script हमला कर सिर फाड़ा, अस्पताल में मौत पर हत्या का केस | Attacked with a blade, head torn off, case of murder after death in ho | Patrika News

हमला कर सिर फाड़ा, अस्पताल में मौत पर हत्या का केस

locationबांसवाड़ाPublished: Nov 24, 2023 09:29:23 pm

Submitted by:

Ashish vajpayee

लडक़ी भगाने के मामले में भांजगड़े के दौरान वारदात, मृतक की पत्नी की रिपोर्ट पर दो जने नामजद

 

धारिए से हमला कर सिर फाड़ा, अस्पताल में मौत पर हत्या का केस
धारिए से हमला कर सिर फाड़ा, अस्पताल में मौत पर हत्या का केस

जिले के पाटन इलाके में एक युवती को भगाने के मामले पर सामाजिक स्तर पर भांजगड़े के लिए गए उसके पिता पर कुछ लोगों ने धारदार हथियारों से हमला कर दिया। वारदात में सिर फटने से लहूलुहान युवती के पिता की जिला अस्पताल लाने के बाद शुक्रवार तडक़े इलाज के दौरान मौत हो गई। मामले पर पुलिस ने हत्या के आरोप में दो जनों को नामजद कर कार्रवाई की।

थानाधिकारी कांतिलाल ने बताया कि वारदात सुनारिया गांव में पोटलिया निवासी 45 वर्षीय रानू मुनिया के साथ हुई। इसे लेकर उसकी पत्नी दुर्गा मुनिया ने सुनारिया निवासी राहजिंग पुत्र हवजी भाभर और मनोहर भाभर के खिलाफ रिपोर्ट दी। इसमें बताया कि 19 नवंबर, 2023 की रात को उसकी बेटी पायल को सुनारिया निवासी महेश पुत्र रतन भाभर बहला-फुसलाकर भगा ले गया। इसे लेकर पाटन थाने में रिपोर्ट भी दी। इसके तीन दिन बाद सुनारिया के ही राहजिंग भाभर ने सामाजिक स्तर पर फैसला कर पायल को सौंपने की पेशकश की, तो यह बात उसने गुरुवार शाम को पति को बताई। इस पर वे भोजन के बाद सुनारिया चलने पर सहमत हुए। फिर मोटरसाइकिलों से वह, पति रानूू, बेटे राजपाल, कुंडिया पीहर से आए भाई अन्नु पुत्र प्रभु कटारा, लालचंद पुत्र प्रभु, देवर शांतिलाल और महेश पुत्र उंकार सुनारिया गए। सुनारिया पहुंचने के बाद सभी महेश के घर के पास रास्ते की तरफ बैठे थे।

इस बीच, पति रानू व परिवार के लोग राहजिंग और उसके गांव के लोगों से बातचीत करने लगा। इसी बीच, राहजिंग ने तेश में आकर पति राणू पर धारिया से हमला कर दिया। उसके साथ हथियार लेकर आए सुनारिया के अन्य लोग भी बढ़े और मारपीट और पथराव शुरू कर दिया। यह देख बचने के लिए वह भागी, लेकिन पति को सिर में घाव लगा, वहीं उसे और उसके भाई को चोटें आईं। फिर सभी ने शोर मचाया, तो आरोपियों ने उन्होंने छोड़ा। बाद में पति, उसे और भाई को छोटी सरवा ले जाया गया, जहां से कुशलगढ़ और फिर बांसवाड़ा रैफर कर दिया गया। जिला अस्पताल में इलाज के दौरान पति रानू की मृत्यु हो गई। भाई लालचंद गंभीर घायल होने से अभी भर्ती है। मामले में कार्रवाई के आग्रह पर पुलिस ने हत्या का केस दर्ज किया। इसके बाद अपराह्न मे पुलिस ने एमजी अस्पताल में पोस्टमार्टम करवा शव परिजनों को सौंपा। मामले में अब पुलिस जांच में जुटी है।

ट्रेंडिंग वीडियो