ओमान व नेपाल से लौटे दो यात्री, अब तक 10 लोगों को रखा 28 दिनों की विशेष निगरानी में

देश सहित पूरे प्रदेश में कोरोना की दहशत है। कोरोना के अलर्ट के बीच अब पूरा जिला प्रशासन भी इससे निपटने पूरी तैयारी में जुट गई है। साथ ही पूरे जिले को हाई अलर्ट कर दिया गया है।

By: Chandra Kishor Deshmukh

Published: 18 Mar 2020, 11:05 PM IST

बालोद @ patrika. देश सहित पूरे प्रदेश में कोरोना की दहशत है। कोरोना के अलर्ट के बीच अब पूरा जिला प्रशासन भी इससे निपटने पूरी तैयारी में जुट गई है। साथ ही पूरे जिले को हाई अलर्ट कर दिया गया है।

पांच बिस्तर का कोरोना वार्ड
जिले में अब तक 10 लोग, जो विदेश से लौटे हैं, उसे विशेष निगरानी में रखा हुआ है। साथ ही 28 दिनों तक घर से बाहर नहीं निकलने के निर्देश जारी किए गए है। हालांकि जिले में अभी कोरोना वायरस का एक भी संदिग्ध नहीं मिला है, लेकिन कोरोना से संबंधित मरीजों के लिए अब नए सीएमएचओ कार्यालय को पांच बिस्तर का कोरोना वार्ड बनाया जा रहा है। स्वास्थ्य विभाग का दावा है कोरोना वायरस को देखते हुए पूरी तरह से तैयार हैं। पर्याप्त मात्रा में मास्क है। साथ ही लगातार जागरुकता अभियान भी चलाया जा रहा है।

विदेश यात्री विशेष निगरानी में
मंगलवार को डौंडी विकासखंड अंतर्गत एक व्यक्ति ओमान से वापस अपने गृह स्थान लौटा है। इसकी जानकारी मिलते ही तत्काल स्वास्थ्य विभाग की टीम ने इस विदेश यात्री को विशेष निगरानी में रखा गया है। इसी तरह हाल ही में गुंडरदेही विकासखंड में एक व्यक्ति नेपाल से वापस अपने गृह ग्राम आए हैं। अब इन व्यक्तियों को स्वास्थ्य विभाग ने स्वच्छता के प्रति किया जागरुकता के साथ ही 28 दिनों तक विशेष निगरानी में रखे गए हैं।

बनाया कोरोना मरीज वार्ड
नए सीएमएचओ कार्यालय को कोरोना मरीजों व संदिग्धों के लिए वार्ड बनाया जा रहा है। बुधवार को इसकी तैयारी स्वास्थ्य विभाग ने नवीन भवन के सभी वार्डों की साफ-सफाई की गई है। साथ ही कार्यालय में तत्काल विद्युत कनेक्शन लेकर पूरे वार्ड में बिजली पंखे लगाए गए हैं।

चालक भी लगा रहे मास्क
कोरोना वायरस के कहर को देखते हुए अब मोटरसाइकिल चालक सहित अन्य वाहन चालक व राहगीर भी स्वयं के बचाव के लिए मास्क का उपयोग कर रहे हैं। जिला प्रशासन लगातार कोरोना से बचाव के लिए जिले के सभी विभागों को जागरूक तथा अलर्ट रहने के निर्देश भी दिए हैं।

विदेश से लौटे दस, कोई संदिग्ध नहीं
जिला स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक जिले में अब तक कुल 10 व्यक्ति विदेश यात्रा से वापस आए हैं। इन सभी विदेश से लौटे लोगों की सूची विभाग ने बनाई है। साथ ही लगातार इन लोगों संदिग्ध के तौर पर विशेष निगरानी रख रहे हैं। स्वास्थ्य विभाग की माने तो जिले में कोई भी व्यक्ति में कोरोना के लक्षण नहीं पाए गए हैं।

बेल्जियम से लौटे दो दंपती घर से निकलने पर मनाही
बालोद जिले के अर्जुंदा में बेल्जियम से लौटे दो दंपती को पुलिस ने विशेष हिदायत दी है। साथ ही पुलिस व स्वास्थ्य विभाग की टीम भी विदेश से लौटकर आए इस दंपती को 28 दिनों की विशेष निगरानी में रखा है। अर्जुंदा थाना प्रभारी अरुण नेताम ने बताया कि अर्जुन्दा थाना अंतर्गत जो दंपती विदेश से लौटकर आए हैं, उन्हें घर बाहर नहीं निकलने एवं लोगों से हाथ नहीं मिलाने की समझाइश दी गई है। दोनों दंपती ने इस पर सहमति भी दी है। इसके अलावा पुलिस व स्वास्थ्य विभाग भी अलर्ट हो गया है। कोरोना वायरस के संबंध में जागरूक कर रहे हैं। ताकि समय रहते लोगों का उपचार किया जा सके।

आरटीओ ने दिए वाहनों की सफाई के निर्देश
कोरोना के कहर को देखते हुए आरटीओ के अधिकारी रविन्द्र ठाकुर ने अपनी टीम के साथ घूम-घूमकर वाहन चालकों एवं मालिकों, बस, ऑटो और कार चालकों को भी अपने वाहनों की नियमित साफ सफाई करने के निर्देश दिए। साथ ही कहा कि कोई लापरवाही होती है तो वाहन चालकों और मालिकों पर कार्रवाई की जाएगी।

Show More
Chandra Kishor Deshmukh Bureau Incharge
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned