scriptChampai claims to form government, Hemant sent to judicial custody | चंपई सोरेन ने सरकार बनाने का दावा किया, हेमंत सोरेन को न्यायिक हिरासत में भेजा | Patrika News

चंपई सोरेन ने सरकार बनाने का दावा किया, हेमंत सोरेन को न्यायिक हिरासत में भेजा

locationचाईबासाPublished: Feb 01, 2024 09:42:02 pm

Submitted by:

Devkumar Singodiya

राज्यपाल ने कहा कि मैं विधि-विशेषज्ञों से राय ले रहा हूं और जल्दी ही बुलावा भेजूंगा। उधर, सोरेन को कड़ी सुरक्षा के बीच ईडी की विशेष अदालत में पेश किया गया। जहां से उन्हें न्ययिक हिरासत में भेज दिया गया।

चंपई सोरेन ने सरकार बनाने का दावा किया, हेमंत सोरेन को न्यायिक हिरासत में भेजा
चंपई सोरेन ने सरकार बनाने का दावा किया, हेमंत सोरेन को न्यायिक हिरासत में भेजा

झारखंड में झारखंड मुक्ति मोर्चा गठबंधन के विधायक दल के नेता चंपई सोरेन ने सरकार बनाने का दावा पेश किया। इस पर राज्यपाल ने कहा कि वह जल्द विचार कर सूचित करेंगे।

राज्यपाल सीपी राधाकृष्णन से गुरुवार को समय मिलने के बाद चंपई सोरेन के साथ चार अन्य विधायक राजभवन पहुंचे। राज्यपाल से मिलकर सरकार बनाने का दावा पेश किया। मौके पर राजभवन से बाहर निकलकर सोरेन ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि राज्यपाल ने कहा कि जल्द विचार कर सूचित करेंगे। हमारा गठबंधन बहुत मजबूत है। हमारा कोई कुछ नहीं कर सकेगा। हमारे पास पर्याप्त विधायकों का समर्थन प्राप्त है। 43 विधायकों का समर्थन हमने राज्यपाल को सौंपा है। यह संख्या शुक्रवार तक 47 हो जायेगी।

राज्यपाल ने विधि-विशेषज्ञों की राय मांगी

विधायक प्रदीप यादव ने बताया कि राज्यपाल ने कहा कि मैं विधि-विशेषज्ञों से राय ले रहा हूं और जल्दी ही बुलावा भेजूंगा। यादव ने कहा कि हमलोगों ने राज्यपाल से अविलंब सरकार गठन कराने की मांग की। उन्होंने कहा कि हमें उम्मीद है कि शुक्रवार को सरकार गठन का बुलावा आ जायेगा। सोरेन की मांग पर राज्यपाल ने कहा कि मुझे रात तक का समय दीजिए। मैंने विधि-विशेषज्ञों की राय मांगी है। जल्द ही कोई फैसला आयेगा मैं बुलावा भेजूंगा। सोरेन के नेतृत्व में विधायक आलमगीर आलम, सत्यानंद भोक्ता, विनोद सिंह और प्रदीप यादव राजभवन पहुंचे थे।


एक दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा, रिमांड पर फैसला कल

झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को ईडी के विशेष जज दिनेश राय ने एक दिन के न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया। सोरेन के रिमांड पर फैसला दो फरवरी को सुनाया जाएगा। पीएमएलए कोर्ट में सोरेन का पक्ष झारखंड के महाधिवक्ता राजीव रंजन ने रखा और कहा कि यह प्रिडिकेट ऑफेंस नहीं है। ईडी के वकील ने कहा कि आईपीसी की धारा 120बी के तहत कार्रवाई जारी है इसलिए इन्हें कस्टडी में लेना अनिवार्य है। यह कार्रवाई शेड्यूल ऑफ ऑफेंस में आता है।

ईडी की विशेष अदालत में हुई सुनवाई

दोनों पक्षों को सुनने के बाद कोर्ट ने सोरेन को एक दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेजने का आदेश दिया। अदालत ने कहा कि रिमांड पर फैसला कल सुनाया जाएगा। इससे पहले सोरेन को कड़ी सुरक्षा के बीच ईडी की विशेष अदालत में पेश किया गया। उल्लेखनीय है कि सोरेन को ईडी की टीम ने भूमि घोटाला मामले में 31 जनवरी की रात गिरफ्तार किया था।

ट्रेंडिंग वीडियो