सावन में बिल्व पत्र के ये 10 उपाय बना सकते हैं आपको करोड़पति

सावन में बिल्व पत्र के ये 10 उपाय बना सकते हैं आपको करोड़पति

Soma Roy | Publish: Jul, 18 2019 05:28:37 PM (IST) दस का दम

  • belpatra ke upay : बिल्व पत्र के वृक्ष की जड़ को घिसकर माथे पर लगाने से आकर्षण बढ़ता है
  • बिल्व पत्र पर चंदन से शिव मंत्र लिखकर शिवलिंग पर चढ़ाना शुभ होता है

नई दिल्ली। सावन के मौसम में शिव जी को प्रसन्न करने के लिए बिल्व पत्र चढ़ाए जाते हैं। इससे भक्त के सभी संकट दूर होते हैं। शास्त्रों में बिल्व पत्र को बेहद शुभ माना गया है। अगर सावन माह में इसके कुछ खास उपाय किए जाएं तो व्यक्ति को धन लाभ समेत कई दूसरे फायदे हो सकते हैं।

1.बिल्वपत्र के वृक्ष को श्रीवृक्ष के नाम से भी जाना जाता है। इसकी जड़ में मां लक्ष्मी का वास होता है। ऐसे में सावन माह में बिल्व पत्र के पेड़ पर जल चढ़ाने से व्यक्ति को धन की प्राप्ति होती है।

850 साल पुराने इस शिवलिंग को आज तक नहीं हिला पाया कोई, जानें राजेश्वर मंदिर से जुड़ी 10 खास बातें

2.पंडित हरिओम द्विवेदी के अनुसार जिन लोगों के काम बनते हुए बिगड़ जाते हैं। उन्हें सावन में बिल्वपत्र की जड़ का पूजन करना चाहिए। इससे संकट दूर होते हैं।

3.जो लोग तीर्थ स्थल के दर्शन के लिए नहीं जा पाते हैं। उन्हें बिल्वपत्र की जड़ का जल अपने माथे पर लगाना चाहिए। इससे तीर्थ भ्रमण के अनुसार ही फल मिलता है।

4.जो लोग आकर्षण बढ़ाना चाहते हैं उन्हें सावन के सोमवार को शिवलिंग पर बेलपत्र की जड़ चढ़ाएं अब उसे घिसकर अपने माथे पर लगा लें। ऐसा करने से आपमें सकारात्मकता आएगी।

5.जो लोग अपने दामपत्य जीवन को खुशहाल बनाना चाहते हैं उन्हें शिव और पार्वती पर बेलपत्र चढ़ाना चाहिए। इससे पति-पत्नी के बीच संबंध मधुर बनेंगे।

shivlinga puja

6.मोक्ष की प्राप्ति के लिए शिवलिंग पर 108 बेलपत्र चढ़ाएं। साथ ही ओम नम: शिवाय मंत्र का 108 बार जाप करें। ऐसा करने से मानसिक शांति मिलेगी।

7.अगर आपको नौकरी नहीं मिल रही है या कोई अन्य समस्या हैं तो बेलपत्र की जड़ में दूध चढ़ाएं। इससे शिव जी की आप पर कृपा होगी।

9.सावन के महीने में बिल्व पत्र पर चंदन से ओम नम: शिवाय लिखें। इसे शिवलिंग पर चढ़ाएं। ऐसा करने से व्यक्ति की सभी मनोकामनाएं पूरी होंगी।

10.सावन के महीने में बिल्व पत्र के वृक्ष पर चीनी मिश्रित जल चढ़ाएं। साथ ही सात बार परिक्रमा करें। ऐसा करने से आपके जीवन में आ रही दिक्कतें दूर होंगी।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned