जिपट्राॅन टेक्नोलाॅजी से लैस होंगी Tata की इलेक्ट्रिक कारें, मिलेगा ये फायदा

  • इलेक्ट्रिक कारों की दुनिया में टाटा मोटर्स का नया प्रयास
  • बढ़ जाएगी कारों की रेंज
  • बैटरी को मिलेगी कई गुना ज्यादा सुरक्षा

नई दिल्ली: सभी कंपनियां फिलहाल इलेक्ट्रिक कार और बाइक्स पर फोकस कर रही हैं। लेकिन टाटा मोटर्स ने अपनी इलेक्ट्रिक कारों के बारे में एक खास जानकारी दी है जिसके बाद ये कारें बाकी बाजार से अलग खड़ी नजर आती है। दरअसल टाटा मोटर्स अपनी इलेक्ट्रिक कारों में खास जिपट्रॉन टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल करने वाली है।

मात्र 1100 रूपए में घर ले जा सकते हैं होंडा का ये स्कूटर, कैशबैक का भी है ऑप्शन

क्या है जिपट्रॉन टेक्नोलॉजी-

जिपट्रॉन एक इलेक्ट्रिक पॉवरट्रेन टेक्नोलाॅजी है जो टाटा मोटर्स की आने वाली सभी इलेक्ट्रिक कारों को एक कुशल हाई-वोल्टेज सिस्टम, लंबी बैटरी रेंज, फास्ट-चार्जिंग क्षमता और मजेदार ड्राइविंग प्रदान करेगी। जिपट्रॉन टेक्नोलाॅजी के तहत कार में एक कुशल एसी इलेक्ट्रिक मोटर दिया जाएगा, जो हर स्थिति में बेहतर प्रदर्शन देगा, जबकि कार मे लगने वाली बैटरी डस्ट और वाटरप्रुफ होगी। इतना ही नहीं, कार में दिए जाने वाले ब्रेक्स चलते समय बैटरी को चार्ज भी करेंगे। कार में 8 साल की वारंटी के साथ आईपी 67 स्टैंडर्ड बैटरी दी जाएगी।

Maruti लाने वाला wagon r का लग्जरी वर्जन, जानें क्या होगा खास

tata_tigor.jpg

टाटा ने जिपट्रॉन फ्रीडम 2.0 कैंपेन की शुरुआत की है जिसके तहत लोगों को इस टेक्नोलाॅजी के प्रति जागरूक किया जाएगा। इस टेक्नोलॉजी की हेल्प से कारों की रेंज में इजाफा होगा।

खुशखबरी ! 25 सितंबर से शुरू होगी Maruti S Presso की बुकिंग, 1 लीटर में चलेगी 24 किमी

आपको बता दें कि फिलहाल टाटा अभी टिगॅार के इलेक्ट्रिक माॅडल को बाजार में लेकर आई है, और कंपनी नेक्सन कॉम्पैक्ट-एसयूवी के इलेक्ट्रिक वेरिएंट पर भी काम कर रही है। इस कार की लॉन्चिंग अगले साल यानि 2020 में हो सकती है।

Show More
Pragati Bajpai
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned