतपत्र की संख्या 500 से कम है। इसलिए वहां केवल एक टेबल रहेगी। देवसर में मतपत्रों की संख्या करीब 800 है। इसलिए वहां दो टेबल लगाया जाएगा।
प्रत्याशियों को एजेंट करने भेजी गई सूचना
इधर, मतगणना के बावत निर्धारित टेबल के अनुसार रिटर्निंग अधिकारियों ने प्रत्याशियों को अपना एजेंट नियुक्ति करने को पत्र लिखा है। बैलेट मतपत्र व इवीएम से मतों की गणना के लिए लगाए जाने वाले टेबल के अनुसार चितरंगी में प्रत्येक प्रत्याशी को 17, सिंगरौली में 19 और देवसर में 18 एजेंट नियुक्त करना होगा। एजेंट नियुक्त करने के बाद उनका पास बनाने के लिए आरओ के पास मतदाता पहचान पत्र के साथ दो पासपोर्ट साइज फोटो 30 नवंबर तक जमा करने का निर्देश दिया गया है। इसके बाद किसी को कोई मौका नहीं दिया जाएगा।
फैक्ट फाइल
विधानसभा---मतदान केंद्र---टेबल---राउंड
चितरंगी---284---17---20
सिंगरौली---261---19---19
देवसर---270---18---20

ट्रेंडिंग वीडियो