भाजपा नेता की फिर दिखी सादगी, कांग्रेस नेता ने भी बताई विनम्रता, देखें PHOTOS

भाजपा नेता की फिर दिखी सादगी, कांग्रेस नेता ने भी बताई विनम्रता, देखें PHOTOS

Manish Geete | Updated: 17 Aug 2019, 12:18:52 PM (IST) Bhopal, Bhopal, Madhya Pradesh, India

विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष एवं भाजपा नेता गोपाल भार्गव ( gopal bhargava ) और कमलनाथ सरकार ( kamal nath govt ) के मंत्री जयवर्धन सिंह ( jayvardhan singh ) का शुक्रवार को अलग ही अंदाज नजर आया। देखें PHOTOS


भोपाल। विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष एवं भाजपा नेता गोपाल भार्गव ( gopal bhargava ) और कमलनाथ सरकार ( kamal nath govt ) के मंत्री जयवर्धन सिंह ( jayvardhan singh ) का शुक्रवार को अलग ही अंदाज नजर आया। दोनों ही दिग्गज नेताओं में सादगी और विनम्रता नजर आई। बस स्टैंड पर मिले दोनों ही दिग्गजों की सहज और विनम्र मुलाकात काफी चर्चित हो रही है।

 

MUST READ:

शादी बाबा नाम से फेमस है बीजेपी का यह दिग्गज

BHOPAL

सादगी के लिए ख्यात गोपाल भार्गव जब बस स्टैंड पर अपने साथियों के साथ बैठे थे, तभी वहां से नगरीय प्रशासन मंत्री जयवर्धन सिंह का काफिला गुजर रहा था। जयवर्धन सिंह ने देखा कि नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव बस स्टैंड पर बैठे नजर आ रहे हैं, तो उन्होंने अपना काफिला तुरंत रुकवाया और उनके पास पहुंच गए। जयवर्धन भी अपने विरोधियों और बड़ों का आदर और विनम्र स्वभाव के लिए जाने जाते हैं। पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के बेटे जयवर्धन सिंह ने भार्गव के चरण छूकर आशीर्वाद लिया। दोनों साथ बैठे और ढेर सारी बातें कीं। गोपाल भार्गव ने भी बस स्टैंड पर बने नगर निगम भवन की काफी सराहना की। इस दौरान काफी देर तक ठहाके भी लगते रहे। यह नजारा देख बस स्टैंड पर काफी लोग एकत्र हो गए थे, वे दोनों नेताओं को कैमरे में कैद करने लगे और सेल्फी लेने लगे। दोनों ही दिग्गजों की यह सहज, विन्रम मुलाकात काफी चर्चित हो रही है।

 

MUST READ:

मंत्री की सादगीः ढाबे पर खाया दाल तड़का, लोगों की समस्याएं भी सुनीं

BHOPAL

फिर दिखी भार्गव की सादगी
गोपाल भार्गव एक बार फिर अपने अलग अंदाज में नजर आए। वे शुक्रवार देर रात को शहर की आबोहवा का लुत्फ लेने बस स्टैंड पहुंच गए। वे पहले भी कई बार ढाबों पर या शहर की प्रसिद्ध दुकानों पर स्ट्रीट फूड का लुत्फ लेने पहुंच जाते हैं। कुछ समय पहले पुराने भोपाल स्थित एक होटल पर खाना खाने पहुंच गए। उस समय वे शिवराज सरकार के मंत्री थे। उन्होंने सहजता के साथ कार्यकर्ताओं से मुलाकात की। वहीं खाना खाते समय उनकी समस्याएं भी सुनीं। यह वाकया देर रात का था, जब भार्गव पुराने भोपाल स्थित नादरा बस स्टैंड पहुंचे थे। बताया जाता है कि जब भी मंत्रीजी का मूड दाल तड़का खाने का हो जाता है वे यह सादा खाना खाने चले आते हैं।

 

बेटे की शादी भी हुई थी सादगी से
दो साल पहले गोपाल भार्गव के बेटे की शादी सादगी की मिसाल बन गई थी। उन्होंने अपने बेटे की शादी सामूहिक विवाह कार्यक्रम में ही की थी। प्रदेश के पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री गोपाल भार्गव सामाजिक समरसता के उद्देश्य से बेटी डॉ. अवंतिका और बेटे अभिषेक का विवाह मुख्यमंत्री कन्यादान योजना के तहत सागर में हुआ था। किसी मंत्री द्वारा पद पर रहते हुए सादगी से विवाह कराने का यह अहम फैसला था। यह शादी सागर के किसान स्टेडियम में 22 अप्रैल 2015 को हुई थी। इस सामूहिक विवाह सम्मेलन में 1100 जोड़े परिणय सूत्र में बंधे थे। इस विवाह की खास बात यह भी है कि इसमें प्रीति भोज की व्यवस्था बुफे में नहीं करके पंगत में की गई थी।

 

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned