लड़के- लड़कियों में तेजी से फैल रही है ये भयंकर बीमारी, ये होते है लक्षण

लड़के- लड़कियों में तेजी से फैल रही है ये भयंकर बीमारी, ये होते है लक्षण
online shopping addiction

Astha Awasthi | Updated: 14 Jun 2019, 04:44:58 PM (IST) Bhopal, Bhopal, Madhya Pradesh, India

ऑनलाइन शॉपिंग की आदत शारीरिक रूप भी कमजोर बना रही है....लोगों को घेर रही है ये बीमारी........

भोपाल। ऑनलाइन शॉपिंग में सस्ता सामान खरीदी की चाहत अब यंगस्टर्स को एडिक्शन का शिकार बनाती जा रही है। लोग ऑनलाइन शॉपिंग के कारण बीमारी की चपेट तक में आ रहे हैं। एडिक्शन का सबसे ज्यादा शिकार महिलाएं और यंगस्टर्स हो रहे हैं। मनोचिकित्सक डॉ. सत्यकांत त्रिवेदी के अनुसार ऑनलाइन शॉपिंग की आदत शारीरिक रूप भी कमजोर बना रही है। इससे मसल्स पैन की प्रॉब्लम होना भी सामने आ रही है। बाजार से शॉपिंग करने में फिजिकल एक्टिविटी करनी होती है। ऑनलाइन शॉपिंग में लोग समय बचाने और ऑफर के फेर में पड़कर पूरी तरह से ई-कॉमर्स बेवसाइट्स की ओर आकर्षित हो रहे हैं। ऐसे में उन्हें फायदे की जगह नुकसान ही हो रहा है।

ऑनलाइन शॉपिंग

केस 1

अरेरा कॉलोनी में रहने वाली २8 वर्षीय चार्टड एकाउंटेंट महिला परिवार से दूर रहने के कारण वेबसाइट्स पर प्रोडक्ट देखती रहती। ऑनलाइन शॉपिंग की ऐसी लत लगी कि काम के समय में भी वह ऑनलाइन प्रोडक्ट ही देखती रहती। ये सिलसिला देर रात तक चलता। कई बार तो महीने में चालीस से पचास तक की शॉपिंग कर डालती। जब डॉक्टर से कंसल्ट किया तो पता चला कि वह शॉपाहोलिक हो चुकी है।

केस 2

आईटी फर्म से जुड़े एक युवा को ऑफर्स में खरीदी करता था। धीरे-धीरे उसे हर समय ऑनलाइन साइट्स देखने की लत पड़ गई। ये लत इतने खतरनाक स्तर तक पहुंच गई कि सैलेरी का एक बड़ा हिस्सा शॉपिंग में ही खर्च हो जाता। जब उसने काउंसलर की मदद ली तो पता चला कि वह इस एडिक्शन का शिकार हो चुका है। करीब तीन माह की काउंसलिंग के बाद वह इस एडिक्शन से दूर हो पाया।

online shopping addiction

ये हैं एडिक्शन लक्षण

- खरीदारी करने के बाद क्रोधित हो जाना।
- ज्यादा से ज्यादा समय उत्पाद चुनने में बिताते हैं।
- ऑनलाइन खरीदारी को लेकर दोस्तों से भी मतभेद हो जाते हैं।
- खरीदारी करते समय खुद को परेशान महसूस करते हैं।
- खरीदारी करने के बाद खुद कन्फ्यूज हो जाते हैं।
- खरीदारी करने के फेर में ऐसी चीजें भी खरीद लेते हैं जो आपके काम की ही नहीं है।
- ऑफर के लालच में बजट से ज्यादा की चीजें खरीद लेते हैं।
- खरीदारी के लिए जरूरी बजट में भी कटौती कर देते हैं।

यंगस्टर्स ये रखें ख्याल

डॉ. सत्यकांत के अनुसार ऑनलाइन शॉपिंग की आदत वाले मरीजों को शॉपाहोलिक यानी खरीदारी का व्यसनी भी कहा जाता है। इसे लेकर कई तरह के शोध भी हो चुके हैं। एक शोध के अनुसार अब तक ये आदत अमेरिका और इंग्लैंड जैसों में देखी जाती थी, लेकिन अब भारत में भी लोग इसके शिकार होने लगे हैं। ऑनलाइन शॉपिंग करने वाले करीब पांच से सात फीसदी तक शॉपाहोलिक के शिकार हैं।

मनोचिकित्सक की ले रहे सलाह

डॉ. त्रिवेदी के अनुसार लोग इसके पूरी तरह लती हो जाते हैं, लत के फेर में वे दोस्तों-परिवार तक से कट जाते हैं। उनकी महीनों तक काउंसलिंग करना पड़ती है। कई लोग तो लाखों तक की शॉपिंग कर लेते हैं।

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned