scriptIndore Western Ring Road Censored Toll Booth | सड़क पर लगेंगे सेंसर, जितना चलेंगे उतनी ही दूरी का देना होगा टोल टैक्स | Patrika News

सड़क पर लगेंगे सेंसर, जितना चलेंगे उतनी ही दूरी का देना होगा टोल टैक्स

locationभोपालPublished: Feb 05, 2024 09:07:59 pm

Submitted by:

deepak deewan

इंदौर में एक गजब की रोड बन रही है। इस रोड पर सेंसर वाले बूथ लगाए जाएंगे। खास बात यह है कि रोड पर जितना सफर तय करेंगे, केवल उतनी ही दूरी का टोल टैक्स लगाया जाएगा। इंदौर की पश्चिमी रिंग रोड पर यह प्रयोग किया जाएगा। 64 किमी लंबी इस रिंग रोड का निर्माण दो हिस्सों में किया जाएगा।

ringroad3.png
इंदौर में एक गजब की रोड बन रही है

इंदौर में एक गजब की रोड बन रही है। इस रोड पर सेंसर वाले बूथ लगाए जाएंगे। खास बात यह है कि रोड पर जितना सफर तय करेंगे, केवल उतनी ही दूरी का टोल टैक्स लगाया जाएगा। इंदौर की पश्चिमी रिंग रोड पर यह प्रयोग किया जाएगा। 64 किमी लंबी इस रिंग रोड का निर्माण दो हिस्सों में किया जाएगा।

पश्चिमी रिंग रोड का निर्माण भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण एनएचएआइ द्वारा किया जा रहा है। रोड पर बने बूथ में सेंसर लगाए जाएंगे और फास्टैग से टोल राशि काटी जाएगी। इस रिंग रोड के माध्यम से वाहनों को इंदौर शहर में प्रवेश करने की बजाए बाहर से ही निकाल दिया जाएगा। इससे शहर में बढ़ते यातायात से उपजी जाम की बड़ी समस्या से भी निजात मिल सकेगी।

यह भी पढ़ें: बड़े स्कूलों में मुफ्त होगी पूरी पढ़ाई, एडमिशन के लिए फरवरी में परीक्षा

पश्चिमी रिंग रोड के निर्माण में एनएचएआइ नया प्रयोग कर रहा है।
रिंग रोड पर वाहन चालकों को केवल उतना ही टोल टैक्स चुकाना होगा जितनी दूरी उन्होंने इस रोड पर तय की है। यहां टोल प्लाजा नहीं बनाए जाएंगे बल्कि रोड पर सेंसर संचालित बूथ बनाए जाएंगे।

रिंग रोड पर आए वाहनों को कैमरों से स्कैन कर लिया जाएगा और फास्टैग से निर्धारित शुल्क काट लिया जाएगा। यह पहली ऐसी सड़क होगी जिसमें टोल टैक्स वसूलने के लिए टोल प्लाजा नहीं होगा। रोड पर बने सेंसर युक्त बूथ के माध्यम से ही टोल लिया जाएगा।

यह रोड करीब दस जगहों से जोड़ी जाएगा। 64 किमी की रिंग रोड दो टुकडों में बनेगी। रामपुर से हातोद तक 34 किमी का हिस्सा और हातोद से क्षिप्रा तक 30 किमी की सड़क बनाई जाएगी। इंदौर जिले की पांच तहसीलों के 47 गांवों से यह रोड निकलेगी। मार्च में इसके टेंडर खोले जाएंगे। इसके तुरंत बाद रोड का निर्माण कार्य शुरू कर दिया जाएगा।

ट्रेंडिंग वीडियो