scriptIndia and Iran talk about development on Chabahar port | भारत और ईरान में हुई बातचीत, चाबहार बंदरगाह पर स्थापित किया जा सकता है दीर्घकालिक सहयोग ढांचा | Patrika News

भारत और ईरान में हुई बातचीत, चाबहार बंदरगाह पर स्थापित किया जा सकता है दीर्घकालिक सहयोग ढांचा

locationनई दिल्लीPublished: Jan 16, 2024 11:38:22 am

Submitted by:

Tanay Mishra

India-Iran Big Talks: भारतीय विदेश मंत्री एस. जयशंकर इस समय ईरान के दौरे पर हैं। इस दौरान उन्होंने ईरानी राष्ट्रपति इब्राहिम रायसी, विदेश मंत्री होसैन अमीर-अब्‍दुल्‍लाह समेत अन्य प्रमुख ईरानी नेताओं से भी मुलाकात की और चाबहार बंदरगाह से जुड़े एक बड़े विषय पर चर्चा की।

jaishankar_with_amirabdollahian.jpg
S. Jaishankar with H. Amirabdollahian

भारत के विदेश मंत्री एस. जयशंकर (S. Jaishankar) इस समय ईरान दौरे पर हैं। इस दौरे के दौरान जयशंकर ईरानी राष्ट्रपति इब्राहिम रायसी (Ebrahim Raisi), विदेश मंत्री होसैन अमीर-अब्दुल्लाहियन (Hossein Amir-Abdollahian) समेत दूसरे मुख्य ईरानी नेताओं से भी मिले। ईरानी राजधानी तेहरान (Tehran) में भारत और ईरान के विदेश मंत्रियों के बीच हाई लेवल मीटिंग भी हुई और इस मीटिंग के दौरान कई अहम विषयों पर चर्चा हुई। भारत और ईरान के विदेश मंत्रियों के बीच चाबहार बंदरगाह (Chabahar Port) के बारे में भी चर्चा हुई।


चाबहार बंदरगाह के विषय में क्या हुई बातचीत?

जयशंकर और अब्दुल्लाहियन के बीच रणनीतिक रूप से सबसे अहम चाबहार बंदरगाह और उत्तर-दक्षिण कॉन्टैक्ट प्रोजेक्ट में भारत की भागीदारी के लिए रूपरेखा पर बातचीत हुई। इस मुलाकात के दौरान इलाके में नौवहन से जुड़े खतरों के बारे में भी दोनों लीडरों के बीच चर्चा हुई। जयशंकर ने चाबहार बंदरगाह जैसी परियोजनाओं को लेकर भारत की प्रतिबद्धता को दोहराया। साथ ही दोनों देशों के विदेश मंत्रियों ने चाबहार बंदरगाह पर लंबे वक्त के लिए सहयोग ढांचा स्थापित करने पर भी बातचीत की जो काफी सकारात्मक रही।

ट्रेंडिंग वीडियो