script डिवाइडर से टकराया तेज रफ्तार ऑटो रिक्शा, रेलवे कर्मचारी की मौत, छठ के पहले परिवार पर टूटा दुःखों का पहाड़ | Speeding auto rickshaw collides with divider railway employee dies Accident | Patrika News

डिवाइडर से टकराया तेज रफ्तार ऑटो रिक्शा, रेलवे कर्मचारी की मौत, छठ के पहले परिवार पर टूटा दुःखों का पहाड़

locationवाराणसीPublished: Nov 18, 2023 10:26:39 am

Submitted by:

SAIYED FAIZ

वाराणसी के आदमपुर थानाक्षेत्र में राजघाट इलाके में तेज रफ्तार ऑटो रिक्शा के डिवाइडर से टकराने से एक वयक्ति की मौत हो गई। वहीं कई लोग घायल हो गए। ऑटो रिक्शा मुगलसराय से वाराणसी कैंट स्टेशन की तरफ जा रहा था। घटना में मृत व्यक्ति मऊ के रहने वाले हैं और छठ पूजा पर घर आ रहे थे। उनकी मौत से परिजनों में कोहराम मचा हुआ है।

Road accident in Varanasi railway worker died
वाराणसी में सड़क हादसा, रेलवे कर्मी की हुई मौत
वाराणसी। आदमपुर थानाक्षेत्र के राजघाट पुलिस बूथ के पास तेज रफ्तार ऑटो रिक्शा डिवाइडर से टकराकर पलट गया। इस घटना में ऑटो में सवार रेलवे कर्मचारी की मौत हो गई वहीं ऑटो ड्राइवर और 4 अन्य घायल हो गए जिसमे एक महिला को अधिक चोटें आई है। घटना की सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने सभी को कबीरचौरा अस्पताल पहुंचाया जहां डॉक्टर्स ने रेलवे कर्मचारी हरेंद्र नाथ यादव (50) की मौके पर मौत हो गई। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर मोर्चरी में रखवाया और परिजनों को सूचना दी। मौके पर पहुंचे मृतक के लड़कों का रो-रो के बुरा हाल था उन्होंने बताया कि पिता जी छठ पूजा के लिए घर आ रहे थे।
तेज रफ्तार ऑटो रिक्शा अनियंत्रित होकर डिवाइडर से टकराया

प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि एक 15 से 16 साल का नाबालिग ऑटो ड्राइवर तेज रफ्तार ऑटो लेकर राजघाट पुल से भदऊ चुंगी की तरफ बढ़ा ही था कि टार्न पर डिवाइडर से टकराकर पलट गया। अंदर बैठी सवारियों में चीख-पुकार मच गई। फ़ौरन स्थानीय लोगों ने पुलिस को सूचना दी जिसपर पुलिस बूथ से पहुंची पुलिस ने स्थानीय लोगों की मदद से सभी को अस्पताल पहुंचाया। जहां डॉक्टर्स ने एक व्यक्ति को मृत घोषित कर दिया। वहीं दो लोगों को उनके परिजन फोन के बाद प्राइवेट अस्पताल में ले गए।
झारखंड में रेलवे में तैनात कर्मी की हुई मौत

इस घटना के बाद कबीरचौरा अस्पताल भेजे गए घायलों में से हरेंद्र नाथ यादव (50 ) को डॉक्टर्स ने मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर मोर्चरी में रखवाया और परिजनों को सूचना दी जिसपर मऊ से उनके बेटे अस्पताल पहुंचे। परिजनों को जब यहां आकर पता चला कि पिता की मौत हो गई है तो उनमे कोहराम मच गया। बेटे ने बताया कि पिता रिटायर्ड फौजी हैं और अब रेलवे में काम करते हैं। छठ पूजा पर घर आ रहे थे। मुग़लसराय से वाराणसी सिटी स्टेशन जा रहे थे जहां से उनका मऊ के लिए टिकट बुक था।
महिला की टूटी हड्डी
इस घटना में जौनपुर की रहने वाली संधया श्रीवास्तव (30) की जांघ की हड्डी टूट गई है वहीं मऊ के ही रहने वाले (21) बबिन की पैर की हड्डी में चोट आई है। यातायात माह में नाबालिग के ऑटो रिक्शा चलाने का मामला चर्चा का विषय बना हुआ हिअ, फिलहाल इस मामले में पुलिस ने अभी कोई बयान नहीं जारी किया है।

ट्रेंडिंग वीडियो