BIG NEWS : चुनाव से पहले शिवराज मंत्रिमंडल का विस्तार, उधर कांग्रेस ने बढ़ाई मुश्किल

दिल्ली में चुनाव आयोग से मिले कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया, कहा- उपचुनाव में लगी है सरकारी मशीनरी, प्रदेश अध्यक्ष अरुण यादव ने कहा- आचार संहिता

By: Manish Gite

Updated: 02 Feb 2018, 05:29 PM IST

 


भोपाल। मध्यप्रदेश में कल होने जा रहे शिवराज सरकार के मंत्रिमंडल विस्तार में नया पेंच आ गया है। मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी सलीना सिंह यह कहकर सभी को चौंका दिया है कि सरकार की तरफ से मंत्रिमंडल विस्तार की कोई सूचना नहीं दी गई है। सलीना सिंह ने यह बात शुक्रवार को प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अरुण यादव की शिकायत के बाद कही।

 

प्रदेश अध्यक्ष अरुण यादव ने मंत्रिमंडल विस्तार पर सवाल उठाए हैं उन्होंने कहा है कि आचार संहिता के चलते मंत्रिमंडल विस्तार गलत है।

 

आचार संहिता के चलते मंत्रिमंडल विस्तार गलत
कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अरुण यादव ने कहा है कि मध्यप्रदेश में विधानसभा के उपचुनाव होने जा रहे हैं और आचार संहिता लगी हुई है, ऐसे में प्रदेश में मंत्रिमंडल का विस्तार करना आचार संहिता का उल्लंघन है। इस संबंध में यादव ने राज्यपाल आनंदीबेन पटेल को भी पत्र लिखा है।

 

यादव ने सवाल उठाया है कि चुनाव आचार संहिता के चलते क्या प्रदेश में मंत्रिमंडल विस्तार हो सकता है। उन्होंने कहा कि प्रस्तावित विस्तार भी किसी न किसी को दिए गए प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष प्रलोभन की श्रेणी में आता है। यादव यह शिकायत लेकर चुनाव आयोग के दफ्तर पहुंच रहे हैं।

 

उपचुनाव को प्रभावित करने की कोशिश

यादव ने राज्य निर्वाचन आयोग से शिकायत की है कि कैबिनेट विस्तार से जातिगत और क्षेत्रवार आधार से चुनाव को प्रभावित किया जा सकता है। यादव ने लिखित में इसकी शिकायत की है।

 

 

उधर, दिल्ली में मध्यप्रदेश के गुना से कांग्रेस सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया शुक्रवार को चुनाव आयोग से मिले। उनके साथ राज्य सभा सांसद विवेक तन्खा भी मौजूद हैं। सिंधिया ने चुनाव आयोग से अपनी शिकायत में कहा कि मध्यप्रदेश के मुंगावली और कोलारस में हो रहे विधानसभा के उपचुनाव में शिवराज सरकार सरकारी मशीनरी का दुरुपयोग कर रही है। उन्होंने चुनाव आयोग से मुंगावली और कोलारस में सही तरीके और निष्पक्षता के साथ चुनाव कराने की मांग की। उन्होंने अधिकारियों की भूमिका पर भी सवाल उठाए और चुनाव आयोग को अधिकारियों की सूची भी सौंपी।

 

 

 

SCINDIA

नया पेंचः सरकार की मुश्किल बढ़ी

इस बीच चुनाव आयोग में कांग्रेस की शिकायत के बाद मामले में नया पेंच आ गया है। राज्य निर्वाचन पदाधिकारी सलीना सिंह ने यह कह कर सभी को चौंका दिया है कि राज्य सरकार ने निर्वाचन कार्यालय को मंत्रिमंडल विस्तार की कोई सूचना नहीं दी है। चुनाव आचार संहिता के कारण मध्यप्रदेश सरकार के मंत्रिमंडल कांग्रेस की शिकायत अब दिल्ली भेजी जा रही है।

 

सरकार से लिया जाएगा जवाब
राज्य निर्वाचन आयोग में शिकायत के बाद सलीना सिंह ने कहा है कि इस मामले में अब सरकार से पूछा जा रहा है।

 

कांग्रेस की शिकायत चुनाव आयोग को भेजी
मध्यप्रदेश की मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी सलीना सिंह ने कहा है कि कांग्रेस से शिकायत प्राप्त हुई है, उसे चुनाव आयोग को भेजा जा रहा है। अब आयोग के जे भी निर्देश होंगे उसके मुताबिक एक्शन लिया जाएगा।

ARUN YADAV

भाजपा की विदाई तय, कांग्रेस की वापसी भी तय
इधर, मुंगावली और कोलारस में काग्रेस प्रत्याशी के पक्ष में रोड शो के लिए जाने से पहले बुधवार को सिंधिया ने भोपाल में बड़ा दिया दिया था। उन्होंने कहा था कि मध्यप्रदेश में इस बार भाजपा का जाना तय है और कांग्रेस का आना तय है। भाजपा के लिए यह विदाई की अंतिम बेला है। सिंधिया ने तब भी मीडिया के सवालों के जवाब में कहा था कि आधी सरकार उप चुनाव में लगा दी गई है।


दोनों ही सीटों पर थे कांग्रेस के विधायक
अशोक नगर की मुंगावली और शिवपुरी की कोलारस सीट पर कांग्रेस के विधायक थे। दोनों के निधन के बाद यह सीट खाली हो गई थी। कोलारस से कांग्रेस विधायक राम सिंह यादव का 18 अक्टूबर 2017 को निधन हो गया था। जबकि मुंगावली से कांग्रेस विधायक महेंद्र सिंह कालूखेड़ा का निधन 11 सितंबर को हो गया था।


दोनों ही सीटों पर कांग्रेस का दबदबा
इन दोनों ही सीटों पर कांग्रेस का दबदबा रहा है। इन सीटों को कांग्रेस की परंपरागत सीट माना जाता है। यहां ज्योतिरादित्य सिंधिया का खासा प्रभाव है। इसलिए भाजपा ऐसे प्रत्याशी उतारना चाहती है जिससे वो कांग्रेस की परंपरागत सीट को उससे छीन ले।

 

24 को मतदान, 28 को रिजल्ट
इस उप चुनाव में 24 फरवरी को मत डाले जाएंगे। इसके बाद 28 फरवरी को मतगणना होगी, जिसके परिणाम दोपहर 12 बजे तक स्पष्ट हो जाएंगे। चुनाव आयोग ने पिछले हफ्ते शुक्रवार को ही चुनाव कार्यक्रम की घोषणा की थी। आयोग के मुताबिक 30 जनवरी को अधिसूचना जारी होगी। नामांकन 6 फरवरी तक भरे जाएंगे। 7 फरवरी को परीक्षण होगा और नौ फरवरी तक नाम वापस लिए जा सकेंगे।

 

ये हैं भाजपा के प्रत्याशी
कांग्रेस प्रत्याशियों को टक्कर देने के लिए भाजपा ने भी हाल ही में अपने प्रत्याशी घोषित किए हैं। मुंगावली से श्रीमती बाई साहब यादव और कोलारस से देवेंद्र जैन को भाजपा ने अपना उम्मीदवार बनाया है।

 

MUST READ

कोलारस और मुंगावली चुनाव पर विशेष

देश में भाजपा को मिले झटके का असर, मध्यप्रदेश में कल होगा मंत्रिमंडल विस्तार

Show More
Manish Gite
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned