भारत को जख्म देने वाला टेरेरिस्ट मसूद अजहर खुद हुआ जख्मी, इन 10 प्वाइंट्स में जानें कैसे बना आतंकी

भारत को जख्म देने वाला टेरेरिस्ट मसूद अजहर खुद हुआ जख्मी, इन 10 प्वाइंट्स में जानें कैसे बना आतंकी

Soma Roy | Publish: Jun, 24 2019 01:16:54 PM (IST) | Updated: Jun, 24 2019 01:18:47 PM (IST) दस का दम

  • Masood Azhar injured : एयर इंडिया प्लेन हाईजैक मामले में भारत से रिहा होने के बाद मसूद अजहर ने किया था जैश संगठन का निर्माण
  • मसूद अजहर ने पुलवामा से लेकर भारतीय संसद तक में आतंकी गतिविधियों को अंजाम दिया है

नई दिल्ली। पुलवामा से लेकर उरी तक में कई आतंकी हमलों को अंजाम देने वाले जैश-ए-मोहम्मद सगरना मसूद अजहर के घायल होने की बात सामने आई है। बताया जा रहा है कि रावलपिंडी शहर के सैन्य अस्पताल में रविवार को हुए बम धमाके में मसूद अजहर समेत 10 आतंकी घायल हो गए हैं। अपने नापाक इरादों से कई बार भारत का सीना जख्मी करने वाला मसूद आज खुद जख्मी हालत में है। तो कैसे एक टीचर का बेटा आतंक की दुनिया के बेताज बादशाह बन गया आइए जानते हैं।

1.मसूद अजहर का जन्म पाकिस्तान के बहावलपुर में 1968 को हुआ था। मसूद के पिता सरकारी स्कूल में हेडमास्टर थे। वहीं उनके परिवार में डेयरी का काम चलता था।

पुण्यतिथि : रानी दुर्गावती के बारे में ये 10 बातें नहीं जानते होंगे आप, अकबर का भी आया था इन पर दिल

2.मसूद के दिमाग में छोटे से ही विद्रोह की भावना थी। उसकी ये भावना अपने भाई रउफ के आतंकी संगठन में शामिल होने के चलते और बढ़ गई। मालूम हो कि मसूद के भाई का नाम सन् 1999 में काठमांडू में एयर इंडिया विमान के अपहरण मामले में सामने आया था।

3.बताया जाता है कि एयर इंडिया के विमान को हाईजैक करने का मुख्य साजिशकर्ता मसूद का भाई रउफ था। उसने अपने प्लान को अंजाम तक पहुंचाने की जिम्मेदारी मसूद को दे रखी थी।

4.मसूद ने 5 अन्य हथियारबंद आतंकियों के साथ मिलकर इंडियन एयरलाइन्स IC-814 को नेपाल के काठमांडू से हाईजैक किया था। उन्होंने प्लेन को अमृतसर, लाहौर और दुबई से अफगानिस्तान के कंधार एयरपोर्ट ले गए थे।

5.प्लने हाईजैक मामले में भारत ने मसूद को गिरपफ्तार किया था। हालांकि बाद में उसे रिहा कर दिया गया था। इसके बाद से ही मसूद अजहर के दिल में आतंक के बीज ने पैर पसार लिए। उसने आतंकी गतिविधियों को अंजाम देने के लिए साल 2000 में आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद का गठन किया था।

terrorist

6.साल 2001 में भारतीय संसद पर हुए हमले का मास्टरमाइंड भी मौलाना मसूद अजहर था। इस हमले में नौ सुरक्षाकर्मी शहीद हो गए थे। भारत ने पाकिस्तान से मसूद को सौंपने की मांग की थी, लेकिन पाक ने इस बात से इंकार कर दिया था।

7.14 फरवरी को पुलवामा में सीआरपीएफ जवानों पर हुए आतंकी हमले में भी मसूद अजहर का नाम सामने आया था। हमले के बाद जैश संगठन ने इसका एक वीडियो जारी कर घटना की पुष्टि की थी।

8.जनवरी 2016 को पठानकोट हमले में भी जैश का हाथ था। मजूद अजहर ने पूरी घटना का प्लान तैयार किया था।

9.सितंबर 2016 में भी हुए उरी हमले को अंजाम देने के पीछे भी मसूद अजहर का नाम ही सामने आया था। इस हमले में 19 भारतीय जवान शहीद हो गए थे।

10.मालूम हो कि रविवार को पाकिस्तान के रावलपिंडी सैन्य अस्पताल में हुए बम धमाके में 10 आतंकी गंभीर रूप से घायल हो गए थे। इसमें जैश सरगरना मजूद अजहर भी था। बताया जा रहा है कि मसूद अपनी बीमारी के इलाज के लिए अस्पताल में आया था।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned