लॉक डाउन में नहीं चल पा रहा था रेस्टोरेंट तो बना डाला हुक्का बार, ऐसे हुआ खुलासा

  • कैफे के नाम पर प्रयागराज सिविल लाइंस में चल रहा था हुक्का बार
  • पुलिस ने छापेमारी की तो कई लोग हुक्का पीते मिले, मची भगदड़
  • छापेमारी में पुलिस ने हुक्का बार (Hookah Bar) के दो संचालकों को किया अरेस्ट

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

प्रयागराज. हुक्का बार की सूचना पर जब पुलिस पहुंची तो रेस्टोरेंट के बाहर कैफे (Hookah Bar Run in Cafe Restorent) का बोर्ड लगा हुआ था। कहीं से ये मालूम नहीं पड़ रहा था कि यहां हुक्का बार चलता है। एक बार पुलिस भी भ्रम में आ गई, लेकिन खबर पक्की थी इसलिये पुलिस ने छापेमारी (Police Raid) की और अंदर घुस गई। अंदर का नजारा ही कुछ और था। कैफे और रेस्टोरेंट के नाम पर धड़ल्ले से हुक्का बार चला जा रहा था। अंदर कुछ युवक हुक्का पीते भी मिले। रेस्टोरेंट में हुक्का बार का पूरा इंतजाम जिसे अवैध रूप से संचालित किया जा रहा था। पुलिस ने इसका संचालन करने वालो दो लोगों को गिरफ्तार किया है।

इसे भी पढ़ें- हाईकोर्ट का बड़ा फैसला, लिव इन रिलेशन में रह सकते हैं दो बालिग, कोई परेशान नहीं कर सकता

सिविल लाइंस में चल रहा था हुक्का बार

प्रयागराज के सबसे पाॅश इलाके सिविल लाइंस (Allahabad Civil Lines) में बिग बाजार के पीछे 'द मिस्ट’ (The Mist) नाम से एक कैफे रेस्टोरेंट चल रहा था। पुलिस को उसमें अवैध रूप से हुक्का बार संचालित होने की सूचना मिली तो नजदीक के चौकी प्रभारी राजेश कुमार के नेतृत्व में टीम शाम के समय वहां जा पहुंची। एलेन कूपर रोड स्थित उक्त कैफे में जब छापेमारी की गई तो सूचना सही निकली। वहां अवैध रूप से हुक्का बार का संचालन किया जा रहा था।

इसे भी पढ़ें- प्यार करना गुनाह नहीं: हाईकोर्ट ने एक महीने में अंतर-धार्मिक या अंतर-जातीय विवाह के 100 से ज्यादा जोड़ों को दी सुरक्षा

दो संचालक हुए गिरफ्तार

पुलिस की छापेमारी के समय वहां कई युवक हुक्का पीते हुए भी मिले। पुलिस के पहुंचते ही अंदर जैसे भगदड़ मच गई। कई लोग अफरा-तफरी का फायदा उठाकर मौके से भाग निकले। हालांकि पुलिस ने वहां के संचालक करेली शावेज खान 'सोनू’ व अजहर खान को गिरफ्तार कर लिया। मौके से पुलिस ने हुक्का और उसके फ्लेवर (Hookah Flever) बरामद कर जब्त कर लिये।

इसे भी पढ़ें- मोटर वाहन दुर्घटना दावा दाखिल करने की समय सीमा को लेकर हाईकोर्ट का बड़ा आदेश

कैफे के नाम पर ली थी जगह

पुलिस की जांच में पता चला है कि हुक्का बार जिस बिल्डिंग में चल रहा था उसका मालिक शाहगंज का रहने वाला है। आरोपियों ने उससे बिल्डिंग में कैफे चलाने के लिये जगह किराए पर ली थी। पुलिस ने मीडिया को बताया है कि पकड़े गए आरोपियों के मुताबिक लाॅकडाउन (Lockdown) में रेस्टोरेंट न चलने से वो लोग परेशान थे। इसी के बाद उन्होंने कुछ दिन पहले अवैध रूप से हुक्का बार चलाना शुरू कर दिया।

इसे भी पढ़ें- इलाहाबद हाईकोर्ट ने हिंदू महिला को मुस्लिम पति से मिलवाया, कहा महिलाओं को अपनी शर्तों पर जीने का हक

पहले भी पकड़ा गया था हुक्का बार

बताते चलें कि हुक्का बार को लेकर इलाहाबाद हाईकोर्ट (Allahabad High Court) ने नाराजगी जतायी थी। इसके बाद से पुलिस ने इसके खिलाफ अभियान चलाकर कार्रवाई करना शुरू किया। इसके पहले भी पुलिस ने सिविल लाइंस में ही हुक्का बार पकड़ा था। अवैध रूप से हुक्का बार चलाने के आरोप में होटल सम्राट के मालिक समेत चार लोगों को गिरफ्तार किया था।

Show More
रफतउद्दीन फरीद
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned