scriptEngland modern day cavewoman hunt animals and makes tools from bones | ये महिला चूहे-कबूतर सभी जानवरों को मारकर खाती है, हड्डियों से बनाती है हथियार | Patrika News

ये महिला चूहे-कबूतर सभी जानवरों को मारकर खाती है, हड्डियों से बनाती है हथियार

आधुनिक युग की ये आदिमानव महिला (Modern Cavewoman) इंग्लैंड के एसेक्स (Essex, England) की रहने वाली है। इस महिला का नाम सारा डे है और इनकी उम्र 34 वर्ष है। ये दिखने में आम महिलाओं जैसी ही लगती हैं बस रहन सहन इनका सबसे अलग है।

नई दिल्ली

Published: December 22, 2021 10:21:14 am

आपने इतिहास के किताबों में आदिमानव (Caveman) के जीवन के बारे में पढ़ा होगा। आदिमानव जंगल में शिकार करते हैं, और जानवरों की चमड़ी से कपड़े और हड्डियों से औजार बनाते थे। ये तो रही इतिहास की बात, परंतु आज हम आपको एक ऐसी महिला के बारे में बताएंगे जो आदिमानवों की तरह अपना जीवन व्यतीत करना पसंद करती है। ये महिला न केवल जानवरों का शिकार करती है, बल्कि हड्डियों से हथियार भी बनाती है।
weapon.jpg

जानवरों का करती है शिकार

आधुनिक युग की ये आदिमानव महिला (Modern Cavewoman) इंग्लैंड के एसेक्स (Essex, England) की रहने वाली है। इस महिला का नाम सारा डे है और इनकी उम्र 34 वर्ष है। ये दिखने में आम महिलाओं जैसी ही लगती हैं बस रहन-सहन इनका सबसे अलग है।

पेशे से सारा इतिहास की शिक्षिका हैं जो बच्चों को स्कूल में इतिहास पढ़ाती हैं और उन्हें जीवित रहने की कुशलता भी सिखाती हैं। अन्य इतिहास के शिक्षकों से सारा काफी अलग हैं क्योंकि ये बच्चों को किताबी ज्ञान तक सीमित नहीं रखती, बल्कि खुद शिकार करके उन्हें प्रैक्टिकल भी दिखाती हैं। इसके साथ ही सारा जंगली इलाकों में भी अपना समय बिताती हैं और सड़क पर जानवरों का शिकार भी करती हैं। शिकार कर उन्हें अपना भोजन बनाने के साथ ही सारा उनकी हड्डियों से औजार भी बनाती हैं।

हड्डियों से बनाया औजार

एक अंग्रेजी मीडिया को दिए अपने एक इंटरव्यू में सारा ने बताया था कि 'हफ्ते में एक बार तो वो सड़क पर शिकार करती हैं, परंतु हर बार उन्हें शिकार मिले इसकी उम्मीद कम ही होती है।' सारा कहती हैं कि वो चूहे, बिल्ली, गिलहरी, कबूतर और हिरण जैसे जानवरों का शिकार कर उन्हें पकाकर खाती हैं। इन जानवरों की चमड़ी और हड्डियों का इस्तेमाल अपने अन्य कामों में करती हैं।

सारा डे आगे बताती हैं कि सर्दियों के समय में उनके फ्रीज़र में हिरण, गिलहरी जैसे जीव पड़े रहते हैं। उन्होंने बताया कि 'चूहे का मांस गिलहरी के मांस की तरह मीठा होता है, परंतु उससे अच्छा होता है।' हड्डियों का इस्तेमाल वो हथियार बनाने के लिए करती हैं। यही नहीं हिरण की चमड़ी से उन्होंने अपने लिए स्लीपिंग बैग भी बनाया है। इसके अलावा वो इनसे कपड़े भी बनाती हैं।


शहरी जीवन से नहीं अनजान

सारा ने बताया है कि ऐसा नहीं है कि वो शहरी जीवन से अनजान हैं। वो सुपरमार्केट में शॉपिंग करने भी जाती हैं। शहर में उनका अपना एक घर भी है, परंतु उन्हें जंगली इलाकों में रहना और कैम्पिंग करना अधिक पसंद है। सारा ने बताया कि बचपन से ही उन्हें आदिमानवों जैसा जीवन गुजराने का शौक था।

सारा डे का यूं आदिमानव का जीवन जीना सभी को हैरान करता है, परंतु शौक एक ऐसी चीज है जो कुछ भी करा सकता है।

यह भी पढ़ें: माँ ने कूड़े में फेंक दिया बेटे का लैपटॉप, एक झटके में बेटे के 3 हजार करोड़ तबाह, डिप्रेशन में चला गया युवक

यह भी पढ़ें: Video: भालू की रूट कनाल सर्जरी, देखें कैसे डॉक्टर ने निकाल दिया उसका टूटा हुआ दांत

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन नाम वाली लड़कियां चमका सकती हैं ससुराल वालों की किस्मत, होती हैं भाग्यशालीजब हनीमून पर ताहिरा का ब्रेस्ट मिल्क पी गए थे आयुष्मान खुराना, बताया था पौष्टिकIndian Railways : अब ट्रेन में यात्रा करना मुश्किल, रेलवे ने जारी की नयी गाइडलाइन, ज़रूर पढ़ें ये नियमधन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोग, देखें क्या आप भी हैं इनमें शामिलइन 4 राशि की लड़कियों के सबसे ज्यादा दीवाने माने जाते हैं लड़के, पति के दिल पर करती हैं राजशेखावाटी सहित राजस्थान के 12 जिलों में होगी बरसातदिल्ली-एनसीआर में बनेंगे छह नए मेट्रो कॉरिडोर, जानिए पूरी प्लानिंगयदि ये रत्न कर जाए सूट तो 30 दिनों के अंदर दिखा देता है अपना कमाल, इन राशियों के लिए सबसे शुभ

बड़ी खबरें

Azadi Ka Amrit Mahotsav में बोले पीएम मोदी- ये ज्ञान, शोध और इनोवेशन का वक्तपाकिस्तान के लाहौर में जोरदार बम धमाका, तीन की नौत, कई घायलNEET UG PG Counselling 2021: सुप्रीम कोर्ट ने कहा- नीट में OBC आरक्षण देने का फैसला सही, सामाजिक न्‍याय के लिए आरक्षण जरूरीटोंगा ज्वालामुखी विस्फोट का भारत पर भी पड़ सकता है प्रभाव! जानिए सबसे पहले कहां दिखा असरCorona cases in India: कोरोना ने तोड़ा 8 महीने का रिकॉर्ड; 24 घंटे में 3 लाख से ज्यादा कोरोना के नए केस, मौत का आंकड़ा 450 के पारराहुल गांधी से लेकर गहलोत तक कांग्रेस के नेता देश के विपरीत भाषा बोलते हैं : पूनियांश्रीलंकाई नौसेना जहाज की भारतीय मछुआरों के नौका से टक्कर, सात मछुआरे बाल बाल बचेटीआई-लेडी कॉन्स्टेबल की लव स्टोरी से विभाग में हड़कंप, दो बच्चों का पिता है टीआई
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.