ऐसी ड्रेस पहनकर स्कूल गई छात्रा, वापस लौटना पड़ा घर, टीचर्स ने कहा- ध्यान होगा भंग

अक्सर देखा जाता है लड़कियों के पहनावे को लेकर अजीबोगरीब फरमान सुनाए जाते है।
ऐसी ही एक घटना में एक छात्रा को ड्रेस के कारण स्कूल से घर भेजा दिया गया।

By: Shaitan Prajapat

Updated: 02 Mar 2021, 03:39 PM IST

नई दिल्ली। आज विज्ञान ने बहुत तरक्की कर ली है। हर क्षेत्र में असंभव को भी कर संभव कर दिखलाया है। इतना सब कुछ होने के बाद भी आज कई जगह रूढ़िवादी विचारधारा कायम है। लड़कियों और महिलाओं को लेकर दुनियाभर में कई प्रकार के नियम और पाबंदी लगा रखी है। अक्सर देखा जाता है इनके पहनावे को लेकर अजीबोगरीब फरमान सुनाए जाते है। इसी कड़ी में आज आपको एक ऐसी खबर बताने जा रहे हैं जिसको जानकर आप दंग रह जाएंगे। कनाडा में एक नाबालिग छात्रा ने स्कूल में एक ऐसी ड्रेस पहन कर गई जिसको देखने के बाद स्कूल प्रशासन ने उसको वापस घर भेज दिया। स्कूल ने कहा कि छात्रा ने जो ड्रेस पहनी थी वह ठीक नहीं थी।


छात्रा को स्कूल से घर भेज दिया
एक रिपोर्ट के अनुसार, छात्रा ने एक लंबी आस्तीन वाली सफेद रंग की ड्रेस पहन रखी थी। इसकी लंबाई घुटने तक थी। लेकिन महिला टीचर के अनुसार वह पोशाक ठीक नहीं थी। यह पुरुष टीचर को अजीब महसूस करा सकती है। इसलिए उन्होंने 17 साल की नाबालिग छात्रा को क्लास बाहर निकालकर प्रिंसिपल के पास ले गई। प्रिंसिपल ने भी टीचर की बात पर सहमति जताते हुए छात्रा की ड्रेस को अनुचित करार दिया। इस ड्रेस के कारण छात्रा को घर लौटना पड़ा।

 

यह भी पढ़ें :— सबसे महंगी चाय! 1000 रुपए मिलती है सिर्फ एक कप चाय, दूर—दूर से आते हैं लोग

छात्रा के घरवालों और दोस्तों ने उठाई आवाज
छात्रा ने घर जाकर स्कूल के टीचर पर प्रिंसिपल की बात अपने परिवारवालों को बताई। इस घटना पर नाराजगी जताते हुए छात्रा के घर वालों के साथ उनके दोस्तों ने स्कूल के रवैया के खिलाफ आवाज उठाई। लड़की के पिता की शिकायत के बार प्रिंसिपल ने बताया कि जिस स्कूल में कुछ शिक्षक थोड़े पुराने विचारों है। उनको लगा की स्कूल में लड़कियों को ऐसी ड्रेस पहनकर नहीं आना चाहिए।

फेसबुक पर लिखा पोस्ट
लड़की के पिता विल्सन ने इस घटना को लेकर फेसबुक पर लिखकर अपना पीड़ा को बताया है। उन्होंने लिखा, आज, मेरी बेटी को कपड़े पहनने के लिए घर भेजा गया था। जिससे उसकी महिला शिक्षक और उसके पुरुष शिक्षक असहज महसूस कर रहे थे। उन्होंने कहा कि मैं इस घटना से काफी निराश और आहत हूं। 2021 में भी ऐसी सोच करने वाले लोग है, यह बहुत दुखत है।

Show More
Shaitan Prajapat
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned