script पिज्‍जा हाउस में देह व्यापार में भाजपा नेता भी शामिल, आपत्तिजनक हालत में मिले 9 छात्राएं और 11 युवक | Prostitution in Chicago Pizza House BJP leader sent to jail | Patrika News

पिज्‍जा हाउस में देह व्यापार में भाजपा नेता भी शामिल, आपत्तिजनक हालत में मिले 9 छात्राएं और 11 युवक

locationफर्रुखाबादPublished: Nov 26, 2023 09:37:34 am

Submitted by:

Aman Pandey

Pizza House: हाउस में देह व्यापार कराने में भाजपा नेता को पुलिस ने जेल भेजा है। सीओ सिटी प्रदीप कुमार सिंह ने मोहल्ला नवदिया निवासी शिकागो पिज्जा हाउस के संचालक और भाजपा नेता के खिलाफ 30 सितंबर को मुकदमा दर्ज कराया था।

Prostitution in Chicago Pizza House BJP leader sent to jail
फर्रुखाबाद के शिकागो पिज्जा हाउस(Chicago Pizza House) में देह व्यापार कराने में पुलिस ने अब भाजपा के मंडल उपाध्यक्ष को जेल भेजा है। सीओ सिटी प्रदीप कुमार सिंह ने नवदिया मोहल्‍ला के शिकागो पिज्जा हाउस संचालक सेवानिवृत्त इंस्पेक्टर प्रमोद अग्निहोत्री, उनके बेटे प्रदीप अग्निहोत्री, सरह गांव के सलेमपुर भाजपा मंडल उपाध्यक्ष संजीव अग्निहोत्री और उनके पुत्र आयुष अग्निहोत्री पर 30 सितंबर को मुकदमा दर्ज कराया था।
आरोप लगाया कि पिज्जा हाउस की आड़ में देह व्यापार करवाया जा रहा है। पुलिस ने मौके से 9 छात्राएं और 11 युवक को रंगे हाथों पकड़ा था। मामले में पुलिस नेसेवानिवृत्त इंस्पेक्टर प्रमोद अग्निहोत्री और पुत्र प्रदीप अग्निहोत्री को जेल भेज दिया था। शनिवार को पुलिस ने bjp leader संजीव अग्निहोत्री को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। बता दें कि डीएम-एसपी आवास और पुलिस लाइन के नजदीक पिज्जा हाउस में कई वर्षों से चल रहे देह व्यापार का खुलासा हुआ था।
आपत्तिजनक हालत में मिले थे छात्राएं और 11 युवक
डीएम संजय कुमार सिंह के आदेश पर सिटी मजिस्ट्रेट सतीश चंद्र व सीओ सिटी प्रदीप सिंह ने पिज्जा हाउस में दबिश दी थी। मौके पर डिग्री कॉलेज की नौ छात्राएं और 11 युवक आपत्तिजनक हालत में मिले थे। छात्राओं और युवकों को पूछताछ के बाद परिजनों को सौंप दिया गया था। पुलिस ने मामले में संचालक सेवानिवृत्त इंस्पेक्टर और पुत्र को गिरफ्तार कर जेल भेजा था।
एक हजार में देते थे कमरा
पिज्जा हाउस संचालक कई साल से इस धंधे को धड़ल्ले से करवा रहा था। पिज्जा हाउस में बैठने के लिए तीन सौ रुपये का पिज्जा खरीदना जरूरी था। युवक-युवती एक घंटे तक ही केबिन में साथ बैठ सकते थे। अगर दोनों एकांत में कमरे में जाना चाहते, तो उनसे एक हजार रुपये लिए जाते थे।

ट्रेंडिंग वीडियो