पत्नी के 2 और युवकों से थे अवैध संबंध, फिर पति व दूसरे ब्वायफ्रेंड के साथ मिलकर पहले प्रेमी की कर दी हत्या

Murder in illegal relation: हत्या (Murder) के बाद पुलिस को गुमराह करने तीनों ने शव (Dead body) को कुएं में फेंका, फिर महिला के पति ने वारदात (Murder case) के तीसरे दिन खुद थाने पहुंचकर कुएं में शव होने की दी जानकारी

By: rampravesh vishwakarma

Published: 21 Nov 2020, 10:03 PM IST

सूरजपुर. ग्राम तिलसिवां में 15 अक्टूबर को हुए एक युवक के अंधे कत्ल (Blind murder) की गुत्थी सुलझाते हुए पुलिस ने पति-पत्नी सहित 3 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। मृतक का मुख्य आरोपी की पत्नी से 3-4 साल से अवैध संबंध (Illegal relation) था।

इसी बात को लेकर आरोपी ने पत्नी व उसके एक अन्य प्रेमी (Boyfriend) के साथ मिलकर उसके सिर पर डंडे से वार कर बेहोश कर दिया, फिर साक्ष्य छिपाने उसे कुएं में डाल दिया था। इससे उसकी मौत हो गई थी। यही नहीं, उसने वारदात के तीसरे दिन खुद थाने में पहुंचकर अपने कुएं में किसी की लाश (Dead body into the well) होने की बात बताई थी।

Read More: शारीरिक संबंध बनाने में अक्षम कॉलरीकर्मी पति की 20 साल छोटी तीसरी पत्नी ने प्रेमी से कराई हत्या, रिटायरमेंट से पहले बनाया ये खौफनाक प्लान


18 अक्टूबर को ग्राम तिलसिवां निवासी भानु प्रताप राजवाड़े के घर के पीछे बाड़ी में स्थित कुएं में केशवनगर निवासी 32 वर्षीय शंकर सोनवानी की लाश मिली थी। एसपी राजेश कुकरेजा के निर्देश पर पुलिस ने इस मामले की जांच की तो यह हत्या का मामला (Murder case) निकला।

मामले में पुलिस ने कार्रवाई करते हुए हत्या (Murder) के 3 आरोपी तिलसिवां निवासी 40 वर्षीय भानू प्रताप राजवाड़े, उसकी 28 वर्षीय पत्नी व ग्राम केशवनगर निवासी 28 वर्षीय संजय रवि पिता संतेलाल रवि को गिरफ्तार किया है। मामले में आरोपियों के खिलाफ धारा 302, 201, 120 बी व 34 के तहत कार्रवाई कर उन्हें जेल भेज दिया गया है।


अवैध संबंध के कारण हुई हत्या
विवेचना के दौरान पुलिस ने कॉल डिटेल खंगाला तो हत्या (Murder) की गुत्थी सुलझ गई। पुलिस ने बताया कि मृतक का भानू प्रताप की पत्नी से 3-4 साल से अवैध संबंध (Illegal relation) था। इसकी जानकारी भानु प्रताप के अलावा गांव वालों को भी थी जिससे काफी बदनामी हो रही थी।

घटना के 1 माह पूर्व मृतक शंकर द्वारा संजय रवि से फोन मांगकर भानू की पत्नी से बात की गई थी। इसके बाद से संजय का भी भानू की पत्नी के साथ अवैध संबंध (Illegal relation) हो गया था।

Read More: प्रेमी के साथ आपत्तिजनक हालत में थी मां, बेटा पहुंचा तो दोनों ने कर दी हत्या, ये साजिश हुई फेल

घटना दिनांक 15 अक्टूबर की रात मृतक शंकर व संजय शराब के नशे में भानू के घर गए। यहां शंकर, संजय, भानू व उसकी पत्नी ने साथ में शराब का सेवन किया।

इसी दौरान मृतक शौच जाने की बात कह कर बाड़ी की तरफ गया, तभी मौका पाकर तीनों ने मिलकर शंकर को रास्ते से हटाने की योजना बनाई। इसके बाद भानू प्रताप ने मौका पाकर शंकर के सिर पर डंडे से प्रहार कर दिया। (Murder in illegal relation)

इसके बाद तीनों ने साक्ष्य छिपाने की नीयत से मृतक को उठाकर कुएं में डाल दिया, इससे उसकी मौत हो गई। घटना के बाद भानू ने अपनी स्कूटी से संजय रवि को उसके घर केशवनगर पहुंचा दिया था।


कार्रवाई में ये रहे शामिल
कार्रवाई में थाना प्रभारी सूरजपुर धर्मानंद शुक्ला, थाना प्रभारी विश्रामपुर सुभाष कुजूर, चौकी प्रभारी बसदेई सुनीता भारद्वाज, एसआई रश्मि सिंह, एएसआई गजपति मिर्रे, प्रधान आरक्षक अदीप प्रताप सिंह, आरक्षक रामकुमार नायक, रावेन्द्र पाल, मोहम्मद अकरम, महिला आरक्षक शकुंतला कुजूर व सरिता साहू, सक्रिय रहे।

Show More
rampravesh vishwakarma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned