तुलसी में होता है मां लक्ष्मी का वास, इसके पत्ते तोड़ने के नियम जानना आपके लिए है जरूरी

तुलसी में होता है मां लक्ष्मी का वास, इसके पत्ते तोड़ने के नियम जानना आपके लिए है जरूरी

Nitin Sharma | Updated: 18 Apr 2019, 04:18:23 PM (IST) दस का दम

  • तुलसी के पौधा धार्मिक पौधा माना जाता है।
  • इसमें धन की देवी माता लक्ष्मी का वास होता है।
  • भगवान विष्णु की पूजा में तुलसी के पत्तों का इस्तेमाल ज़रूर करना चाहिए।

नई दिल्ली। धार्मिक तौर पर तुलसी को पूजा में इस्तेमाल करना बहुत शुभ माना जाता है। इसका इस्तेमाल भगवान विष्णु की पूजा में खासतौर पर किया जाता है। शास्त्रों में बताया गया है कि भगवान विष्णु को किसी भी वस्तु का भोग अर्पण करते समय उसमें तुलसी के पत्तों का इस्तेमाल करने से भगवान भोग स्वीकार करते हैं। तुलसी के पत्तों को तोड़ने से जुड़े कुछ विशेष नियम हैं जिनका पालन करना बहुत जरूरी होता है।

पैसों की तंगी से मिलेगा छुटकारा, बस जेब में रखनी होंगी कौड़ियां और गोमती चक्र

1.शास्त्रों में बताया गया है कि तुलसी के पत्तों को कभी भी नाखूनों से नहीं तोड़ना चाहिए इससे आपको दोष लगता है घर पर अशुभ असर पड़ता है।

2.इसी के साथ कभी भी शाम के समय सूर्यास्त होने के बाद तुलसी के पत्ते नहीं तोड़ने चाहिए और ना ही तुलसी को स्पर्श करना चाहिए।

3.रविवार के दिन तुलसी के पत्ते तोड़ने पर पाबंदी होती है कहा जाता है कि इस दिन तुलसी के पत्ते तोड़ने से परेशानियां हावी होने लगती हैं।

4.रविवार के दिन के अलावा एकादशी, चंद्र ग्रहण और द्वादशी के दिन भी तुलसी के पत्ते तोड़ने की मनाही होती है इस दौरान इन्हे तोड़ने से आप पाप के भागीदार बनते हैं।

5.तुलसी के पत्तों को कभी चबाना नहीं चाहिए इसके बदले इन्हें निगल लें क्योंकि तुलसी में पारा धातु होता है जो दाँतों को नुकसान पहुंचा सकता है।

भगवान शंकर को चढ़ाएं घी और शहद, शादीशुदा जीवन में मिलेगा फायदा

tulsi plant

6.शास्त्रों में बताया गया है कि कभी भी भगवान शिव की पूजा में तुलसी के पत्तों का इस्तेमाल नहीं करना शिव जी की पूजा में तुलसी का प्रयोग वर्जित है।

7.मुरझाया या सूखा हुआ तुलसी का पत्ते कभी भी पूजा या धार्मिक काम में इस्तेमाल ना करें इसे तुलसी के पौधे में मिट्टी में दबा दें।

8.किसी भी शुभ कार्य, शुभ मुहूर्त, विवाह, ग्रह प्रवेश जैसे धार्मिक कार्यों में तुलसी के पत्तों का इस्तेमाल करने से आपका कार्य बिना विघ्न के पूरा होता है।

9.एक बार तोड़े गए तुलसी के पत्तों का इस्तेमाल लगातार 11 दिन तक किया जा सकता है ये 11 तक बासी नहीं होते हैं लेकिन इस्तेमाल करने से पहले इन्हे गंगा जल से साफ कर लेना चाहिए।

10.तुलसी के पौधे में देवी लक्ष्मी का रूप माना जाता है इसलिए वास्तु के हिसाब से इसे घर की उत्तर पूर्व दिशा में रखना अधिक लाभकारी होता है।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned