आडवाणी, गडकरी ने तत्काल कुर्सी छोड़ी फिर अमित शाह क्यों नहीं छोड़ रहे?

santosh trivedi

Publish: Oct, 13 2017 08:46:53 (IST) | Updated: Oct, 13 2017 08:49:11 (IST)

Udaipur, Rajasthan, India
आडवाणी, गडकरी ने तत्काल कुर्सी छोड़ी फिर अमित शाह क्यों नहीं छोड़ रहे?

अमित शाह बेटे की कंपनी में मोदी सरकार बनने के बाद टर्न ओवर 16 हजार गुणा बढ़ोतरी के मामले में नैतिकता के आधार पर इस्तीफा क्यों नहीं दे रहे?

उदयपुर। अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के राष्ट्रीय प्रवक्ता पवन खेड़ा ने कहा कि भाजपा हो या कांग्रेस के राष्ट्रीय नेता या मंत्री, जैसे ही कोई आरोप लगे तो तत्काल इस्तीफे दे दिए ताकि जांच प्रभावित नहीं हो। लेकिन नरेन्द्र मोदी सरकार में उनकी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह बेटे जय शाह की कंपनी में मोदी सरकार बनने के बाद टर्न ओवर 16 हजार गुणा बढ़ोतरी के मामले में नैतिकता के आधार पर इस्तीफा क्यों नहीं दे रहे?

 

यहां पत्रकारों से बातचीत में खेड़ा ने कहा कि वे इस्तीफा नहीं दे रहे तो पीएम इस मामले की दो पदासीन न्यायधीशों का कमीशन बनाकर जांच कराए। भाजपा और मोदी को नैतिकता के आधार पर एक बार शाह से इस्तीफा लेकर इस मामले की जांच करानी चाहिए। उन्होंने कहा कि पीएम बनने से पहले मोदी कहते थे कि न खाऊंगा, ना खाने दूंगा। अब शाह के बेटे की कंपनी के एकाएक इस सरकार के आने के बाद इतना बड़ा टर्न ओवर बढऩे के मामले में सरकार व भाजपा चुप क्यों है? भाजपा और केन्द्र सरकार को देश की जनता को जवाब देना चाहिए।

 

इसका मतलब हमारे नेता व मंत्रियों ने गलती की
खेड़ा ने कहा कि कांग्रेस के किसी भी नेता या मंत्री पर जब-जब भी आरोप लगे तो बिना तनिक सोचे सबसे पहले इस्तीफा दिया ताकि जांच प्रभावित नहीं हो। ठीक इसी तरह भाजपा नेता लालकृष्ण आड़वाणी, नितिन गडकरी , बंगारू लक्ष्मण तक ने इस्तीफा दे दिया था। इसका मतलब कांग्रेस के शासन में आरोप लगने पर इस्तीफा देने वाले नेताओं व मंत्रियों ने गलती कर दी थी। इस दौरान शहर कांग्रेस अध्यक्ष गोपाल शर्मा, पीसीसी सचिव पंकज शर्मा आदि उपस्थित थे।

 

खेड़ा ने इन सात सवालों के जवाब मांगे
1. टेंपल इंटरप्राइजेज की कितनी सम्पत्तियां थी, कितने कर्मचारी थे, पैसा कहा से आ रहा था?
2. सोलह हजार गुणा कारोबार बढऩे के बाद एकाएक अक्टूबर 2016 में इसे नुकसान दिखाकर बंद करने की नौबत क्यों आ गई?
3. कंपनी के खातों में 51 करोड़ रुपए विदेशों से आना दर्शाया गया ऐसे में सरकारी एजेंसी के कान क्यों नहीं खड़े हुए, पूछताछ क्यों नहीं की?
4. कंपनी को 15.78 करोड़ रुपए का अनसिक्योर्ड लोन देने के क्या कारण थे?
5. कुसुम फिनसर्व प्रा. लि. 6.20 करोड़ की सम्पत्ति गिरवी रख 25 करोड़ का ऋण दे दिया, क्या आरबीआई में ऐसे नियम है कि इस प्रकार कम सम्पत्ति पर बड़ी राशि का लोन दे दिया जाए।
6. इस कंपनी ने पवन चक्की द्वारा बिजली उत्पादन का प्लांट रतलाम में लगा दिया, ऐसे कौनसे मापदंड है जिससे शेयर व आयात-निर्यात करने वाली कंपनी को सरकार ने बिना अनुभव के बिजली उत्पादन का काम दे दिया?
7. केन्द्रीय मंत्री पीयूष गोयल एक निजी व्यक्ति के बचाव में अकारण क्यों खड़े हुए?

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned