Rajshri Yojana: बेटी की देखभाल के लिए सरकार देती है 50 हजार रुपये, आप भी ले सकते हैं लाभ

Mukhyamantri Rajshri Yojna: राजस्थान सरकार द्वारा 1 जून 2016 को मुख्यमंत्री राजश्री योजना ( Rajshri Scheme 2020 ) की शुरुआत की गई थी।
-इस योजना के तहत बेटी की देखभाल के लिए सरकार 50 हजार रुपये की आर्थिक मदद करती है।
-इस योजना का मकसद प्रदेश में बेटियों के जन्म ( Scheme For Daughter ) को प्रोत्साहित करना है और साथ ही कोई भी अपनी बेटियों को बोझ ना समझें बल्कि उनके भविष्य को उज्जवल बनाने की सोचें।
-अब तक राजस्थान के 15 लाख से अधिक अभिभावक इस योजना का लाभ उठा चुके हैं।

By: Naveen

Updated: 21 Jul 2020, 01:23 PM IST

नई दिल्ली।
Mukhyamantri Rajshri Yojna: राजस्थान सरकार द्वारा 1 जून 2016 को मुख्यमंत्री राजश्री योजना ( Rajshri Scheme 2020 ) की शुरुआत की गई थी। इस योजना के तहत बेटी की देखभाल के लिए सरकार 50 हजार रुपये की आर्थिक मदद करती है। इस योजना का मकसद प्रदेश में बेटियों के जन्म ( Scheme For Daughter ) को प्रोत्साहित करना है और साथ ही कोई भी अपनी बेटियों को बोझ ना समझें बल्कि उनके भविष्य को उज्जवल बनाने की सोचें। इस योजना के तहत बालिकाओं को शिक्षित व सशक्त बनाने का लक्ष्य रखा गया है। सरकार इस योजना के तहत बेटियों को शिक्षा मुहैया कराने के लिए आर्थिक मदद करती है। अब तक राजस्थान के 15 लाख से अधिक अभिभावक इस योजना का लाभ उठा चुके हैं। बता दें कि इस योजना में एक जून 2016 या उसके बाद जन्म लेने वाली बालिकाएं लाभ की पात्र है।

Post Office की इन स्कीम से होगी घर बैठे कमाई, ऐसे उठा सकते हैं फायदा

50 हजार रुपये की आर्थिक सहायता
मुख्यमंत्री राजश्री योजना के तहत राजस्थान सरकार बेटी के जन्म से लेकर कक्षा 12वीं तक की पढ़ाई, स्वास्थ्य व देखभाल के लिए अभिभावक को 50 हजार रुपये तक की आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है। यह राशि अलग-अलग चरणों में दी जाती है। पहली किस्त के तौर पर बेटी के जन्म के समय 2500 रुपये दिए जाते हैं। इसके बाद एक वर्ष का टीकाकरण होने पर 2500 रुपये, राजकीय विद्यालय की पहली कक्षा में प्रवेश लेने पर 4000 रुपये, राजकीय विद्यालय की कक्षा 6 में प्रवेश लेने पर 5000 रुपये, कक्षा 10 में प्रवेश लेने पर 11000 रुपये और कक्षा 12 उत्तीर्ण करने पर 25000 रुपये की राशि प्रदान की जाती है।

कौन ले सकता है लाभ?
इस योजना के तहत पहली दो किस्त केवल उन्हीं बालिकाओं को दी जाएगी, जिनका जन्म किसी सरकारी अस्पताल एवं जननी सुरक्षा योजना (जेएसवाय) के साथ पंजीकृत निजी चिकित्सा संस्थान में हुआ है। खास बात है कि माता-पिता को तीसरी संतान होने पर भी बालिका को दो किस्त तक लाभ मिल सकेगा। बता दें कि राजश्री योजना का लाभ लाभार्थी को सीधे उसके बैंक खाते में ट्रांसफर किया जाता है।

Kanyashree Prakalpa: लड़कियों के लिए बड़ी खुशखबरी, सरकार दे रही 25-25 हजार रुपये, ऐसे करें आवेदन

कैसे करें आवेदन ( Apply For Mukhyamantri Rajshri Yojna )
मुख्यमंत्री राजश्री योजना के तहत आवेदन के लिए आपको सीधा सरकारी अस्पताल या जेएसवाय पंजीकृत चिकित्सा संस्थान से संपर्क करना होगा। इसके अलावा तालुका स्वास्थ्य अधिकारी, कलेक्टर कार्यालय, जिला परिषद, ग्राम पंचायत से भी संपर्क किया जा सकता है। लाभ प्राप्त करने के लिए गर्भवती महिला प्रसव पूर्व जांच/एएनसी जांच के दौरान भामाशाह कार्ड एवं भामाशाह कार्ड से जुड़ा हुआ। बैंक खाते का विवरण निकटतम आंगनबाड़ी केन्द्र पर ए.एन.एम./आशा/आंगनबाड़ी कार्यकर्ता अथवा राजकीय चिकित्सा संस्थान में उपलब्ध करवायें।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned