#coronavirus: 2019 में ही हो गई थी कोरोना वायरस की पहचान, सामने आये थे अजीब किस्म की निमोनिया के मामले

#coronavirus: #patrikaCoronaTRUTHs, #patrikaCoronaLATEST, coronavirus: #coronavirus: #coronavirus: इटली के चिकित्सकों ने नवंबर 2019 की शुरुआत में एक अजीब किस्म के निमोनिया के मामले देखे थे।

Vikas Gupta

22 Mar 2020, 11:24 PM IST

#coronavirus: #patrikaCoronaTRUTHs, #patrikaCoronaLATEST, coronavirus: #coronavirus: #coronavirus: वॉशिंगटन। इटली के चिकित्सकों ने नवंबर 2019 की शुरुआत में एक अजीब किस्म के निमोनिया के मामले देखे थे। इसका मतलब यह हो सकता है कि पिछले दिसंबर में चीन में नए कोरोना वायरस का प्रकोप आने से पहले से ही ये वायरस इटली के हिस्सों में फैल रहा था। ये जानकारी एक अमेरिकी रेडियो ने दी है। समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के मुताबिक, नेशनल पब्लिक रेडियो ने सह-लेखक गिउसेपी रेमुजी का हवाला देते हुए द लेसेंट में इटली में फैली महामारी के बारे में बताते हुए एक पेपर में यह बात कही है।

इस रिपोर्ट के मुताबिक, 21 फरवरी को वायरस के प्रकोप का खुलासा होने के बाद इटली में सुरक्षा के इंतजाम सवालों के घेरे में आए।

रेमुजी ने कहा कि वह चिकित्सकों से इसके बारे में सुन रहे थे। रिपोर्ट में रेमुजी के हवाले से लिखा गया है, "मुझे याद है कि बुजुर्ग लोगों में बहुत अजीब निमोनिया देखा गया, विशेष रूप से नवंबर और दिसंबर में।" उन्होंने कहा, "इसका मतलब है कि वायरस कम से कम (उत्तरी क्षेत्र में) लोम्बार्डी में घूम रहा था, चीन में होने वाले इसके प्रकोप के पहले से।"

रेमुजी का मानना था कि अन्य देश इटली से महत्वपूर्ण सबक सीख सकते हैं। इटली में शनिवार को कोरोना वायरस के 6,557 नए मामले आए। 21 फरवरी को इसके उत्तर में महामारी फैलने के बाद से अब तक कुल 53,578 मामले आ चुके हैं। पिछले हफ्ते इसने चीन के मौत के आंकड़े को पार कर लिया, जिससे यह वैश्विक स्तर पर इस संकट से सबसे अधिक प्रभावित देश बन गया है। रविवार तक इटली में 4,825 मौतें दर्ज की गईं, जबकि चीन में अब तक कुल 3,144 मौतें दर्ज हुईं हैं।

विकास गुप्ता Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned