पाप ही दु:ख का कारण है-आचार्य विभव सागर

पाप ही दु:ख का कारण है-आचार्य विभव सागर
शान्तिनाथ दिगम्बर जैन मंदिर में वर्षायोग के दौरान धर्म सभा को सम्बोधित किया, आचार्य विभव सागर

Mohan Lal Kumawat | Updated: 12 Aug 2019, 12:03:45 PM (IST) Tonk, Tonk, Rajasthan, India

आचार्य विभव सागर ने कहा कि बिना श्रद्धा के कुछ भी कार्य नहीं होता, चाहे वह कार्य मिथ्यादृष्टि का हो या सम्यग् दृष्टि का। श्रद्धा तो दोनों में ही आवश्यक है। श्रावक की सम्यक श्रद्धा है और गृहस्थ की विवेक शुन्य श्रद्धा है।

निवाई. आचार्य विभव सागर Acharya Vibhav Sagar ने कहा कि बिना श्रद्धा के कुछ भी कार्य नहीं Nothing of faith
होता, चाहे वह कार्य मिथ्यादृष्टि Job misconception का हो या सम्यग् दृष्टि Joint vision का।

read more : अभिभावकों में भय: स्कूल भवन क्षतिग्रस्त,स्कूल जाने से डर रहे विद्याथी

श्रद्धा तो दोनों में ही आवश्यक Faith is necessary in both है। श्रावक की सम्यक श्रद्धा Due reverence to the cub है और गृहस्थ की विवेक शुन्य श्रद्धा Householder's conscience zero respect है।

 

आचार्य विभव सागर रविवार को शान्तिनाथ दिगम्बर जैन मंदिर में वर्षायोग के दौरान धर्म सभा को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि पुण्य का सभी साथी हो जाते हैं और पाप में कोई साथ नहीं होता है।

read more : बनास में खननकर्ताओं ने रपट के पाइप को जाली से कर दिया बंद

 

पाप ही दु:ख का कारण है। चातुर्मास कमेटी प्रवक्ता विमल जैन ने बताया कि धर्म सभा से पूर्व चारित्र चक्रवर्ती आचार्य शान्ति सागर की तस्वीर का चित्र अनावरण एवं दीप प्रज्वलन् विमल सोगानी एवं नन्दलाल चौधरी ने किया।

 

मंगलाचरण विमल सोगानी ने किया। उन्होंने बताया कि 14 अगस्त को सम्मेद शिखर मण्डल विधान एवं 15 अगस्त को श्रेंयासनाथ भगवान का निर्वाण महोत्सव मनाकर मोक्ष लड्डू चढाय़ा जाएगा।

read more : सालों से बंद जीएसएस के ताले खुले तो कार्यालय में भरा था बारिश का पानी, ग्रामीणों ने व्यवस्थापक को सुनाई खरी-खोटी
टोंक. सीतारामजी मंदिर में चल रहे 10 दिवसीय झूला महोत्सव का समापन रविवार को हुआ। पूर्णाहुति कार्यक्रम में ठाकुरजी की झांकी सजाई गई। भजन रचियता भगवान दास बोहरा सहित कलाकारों और लोगों का सम्मान किया गया।

 

इसमें भजन गायक धनराज साहू, मोहन सोनी रामसेवक, राजेंद्र साहू, केशव पारीक, कृष्णा पारीक, नवल साहू, श्याम शर्मा, त्रिलोक साहू, मोहम्मद अहमद, रामस्वरूप आदि लोगों ने भजन पेश किए। आरती कर प्रसाद वितरण किया गया। इस दौरान माधो साहू, राम अवतार बाथरा, सूरज साहू, जगदीश पटेल, महावीर साहू, दिनेश चौरसिया, कैलाश शर्मा, रोहितावश कुमावत आदि मौजूद थे।

 

read more : भगवान के जयकारों से गूंजे मंदिर,11 किलो का चढ़ाया निर्वाण लड्डू
रोगियों की जांच की
टोंक. दे हाथ फाउंडेशन की ओर से श्रवण हॉस्पिटल में रविवार को नि:शुल्क परामर्श व जांच शिविर का आयोजन किया गया। हॉस्पिटल निदेशक डा. मीनाक्षी वर्मा ने बताया कि शिविर में डा. दिनेश, डा. राजेश एवं डा. मीनाक्षी ने करीब 2000 रोगियों की नि:शुल्क जांच की। फाउंडेशन की चेयरमैन कोमल वर्मा ने बताया कि फाउंडेशन विभिन्न शहरों में कार्य करता है। अब 19 अगस्त को रक्तदान शिविर लगेगा।

 

 

 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned