96 परसेंट मजदूरी और 4 परसेंट गुडलक के साथ ऐसे हीरो बन गए शम्मी कपूर, उनके जन्मदिन पर जानिए ये 10 खास बातें

शम्मी कपूर की आज 88वीं बर्थ एनिवर्सरी हैं।

Vivhav Shukla

October, 2002:50 PM

दस का दम

नई दिल्ली। भारतीय फिल्म इंडस्ट्री के सबसे बड़े एक्टर शम्मी कपूर की आज 88वीं बर्थ एनिवर्सरी हैं। शम्मी ने लगभग 3दशक तक बॉलीवुड इंडस्ट्री में अपने नाम का सिक्का चलाया। वो जिस फिल्म में होते थे वो फिव्म हिट होनी ही था। उनकी अपनी डांसिंग स्टाइल के लिए उन्हें बॉलीवुड का ‘एल्विस प्रेस्ली’ कहा जाने लगा। उस जमाने में जब लोगों को फोन के बारें में भी अच्छे से नहीं पता था शम्मी भारत में इंटरनेट चलाते थे। एप्पल का पहला कंप्यूटर इंडिया में उन्होंने ही यूज़ किया था। साल 2011 में शम्मी कपूर की 'क्रोनिक रीनल' फेल हो जाने के कारण मृत्यु हो गई थी। आइए जानते हैं शम्मी कपूर के बारे में दस खास बातें।

Shammi Kapoor

1- शम्मी कपूर का जन्म 21 अक्टूबर 1931 को मुंबई में ही हुआ था। जन्म के वक्त शम्मी कपूर को उनके पिता पृथ्वीराज कपूर ने 'शमशेर राज कपूर' नाम दिया था लेकिन उन्होंने बाद में अपना नाम बदल कर शम्मी कर दिया।

 

2- जब शम्मी गर्भ में थे तो उनके मां-बाप को बहुत डर सता रहा था।क्योंकि राज कपूर के बाद हुए उनके दो बच्चे चल बसे थे। शम्मी अपने परिवार के अकेले बच्चे थे जिनकी डिलीवरी अस्पताल में हुई थी।

3- शम्मी कपूर ने अपने भाई राज कपूर के चलते स्कूल छोड़ दिया था। हुआ यूं की राज को पृथ्वी थियेटर्स एक रोल मिला था। लेकिन उन्हें स्कूल से छुट्टी नहीं मिली। जिसके बाद उनका रोल शम्मी क करना पड़ा। इसके लिए उन्होंने स्कूल छोड़ दिया।

4- बॉलीवुड में हीरो बनने से पहले शम्मी कपूर एक जूनियर आर्टिस्ट थे। उनके काम के लिए उन्हें महीने के 50 रुपये सैलरी मिलती थी ।

5- शम्मी ने दूसरों लोगों की तरह पिता के थियेटर में काम किया था और उनके पिता ने भी कभी उन्हें स्टारकिड वाली लॉन्चिग नहीं दी थी क्योंकि शम्मी का फिल्मी करियर बतौर चाइल्ड आर्टिस्ट हुआ था ।

न परिवार न दोस्त, बैठे- बैठे शादी की सूझी और गीता को लेकर मंदिर पहुंच गए शम्मी कपूर, लिप्सटिक से भरा मांग में सिंदूर, जानें से दिलचस्प कहानी

6- शम्मी कपूर ने बॉलीवुड में शुरूवात साल 1953 में आई फिल्म'जीवन ज्योति' से की थी। इस फिल्म को महेश कौल ने निर्देशित किया था। इस फिल्म में उनकी हिरओइन 'चांद उस्मान' थी।इस फिल्म के लिए उन्हें 11,111 रुपए मिले थे।

7- शम्मी कपूर की पहली शादी मशहूर अदाकारा 'गीता बाली' से हुई थी लेकिन 10 साल गीता इस दुनिया को छोड़ गई। इसके बाद शम्मी कपूर ने साल 1969 में 'भावनगर की रानी' नीला देवी संग ब्याह रचा लिया।

8- साल 1961 की फिल्म 'जंगली' से शम्मी कपूर का करियर किसी और मकाम पर पहुंच गया। इस फिल्म के बाद वो हमेशा से हिट हीरो बन कर रहे।

9- डांस करने वाले हीरोज़ इंडियन फिल्म इंडस्ट्री को शम्मी कपूर की ही देन है। उनकी फिल्मों के बाद हर फिल्म में हीरो यूं नाचने लगे। वे खुद एल्विस प्रेस्ले वगैरह से प्रभावित थे। शम्मी कपूर ने अपनी फिल्मों में अपने तरीके से डांस करते थे।

10- फिल्म इंडस्ट्री में अपनी सक्सेस को लेकर शम्मी कपूर का कहना था कि, मेरी सफलता में 96 परसेंट बहुत ही कड़ी मजदूरी है। जो फिल्मों में मैं उछल-कूद करता था उसमें बहुत मेहनत लगती थी। ऐसा करना आसान काम नहीं था। वो सब मैंने ख़ुद किया। और जो बचा हुआ 4 परसेंट है न, वो गुडलक है। इसके बिना भी फिल्म नहीं चल सकती है।

Show More
Vivhav Shukla
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned