यूपी एसटीएफ और नारकोटिक्स की संयुक्त कार्यवाही में अयोध्या से चार करोड़ का गांजा बरामद

खबर के मुख्य बिंदु -

- 35 हजार के लालच में उड़ीसा से मौत का सामान लेकर निकल पड़ा ट्रक ड्राइवर
- बड़ा सवाल हजारों किलोमीटर का सफ़र तय कर अयोध्या पहुंचा नशीला पदार्थ कहीं नही हुई चेकिंग
- यूपी के कुशीनगर में होने वाली थी 11.35 कुंतल गांजे की डिलीवरी

By: अनूप कुमार

Published: 05 Sep 2019, 12:07 PM IST

अयोध्या : देश के हर कोने में नशीले पदार्थों का एक बड़ा कारोबार कैसे फल फूल रहा है इसका खुलासा यूपी एसटीएफ ( UP STF )और नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो ( Narcotics Control Bureau ) की कार्रवाई में हुआ है | जिसमें दोनों टीमों की संयुक्त कार्रवाई में उड़ीसा प्रांत से यूपी के कुशीनगर ( Kushinager ) जा रहा करीब 4 करोड रुपए से अधिक कीमत का नशीला पदार्थ गांजा बरामद किया गया है | यह कार्रवाई अयोध्या शहर से सटे लखनऊ गोरखपुर हाईवे ( Lucknow Gorakhpur Highway ) पर अंजाम दी गई | जिस समय ट्रक की डिलीवरी लेने आए एक अन्य व्यक्ति हाईवे के किनारे ट्रक खड़ी कर बातचीत कर रहे थे | गांजे को अंडों की ट्रे के बीचे बड़ी हिफाजत से पैक किया गया था | लेकिन एसटीएफ ( STF Raid ) को मिली गुप्त सूचना के आधार पर एसटीएफ और नारकोटिक्स विभाग की टीम ने बड़े पैमाने पर नशीले पदार्थों के जखीरे को पकड़ लिया | पकडे गए गांजे की मात्रा 11.35 कुंतल बताई जा रही है |

ये भी पढ़ें - बिग ब्रेकिंग : बाबरी मस्जिद मुकदमे के मुख्य पक्षकारों में से एक हैं इकबाल अंसारी

एसएसपी एसटीएफ राजीव नारायण मिश्र ( SSP STF Rajeev Narayan Mishra ) की माने तो सूचना प्राप्त हुई थी कि उड़ीसा से अवैध गांजा लदा ट्रक अयोध्या आ रहा है | जिसे अयोध्या कोतवाली नगर क्षेत्र ( Kotwali Ayodhya ) के देवकाली बाईपास रोड ( Devkali Bypass ) पर जितेंद्र गुप्ता नाम का व्यक्ति पहले रिसीव करेगा और उसके बाद उसे अगले पड़ाव के लिए रवाना करेगा | इस सूचना पर एसटीएफ और नारकोटिक्स विभाग की टीम बताए गए पते के पास मौजूद थी और जैसे ही या ट्रक देवकाली बाईपास के पास पहुंची | वहां पर मौजूद कार सवार जितेंद्र यादव ट्रक ड्राइवर दीपक और खलासी धानिक यादव से बातचीत करने लगा | तत्काल एसटीएफ ने तीनों को हिरासत में ले लिया | श्री मिश्र के मुताबिक ट्रक की तलाशी में अंडों की ट्रे के बीच बोरियों में गांजा भरा हुआ था |

ये भी पढ़ें - अयोध्या के आचार्य नरेंद्र देव कृषि विश्वविद्यालय के दीक्षांत समारोह में शामिल हुई उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल

गिरफ्तार ट्रक ड्राइवर दीपक जाटव ने बताया कि ट्रक का मालिक उस्मान अली है और वह मेरठ का रहने वाला है | 15 दिन पहले वह मेरठ से कपड़ा लेकर उड़ीसा के कोरापुट गया था वहां पर कपड़ा उतारने के बाद इमरान के कहने पर विशाखापट्टनम से अंडे की ट्रे लेकर ट्रक चालक दीपक वापस आ रहा था | इसी बीच इमरान के कहने पर और कोरापुट में उसकी मुलाकात कुशीनगर के रहने वाले मनोज चौधरी और दिनेश गुप्ता से हुई और दोनों ने अंडे की ट्रे में गांजा छिपाकर आयोध्या तक पहुंचाने और बदले में ₹35000 देने का वादा किया | पैसों की लालच में आरोपी ट्रक चालक ने कोरापुट के एक जंगल में ले जाकर खड़ी कर दी और वहीं पर अंडों की ट्रे के बीच गांजा को लोड किया गया |

ये भी पढ़ें - अंतरराष्ट्रीय शूटर वर्तिका सिंह और बाबरी मस्जिद के मुद्दई इकबाल अंसारी के बीच हुआ था वाद विवाद

करीब 2000 किलोमीटर का लंबा सफर तय कर यह ट्रक सुरक्षित रूप से अयोध्या तक पहुंच गया था | लेकिन मंजिल पर पहुंचते ही पहले से मौजूद एसटीएफ और नारकोटिक्स की टीम के हत्थे चढ़ गया | फिलहाल पुलिस अब घटना की जांच कर रही है | वहीं एसएसपी एसटीएफ राजीव नारायण मिश्र की माने तो यह जानकारी भी मिली है 3 नवंबर 2017 में कुशीनगर के रहने वाले दिनेश गुप्ता उड़ीसा से लाए गए 6 कुंटल गांधी के साथ गिरफ्तार किया जा चुका है और इसका पुराना इतिहास रहा है | इसके अलावा इस पूरे घटनाक्रम में शामिल इमरान मनोज और दिनेश की तलाश एसटीएफ की टीम कर रही है |

ये भी पढ़ें - मुस्लिम पक्ष के अधिवक्ता के खिलाफ हुए बाबरी मस्जिद मामले के मुद्दई इकबाल अंसारी बोले कत्तई स्वीकार नहीं ऐसी दलीलें

Show More
अनूप कुमार Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned