scriptCLAT Exam: क्लैट पेपर पैटर्न में बदलाव, दो घंटे में हल करने होंगे 120 प्रश्न, एक सवाल के लिए मिलेगा एक अंक | CLAT Exam Pattern Revised, CLAT Syllabus | Patrika News

CLAT Exam: क्लैट पेपर पैटर्न में बदलाव, दो घंटे में हल करने होंगे 120 प्रश्न, एक सवाल के लिए मिलेगा एक अंक

locationअजमेरPublished: Nov 18, 2023 11:01:54 am

Submitted by:

santosh Trivedi

CLAT Exam Pattern: कंसोर्टियम ऑफ नेशनल लॉ यूनिवर्सिटीज ने संयुक्त विधि प्रवेश परीक्षा (क्लैट) के पेपर पैटर्न में बदलाव किए हैं। अब तक प्रवेश परीक्षा में 120 मिनट के अंदर छात्र-छात्राओं को 150 प्रश्न हल करने होते थे। 3 दिसम्बर को होने वाली परीक्षा में 150 की जगह 120 प्रश्न पूछे जाएंगे।

rpsc_ras_pre_exam_date.jpg

CLAT Exam Pattern: कंसोर्टियम ऑफ नेशनल लॉ यूनिवर्सिटीज ने संयुक्त विधि प्रवेश परीक्षा (क्लैट) के पेपर पैटर्न में बदलाव किए हैं। अब तक प्रवेश परीक्षा में 120 मिनट के अंदर छात्र-छात्राओं को 150 प्रश्न हल करने होते थे। 3 दिसम्बर को होने वाली परीक्षा में 150 की जगह 120 प्रश्न पूछे जाएंगे। पेपर में अंग्रेजी भाषा, सामान्य ज्ञान, कानूनी तर्क, तार्किक तर्क और मात्रात्मक तकनीक सहित सम-सामायिकी के 120 प्रश्न 120 मिनट में हल करने होंगे।


हर सवाल का एक अंक
हर सवाल के लिए एक अंक मिलेगा, जबकि प्रत्येक गलत जवाब के लिए 0.25 मार्क कटेंगे। परीक्षा के लिए विद्यार्थियों की कॉन्सेप्ट को पढ़कर समझ पाने की काबिलियत और विधि शिक्षा को समझने के लिए जरूरी एप्टीट्यूड टेस्ट लिया जाएगा। परीक्षा की अवधि, टेस्ट मोड और वर्णनात्मक प्रश्न अपरिवर्तित रहेंगे। इससे पहले साल 2020 क्लैट परीक्षा में 200 प्रश्नों को घटाकर 150 प्रश्न किया था। पिछले साल क्लैट दो बार हुई थी।


यों होंगे पेपर में सेक्शन
प्रथम सेक्शन अंग्रेजी भाषा का होगा। इसमें विद्यार्थियों को 450 शब्दों के 2 पैसेज दिए जाएंगे। यह समकालीन इतिहास अथवा अन्य महत्वपूर्ण घटना से जुड़े हो सकते हैं। बारहवीं कक्षा के स्तर के प्रश्न भी पूछे जाएंगे। द्वितीय सेक्शन में सम-सामायिकी, सामान्य ज्ञान, निबंधात्मक प्रश्न होंगे। 450 शब्दों का पैसेज हो सकता है। इसको पढ़कर विधि शिक्षा से जुड़े सवाल हल करने होंगे। तृतीय सेक्शन में लीगल मैटर, पब्लिक पॉलिसी, फैक्चुअल या काल्पनिक और मोरल सिचुएशन से जुड़े सवाल होंगे।


जेईई मेन का सिलेबस भी जारी
जेईई मेन का सिलेबस भी जारी किया गया है। इसमें फिजिक्स से 9 और केमिस्ट्री से 6 टॉपिक कम किए गए हैं। वहीं, मैथ्स से भी 7 टॉपिक्स हटाए गए हैं।


यह भी पढ़ें

राजस्थान में धूम मचा रहा यह निमंत्रण पत्र, बना चर्चा का विषय

ट्रेंडिंग वीडियो