scriptUdaipur Can Become India First Wetland City, Center Sent Proposal To Ramsar | राजस्थान का यह जिला बन सकता है भारत का पहला वेटलैंड सिटी, केंद्र ने रामसर को भेजा प्रस्ताव | Patrika News

राजस्थान का यह जिला बन सकता है भारत का पहला वेटलैंड सिटी, केंद्र ने रामसर को भेजा प्रस्ताव

locationउदयपुरPublished: Jan 05, 2024 11:14:33 am

Submitted by:

Nupur Sharma

India First Wetland City: झीलों का शहर उदयपुर भारत का पहला वेटलैंड सिटी बन सकता है। इस दिशा में उदयपुर एक कदम और आगे बढ़ गया है। केन्द्र सरकार ने राज्य सरकार की ओर से भेजे गए प्रस्ताव पर तीन शहरों के साथ नॉमिनेशन रामसर को भिजवाए हैं।

udaipur_.jpg

India First Wetland City: झीलों का शहर उदयपुर भारत का पहला वेटलैंड सिटी बन सकता है। इस दिशा में उदयपुर एक कदम और आगे बढ़ गया है। केन्द्र सरकार ने राज्य सरकार की ओर से भेजे गए प्रस्ताव पर तीन शहरों के साथ नॉमिनेशन रामसर को भिजवाए हैं। अगर यह मंजूर होते हैं तो उदयपुर की जगप्रसिद्ध झीलें संरक्षित होगी और अवैध गतिविधियों पर लगाम लगेगी। झीलों के किनारे निर्माण पर रोक लगेगी। इसके अलावा इस शहर की पर्यटन के साथ अंतरराष्ट्रीय स्तर पर वेटलैंड सिटी के रूप में अलग से पहचान बनेगी। वेटलैंड सिटी के नॉमिनेशन के बारे में केन्द्रीय मंत्री भूपेेन्द्र यादव ने ट्वीट कर जानकारी दी है।

यह भी पढ़ें

राजस्थान की 500 मेवाड़ी पाग जाएगी अयोध्या, पगड़ियों पर लिखा जय श्री राम

यूं है उदयपुर की खासियत
राजस्थान में उदयपुर झीलों की नगरी के नाम से जाना जाता है। यहां फतहसागर, पिछोला, रंगसागर, स्वरूपसागर, उदयसागर सहित कई झीलें है। यह सभी झीलें एक दूसरे लिंक है। इसीलिए पर्यावरण एवं वन विभाग ने अंतरराष्ट्रीय महत्व के लिए रामसर कन्वेंशन द्वारा निर्धारित मापदंडों के आधार पर उदयपुर को चुना है। केन्द्र सरकार की राष्ट्रीय झील संरक्षण योजना ने भी इसके लिए प्रस्ताव भेजे थे।

यह होगा फायदा
- उदयपुर को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर नई पहचान मिलेगी
- उदयपुर में पर्यटन को और अधिक बढ़ावा मिलेगा
- झील संरक्षण को लेकर गतिविधियां बढ़ेगी
- झीलों में होने वाली अवैध गतिविधियां व निर्माण पर रोक लगेगी
- झीलें प्रदूषणमुक्त होगी

यह भी पढ़ें

Ira-Nupur Wedding: बेटी इरा की डेस्टिनेशन वेडिंग के लिए आज लेकसिटी पहुंचेंगे आमिर खान

इनका कहना...
वेटलैंड को लेकर इंटरनेशनल लेवल पर टैग मिलता है। दो माह पहले उदयपुर में कॉन्फ्रेंस करके सुझाव मांगे गए थे। इसके आधार पर प्रस्ताव तैयार करके राज्य स्तर पर भेजा गया। राज्य से प्रस्ताव केंद्र सरकार को गया और अब वहां से अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भेजा गया है। हम खुशनसीब हैं कि वेटलैंड वाले चुनिंदा क्षेत्रों में उदयपुर शामिल होगा।-अरविंद पोसवाल, कलक्टर, उदयपुर

उदयपुर के झील-तालाब वेटलैंड की श्रेणी में आते हैं। इसका प्रस्ताव भेजा गया था। रामसर साइट में दर्ज होने पर इंटरनेशनल रिकग्नेशन मिल जाता है। ऐसे में फंडिंग बढ़ जाती है, वहीं झीलों को लेकर मोनिटरिंग भी बढ़ जाती है।-आरके सिंह, सीसीएफ, उदयपुर

ट्रेंडिंग वीडियो