Pink Belt Mission की लड़की धाकड़ है... World Record बनकर रहेगा, देखें वीडियो

-महिलाओं ने मशाल जला अंधेरे को मिटाने का लिया संकल्प

-पिंक बेल्ट के 19 फरवरी के कार्यक्रम में पहुंचने का आह्वान

By: Bhanu Pratap

Published: 16 Feb 2020, 11:44 AM IST

आगरा। शहर की महिलाओं ने पिंक बेल्ट मिशन (Pink Belt Mission) के 19 फरवरी को एकलव्य स्पोर्टस स्टेडियम (Eklavya sports stadium) में प्रातः आठ बजे से आयोजित गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड (Guinness Book of World Records ) कार्यक्रम के लिए मशाल जुलूस निकाला। यह मशाल जुलूस सूरसदन से प्रारंभ होकर कॉसमॉस माल तक पहुंचा। वहां जुलूस एक सभा के रूप में परिवर्तित हो गया। यहां वक्ताओं ने महिलाओं के खिलाफ होने वाले अत्याचारों के लिए अपनी आवाज बुलंद की और एकलव्य स्पोर्टस स्टेडियम में आयोजित पिंक बेल्ट प्रशिक्षण कार्यक्रम के माध्यम से आगरा की नारी शक्ति को अपनी आवाज बुलंद करने का आह्वान किया।

यह भी पढ़ें

अगर आप 10-19 साल के हैं तो District Hospital के किशोर-किशोरी क्लीनिक जरूर जाएं

जबर्दस्त जोश

पिंक बेल्ट मिशन के समन्वयक रवि जैन ने बताया कि मशाल जुलूस का आयोजन आगरा की विभिन्न महिला संगठनों ने पिंक बेल्ट मिशन के कार्यक्रम के लिए महिलाओं के बीच जनजागरण के लिए किया था। मशाल जुलूस में विभिन्न महिला संगठनों की महिलाएं भागीदारी करने के लिए सूरसदन पर एकत्रिक हुईं। महिलाओं में अपनी आजादी के प्रति उबाल और जबरदस्त जोश दिखायी दिया। महिलाओं ने इस दौरान नारे भी लगाये कि अबला नारी को अब सबला बनाना है, जुल्म और अत्याचारों से मुक्त कराना है। 19 फरवरी को एकलव्य स्टेडियम आयेंगे, महिलाओं के लिए वल्र्ड रिकॉर्ड बनायेंगे।

यह भी पढ़ें

US President Donald Trump के दौरे से सरकार ‘भुतहा शहर’ का कलंक मिटाएगी, 25 हजार विद्यार्थी करेंगे स्वागत

Aparna rajawat

अपने अधिकारों और सुरक्षा के प्रति सजग

जुलूस में सबसे आगे महिलाएं बैनर लेकर चल रहीं थी, जिस पर अंधेरे से उजाले की और का स्लोगन लिखा हुआ था। इसके बाद मशाल लेकर महिलाए क्रमबद्ध थीं और महिला आजादी से जुड़े नारे लगाते हुए कॉसमॉस पहुंचीं। यहां जुलूस में शामिल महिलाओं का कॉसमॉस माल की तरफ से अशोका ऑटो की चेयरपर्सन डॉ. रंजना बंसल द्वारा स्वागत किया गया। कॉसमॉस माल पर जुलूस एक सभा के रूप में परिवर्तित हो गया। जुलूस का नेतृत्व ड़. वत्सला प्रभाकर, पूनम सचदेवा ने किया। सभा में वक्ताओं में मानसी चंद्रा, वत्सला प्रभाकर, रंजना बंसल, पूनम सचदेवा, शीला बहल, मोनिका गोयल, वंदना प्रभाकर, आगरा कॉलेज की रीता निगम, बीडी जैन विद्यालय की सुमन अग्रवाल आदि ने कहा कि महिला आजादी के लिए महिलाओं द्वारा उठाई गई ये मशाल सिर्फ मशाल जुलूस तक सीमित नहीं रहेगी। अपितु इस मशाल की रोशनी से महिलाएं अपने सुरक्षा अधिकारों एवं कर्तव्य के प्रति सजग होंगी। उन्होंने कहा कि 19 फरवरी को एकलव्य स्पोर्टस स्टेडियम में आयोजित पिंक बेल्ट मिशन का कार्यक्रम आगरा शहर की प्रत्येक नारी का कार्यक्रम है। कार्यक्रम में महिलाएं सिर्फ शिरकत नहीं करेंगी अपितु ये भारत की महिला आजादी की पहली अगंड़ाई होगी।

यह भी पढ़ें

आगरा से फ्लाइट शुरू करेगी इंडिगो

Aparna rajawat

लड़की धाकड़ है पर नृत्य

अपर्णा राजावत ने कहा कि महिला संगठनों द्वारा निकाले गये इस मशाल जुलूस एवं उनके सम्मान से वह अभिभूत हैं। उन्होंने सभी महिला संगठनों से 19 फरवरी को वल्र्ड रिकॉर्ड बनाने के लिए अधिक से अधिक संख्या में पहुंचने की अपील की। सभा के बाद कार्यक्रम स्थल पर रंगारंग कार्यक्रम में जोशीले गीतों की धुनों पर महिलाओं ने नृत्य कर अपने जोश और उत्साह को प्रकट किया। लड़की धाकड़ है.. गीत पर छोरियां खूब झूमीं। यहां तक कि अपर्णा राजावत भी खुद को रोक नहीं सकीं। कार्यक्रम में पर पिंक बेल्ट मिशन की मीडिया प्रभारी पायल चौहान, नेहा चित्तोड़िया, मेघा चित्तोडिया, कंचन, ज्योति सिंह, आशा सिंह, डिम्पल, कंचन भीमसेन आदि भी उपस्थित रहे।

Show More
Bhanu Pratap
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned