Afghanistan: घोर प्रांत में सड़क किनारे जबरदस्त बम विस्फोट में 6 लोगों की मौत, तीन घायल

HIGHLIGHTS

  • Bomb Blast In Ghor Province: अफगानिस्तान के घोर प्रांत में सड़क किनारे एक शक्तिशाली बम विस्फोट में 6 लोगों की मौत हो गई, जबकि 3 अन्य घायल हो गए।
  • आंतरिक मामलों के मंत्रालय के प्रवक्ता तारिक एरियन ने इसकी जानकारी दी।

By: Anil Kumar

Updated: 16 Oct 2020, 06:43 PM IST

काबुल। अफगानिस्तान ( Afghanistan ) में शांति बहाली को लेकर लगातार अफगान सरकार और तालिबान के बीच वार्ता का दौर जारी है। लेकिन इसके बावजूद भी हमलों का सिलसिला नहीं थम रहा है।

शुक्रवार को अफगानिस्तान के घोर प्रांत में सड़क किनारे एक शक्तिशाली बम विस्फोट ( Bomb Blast In Ghor Province ) हुआ। इस विस्फोट में 6 लोगों की मौत हो गई, जबकि 3 अन्य घायल हो गए।

Afghanistan: हेरात-कंधार हाइवे पर बड़ा धमाका, दो की मौत, दस से अधिक घायल

टोलो न्यूज के मुताबिक, इस बात की जानकारी आंतरिक मामलों के मंत्रालय के प्रवक्ता तारिक एरियन ने दी। फिलहाल, इस धमाके को लेकर अभी तक कोई ज्यादा जानकारी सामने नहीं आई है। दूसरी ओर इस धमाके को लेकर किसी भी संगठन ने जिम्मेदारी नहीं ली है। पुलिस जांच में जुट गई है।

बुधवार को हुए धमाके में 8 की हुई थी मौत

आपको बता दें कि बुधवार को दो बम धमाकों से अफगानिस्तान ( Bomb Blast In Afghanistan ) दहल उठा था। इस धमाके में 8 लोगों की मौत हो गई थी, जबकि 25 अन्य लोग घायल हो गए थे। जानकारी के मुताबिक, एक घटना पश्चिमी हेरात प्रांत के कुसी कुहना जिले में इम्प्रोवाइज्ड एक्सप्लोसिव डिवाइस ( IED ) धमाका हुआ था। इसके चपेट में एक ट्रक आ गया जिससे 5 बच्चों की मौत हो गई और 10 लोग घायल हो गए थे।

Afghanistan: अमरीकी सेना ने तालिबानी ठिकानों पर किया हमला, 20 आतंकी ढेर

स्थानीय सरकार ने इसकी पुष्टि करते हुए बताया कि यह घटना बुधवार दोपहर में हुई। सभी घायलों को प्रांतीय राजधानी हेरात शहर के पूर्वोत्तर हिस्से में एक जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। बयान में कहा गया कि वाहन में सवार सभी 15 लोग विस्फोट से प्रभावित हुए थे। जिला पुलिस ने पीड़ितों के रिश्तेदारों को सूचित किया। बयान में आगे कहा गया कि ये सभी यात्री शादी समारोह में शामिल होने के लिए जा रहे थे। इस IED धमाके के लिए तालिबान को जिम्मेदार ठहराया गया, लेकिन तालिबान की ओर से कोई बयान सामने नहीं आया।

दूसरा धमाका पूर्वी लागमैन प्रांत में हुआ, जिसमें तीन नागरिकों की मौत हो गई और एक पुलिस अधिकारी समेत 14 नागरिक घायल हो गए। बयान के अनुसार, स्थानीय प्रवक्ता असदुल्लाह डावलात्जैई ने बताया कि पुलिस की गाड़ी से IED लगा हुआ था, जो कि प्रांतीय राजधानी मेहतरलम शहर में एक सड़क किनारे विस्फो हुआ।

पिछले साल 800 लोगों की हुई मौत

एक रिपोर्ट के मुताबिक, अफगानिस्तान में आतंकवादियों ने सुरक्षा बलों को निशाना बनाने के लिए सड़क के किनारे बम और बारूदी सुरंग बनाने के लिए स्वदेश निर्मित IED का इस्तेमाल किया है।

Afghanistan: मध्य प्रांत ओरूज्गान में पुलिस चौकी पर हमला, 8 पुलिसकर्मियों की मौत

आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, अफगानिस्तान में 2019 में IED विस्फोटों में 800 से अधिक नागरिक मारे गए और 2,330 से अधिक अन्य घायल हो गए।

Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned