नई समिति में सिंधिया का दबदबा, दिग्गज नेताओं की जाति बदलकर हुई बीजेपी की किरकिरी

पहली बार जाति का कॉलम जोड़कर फंसी, कांग्रेस ने कहा नहीं तो 'भारतीय जाति पार्टी' नाम हो जाता...।

By: Manish Gite

Updated: 09 Jun 2021, 10:03 AM IST

 

भोपाल। प्रदेश की भारतीय जनता पार्टी (bhartiya janata party) में जाति देखकर सदस्य शामिल किए गए हैं। किरकिरी हुई तो आधी रात को जाति हटाकर दूसरी सूची जारी कर दी गई। प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा की सहमति से बनी 402 सदस्यों वाली इस जंबो सूची में राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया (jyotiraditya m scindia) का सीधे तौर पर दबदबा नजर आया। उनके भोपाल दौरे से एक दिन पहले सूची जारी कर दी गई। कार्यसमिति के 162 सदस्य और विशेष आमंत्रित 217 सदस्यों में कु 68 नेता सिंधिया समर्थक हैं। वहीं 23 स्थाई सदस्यों में सीएम शिवराज सिंह चौहान पहले और सिंधिया (@JM_Scindia) 7वें नंबर पर हैं।

 

यह भी पढ़ेंः lok sabha election 2024: उमा भारती ने चुनाव लड़ा तो बदल जाएंगे कई सियासी समीकरण

list.jpg

भाजपा की प्रदेश कार्यसमिति में नारायण को नहीं मिली जगह, कांग्रेस छोड़ भाजपा में आए श्रीकांत का बढ़ा कद

scindia.jpg

प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा को हर स्तर पर संतुलन के लिए मजबूर होना पड़ा। यही वजह रही कि पूर्व मंत्री जयंत मलैया, अजय विश्नोई और वरिष्ठ नेता रघुनंदन शर्मा का नाम भी सूची में है। मलैया और विश्नोई की वीडी शर्मा (vd sharma) से पटरी नहीं बैठ रही है, लेकिन इनका नाम भी शामिल करना पड़ा।

 

यह भी पढ़ेंः उमा भारती का बड़ा बयान- कोई माई का लाल मुझे पद से नहीं हटा सकता था

 

shivraj.jpg

 

दरअसल, लंबे समय से भाजपा संगठन यह कह रहा था कि इस बार कार्यसमिति छोटी होगी। सौ से ज्यादा नाम नहीं होंगे, लेकिन बड़े नेताओं में संतुलन बनाने की मजबूरी के चलते जंबो सूची बनानी पड़ी। वहीं, पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती, वरिष्ठ नेता कप्तान सिंह सोलंकी, मेघराज जैन व बाबूलाल जौन समेत कई वरिष्ठ नेता सूची में नहीं हैं। इस जंबो टीम के बावजूद अभी प्रकोष्ठ विभाग और प्रवक्ता-पैनलिस्ट के नाम आना बाकी हैं। साथ ही मोर्चों और जिलों की कार्यकारिणी भी आना है।

BJP की प्रदेश कार्यसमिति में जाति पर सियासत, राज्यमंत्री कुर्मी, सांसद राजपूत

तो भारतीय जाति पार्टी हो जाती

कार्यसमिति की सूची पर कांग्रेस ने कहा कि भाजपा ने पदाधिकारियों की सूची के आगे से जाति का कालम हटा दिया, नहीं तो आज से यह 'भारतीय जाति पार्टी' बन जाती।

 

यह भी पढ़ेंः Jyotiraditya M. Scindia- भाजपा के हुए सिंधिया, कहीं स्वागत, कहीं दिखी बौखलाहट

 

 

vd_sharma.jpg

अब एक टीम में विरोधी झा-पवैया

स्थाई आमंत्रित सदस्यों में सिंधिया के विरोधी माने जाने वाले प्रभात झा और जयभान सिंह पवैया भी शामिल हैं। स्थाई आमंत्रित सदस्यों में पहली बार ज्योतिरादित्य सिंधिया, सुमित्रा महाजन और जयभान सिंह पवैया का शामिल होना विशेष रहा। वहीं, इसके अलावा भोपाल से कृष्णा घाडगे और इंदौर से प्रमोद टंडन का नाम भी सिंधिया समर्थक के तौर पर शामिल किया गया है।

uma.jpg

हारे मंत्रियों को भी जगह

सिंधिया समर्थक हारे मंत्री भी नई टीम में शामिल किए गए। इनमें एंदल सिंह कंसाना और इमरती देवी को कार्यसमिति सदस्य बनाया गया, जबकि गिर्राज दंडोतिया को विशेष आमंत्रित सदस्य रखा है।

 

मंत्री-सांसद समेत अन्य

नई टीम में मंत्री, सांसद और विधायक समेत अन्य पदाधिकारी भी हैं। वहीं 26 विधायक और 19 मंत्री हैं। विशेष आमंत्रित सदस्यों में 8 लोस सांसद, 1 राज्यसभा सांसद और 25 विधायक हैं। सिंधिया समर्थक सभी मंत्रियों को रखा गया है।

 

यह भी पढ़ेंः

पहली बार सांसद बने नेता को सौंपी गई जिम्मेदारी

BJP
Manish Gite
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned