ट्रंप ने ईरान को दी धमकी, कहा- अमरीकी हितों पर हमले का करारा जवाब दिया जाएगा

ट्रंप ने ईरान को दी धमकी, कहा- अमरीकी हितों पर हमले का करारा जवाब दिया जाएगा

Mohit Saxena | Publish: May, 21 2019 12:53:50 PM (IST) | Updated: May, 21 2019 07:20:46 PM (IST) अमरीका

  • बगदाद में राकेट हमले के पीछे ईरान का हाथ होने का संदेह
  • यहां पर सरकारी दूतावास और इमारतों को निशाना बनाया
  • इस हमले में कोई हताहत नहीं हुआ था

वॉशिंगटन। अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने सोमवार को चेतावनी दी कि अगर ईरान मध्य पूर्व में अमरीकी हितों पर हमला करता है तो उसका सामना ताकतवार शक्ति से होगा। सरकारी सूत्रों ने कहा कि वाशिंगटन को संदेह है कि तेहरान के साथ शियाओं के सैन्य बल बगदाद में एक रॉकेट हमले के पीछे थे। उन्हें लगता है कि अगर ईरान ने ऐसा किया है तो यह बहुत बड़ी गलती हो सकती है। ट्रंप ने मीडिया को बताया कि सोमवार शाम को वह पेनसिल्वेनिया में एक कार्यक्रम ये बयान दिया।

किर्गिस्तान में SCO विदेश मंत्रियों की बैठक, सुषमा स्वराज और महमूद कुरैशी की मुलाकात पर संशय बरकरार

सरकारी इमारतें और दूतावास के पास रॉकेट हमला

अमरीकी सरकार के दो सूत्रों ने कहा कि संयुक्त राज्य अमरीका ने शिया आतंकी समूह पर शक जताया है। इसे ईरान द्वारा प्रोत्साहन मिलता रहा है। इस समूह ने बगदाद के भारी किलेबंद ग्रीन जोन में रॉकेट दागे। रॉकेट ग्रीन ज़ोन में गिर गया, जिसमें सरकारी इमारतें और दूतावास हैं। इस हमले में कोई हताहत नहीं हुआ था। संयुक्त राज्य अमरीका का मानना है कि ये ईरान से प्रेरित हो सकता है। ईरान ने बीते हफ्ते हमलों में अपनी संभावित भागीदारी के आरोपों को खारिज कर दिया है। उसने रॉकेट विस्फोट की निंदा की। हमलों में 14 मई को राज्य के भीतर दो तेल पंपिंग स्टेशनों पर सशस्त्र ड्रोन हमलों और 12 मई को संयुक्त अरब अमीरात के तट से दो सऊदी तेल टैंकरों सहित चार जहाजों की तोड़फोड़ शामिल हैं। इसके अलावा यमन के हौती समूह ने पंपिंग स्टेशनों पर हमले की जिम्मेदारी ली। यह समूह भी ईरान से समर्थित बताया जाता है। हाल ही में समूह ने तेल टैंकरों पर हमला कर सबको चौका दिया। बताया जा रहा है कि यह हमले उकसावे की कार्रवाई है। इससे अमरीका को हमले के लिए उकसाया जा रहा है।

विश्व से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर ..

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned