script जिला पंचायत सदस्य बोले..., ग्रामीण वर्षों से दूषित पानी का कर रहे सेवन, आज अधिकारियों को पीना होगा | Member on strike in General Assembly meeting in Jila Panchayat | Patrika News

जिला पंचायत सदस्य बोले..., ग्रामीण वर्षों से दूषित पानी का कर रहे सेवन, आज अधिकारियों को पीना होगा

locationसिंगरौलीPublished: Jan 20, 2024 09:01:46 pm

Submitted by:

Ajeet shukla

सीइओ ने 15 दिवस के भीतर व्यवस्था बनाने का दिया आश्वासन
10 सूत्रीय एजेंडा पर हुई चर्चा, ज्यादातर को सदस्यों ने दी मंजूरी ...

Member on strike in General Assembly meeting in District Panchayat
Member on strike in General Assembly meeting in District Panchayat
सिंगरौली. जिला पंचायत की सामान्य सभा की बैठक में दोपहर करीब 12 बजे उस समय स्थिति असहज हो गई जब वार्ड क्रमांक एक के जिला पंचायत सदस्य सभागार में ही जमीन पर धरना में बैठ गए। वार्ड में पेयजल की समस्या को लेकर धरना पर बैठे सदस्य संदीप शाह गांव का पानी लेकर पहुंचे थे। उन्होंने कहा कि ग्रामीण इस पानी का सेवन वर्षों से कर रहे हैं। आज यहां के अधिकारियों को ये पानी पीना होगा। अधिकारी जब तक पानी नहीं पिएंगे, वे धरना से नहीं उठेंगे।
जिला पंचायत सभागार में बैठक शुरू होने के साथ ही जब वार्ड क्रमांक एक के सदस्य धरना पर बैठे तो वहां हंगामा मच गया। फिलहाल सीइओ जिला पंचायत गजेंद्र सिंह नागेश के आवश्वासन पर सदस्य ने धरना स्थगित किया। सीइओ ने आश्वासन दिया कि वे 15 दिवस के भीतर वहां पेयजल की व्यवस्था बनाएंगे। धरना स्थगित होने के बाद बैठक के 10 सूत्रीय एजेंडा पर चर्चा हुई। इनमें से कई बिन्दुओं पर सहमति बनी। बैठक में जिला पंचायत अध्यक्ष सोनम सिंह व उपाध्यक्ष अर्चना सिंह सहित अन्य सदस्य उपस्थित रहे।
वार्ड के आधा दर्जन गांवों में पेयजल समस्या
जिला पंचायत सदस्य का कहना है कि वार्ड क्रमांक एक के हर्रहवा, सिद्धिखुर्द, सिद्धिकला व झांझी टोला के जलस्रोत का पानी पीने योग्य नहीं है। सासन पॉवर के फ्लाईऐश डैम से होने वाले रिसाव के चलते जलस्रोत दूषित हो गया है। इसकी शिकायत पूर्व में ही जिला पंचायत के अधिकारियों को दी गई। शिकायत पर जांच के नाम पर केवल खानापूर्ति कर समस्या काे टाल दिया गया। यही वजह है कि सामान्य सभा की बैठक में धरना पर बैठना पड़ा। बताया कि इन गांवों की करीब 30 हजार आबादी दूषित पानी पीकर तमाम तरह की बीमारियों से पीडि़त हो रहे हैं।
रानी मॉची रॉक सेल्टर पेंटिंग का होगा संरक्षण
जिला पंचायत की सामान्य सभा की बैठक में पूर्व की कार्यवाही के पालन प्रतिवेदन पर चर्चा और अनुमोदन के अलावा 9 अन्य बिन्दुओं विमर्श किया गया। इनमें से कई पर सदस्यों के बीच सहमति बनी। बैठक में पर्यटन स्थलों को विकसित करने का मुद्दा प्रमुख रहा।
पर्यटन क्षेत्रों को विकसित करने के प्रस्ताव में निर्णय लिया गया कि बगदरा क्षेत्र में रानीमाची रॉक सेल्टर पेंटिंग को पर्यटन विकास कार्य में शामिल करते हुए उसका संरक्षण किया जाएगा। मप्र. टूरिज्म भवन का कार्य पूर्ण कराने व उसके संचालन पर भी सहमति बनी। ग्राम पंचायत चरगोड़ा के धुम्माडांड को पर्यटन क्षेत्र के रूप में विकसित करने का निर्णय हुआ।
इसके अलावा प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के कनेक्शनधारियों की क्षेत्रवार जानकारी ली गई और वंचित हितग्राहियों को योजना का लाभ दिलाने का निर्णय लिया गया। शासकीय उचित मूल्य की दुकानों का संचालन महिला स्व सहायता समूहों को दिए जाने पर भी चर्चा हुई। अध्यक्ष की अनुमति से कई अन्य बिन्दु भी चर्चा में आए, जिन्हें अगली बैठक में शामिल करने का निर्णय लिया गया।

ट्रेंडिंग वीडियो