अब प्लास्टिक में नहीं ऐसे उगाएं मशरूम, होगी चांदी ही चांदी

neha soni | Publish: Jun, 07 2019 05:42:32 PM (IST) Sri Ganganagar, Sri Ganganagar, Rajasthan, India

अब प्लास्टिक में नहीं ऐसे उगाएं मशरूम

श्रीगंगानगर।
मशरूम का उत्पादन मटके में...जी हां ये बात भले ही अजीब लगे लेकिन इसमें सफलता प्राप्त की है श्रीगंगानगर के कृषि अनुसंधान केंद्र के वैज्ञानिक डॉ. पवन कुमार पंवार ने। गर्मी के मौसम में कम खर्चे में ढींगरी मशरूम उत्पादन के लिए कुछ नया करने का विचार मन में आया तो मटका नजर आया, फिर क्या था अपने बीकानेर स्थित घर पर बने 15 गुणा 10 फीट के मशरूम घर में प्रयोग शुरू कर दिया।

 

READ MORE : राजस्थान में खुला राज्य का पहला महिला जिम, मिलेगी फ्री एंट्री, जानें क्या है खासियत

 

खर्चा कम, गुणवत्ता भी इक्कीस
इसके पूरी तरह सफल रहने से उत्साहित पंवार बताते हैं कि खर्चा तो कम रहा ही है, गुणवत्ता भी इक्कीस है। उन्होंने बताया कि मटके की विधि में पॉलीथिन थैली की जरूरत नहीं पड़ती, मटके का बाद में फिर इस्तेमाल किया जा सकता है।

 

READ MORE : अकाल राहत कार्य पर प्रभारी मंत्री डॉ. बीडी कल्ला ने ली बैठक

 

उत्पादन में हो रही वृद्धि
इसके साथ ही खर्चे में लगभग 25 प्रतिशत की बचत रही है, उत्पादन भी इतना ही अधिक रहा है। मशरूम प्रोजेक्ट के प्रभारी डॉ. एसके बैरवा के निर्देशन में ये नवाचार किया गया, इसमें कृषि विश्वविद्यालय के निदेशक डॉ. एसएल गोदारा और केंद्र के क्षेत्रीय निदेशक डॉ. उम्मेदसिंह शेखावत और डॉ. सुरेंद्रसिंह का सहयोग रहा।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned