करोड़ों की प्रॉपर्टी के लिए 20 साल में एक-एक कर परिवार के 5 सदस्यों को उतारा मौत के घाट, ऐसे खुला राज

गाजियाबाद के थाना मुरादनगर क्षेत्र के सैंथली गांव में एक शख्स ने करोड़ों की प्रॉपर्टी के लालच में 20 साल के अंदर परिवार के 5 लोगों को मारा।

By: lokesh verma

Published: 24 Sep 2021, 11:06 AM IST

गाजियाबाद. दिल्ली से सटे गाजियाबाद के थाना मुरादनगर क्षेत्र के एक गांव में दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है। एक शख्स ने करोड़ों की प्रॉपर्टी हथियाने के लिए अपने ही परिवार के पांच सदस्यों को मौत के घाट उतार कर प्रॉपर्टी पर कब्जा कर लिया। आश्चर्य की बात यह है कि आरोपी ने 20 साल से साजिश रचते हुए एक-एक कर सभी को मार रहा था। सबसे पहले उसने अपने बड़े भाई की हत्या की और अपनी भाभी से शादी भी कर ली। उसके बाद अपने भतीजे और दो भतीजियों को मारा। लेकिन, 20 साल का राज उस वक्त खुल गया, जब दूसरे भाई का इकलौता बेटा संदिग्ध परिस्थितियों में गायब हो गया। काफी तलाश के बाद भी जब वह नहीं मिला तो उसके पिता ने गुमशुदगी की तहरीर दी। जांच के दौरान पुलिस को आरोपी चाचा लीलू पर शक हुआ। इसके बाद लीलू से सख्ताई से पूछताछ हुई और उसने 20 साल का राज उगल दिया। करोड़ों की प्रॉपर्टी के लालच में वह अभी तक 5 सदस्यों को मौत के घाट उतार चुका है।

जानकारी के अनुसार, थाना मुरादनगर क्षेत्र के सैंथली गांव में बृजेश, सुधीर और लीलू तीन भाई का परिवार रह रहा था। करीब 20 साल पहले लीलू ने करोड़ों की प्रॉपर्टी हथियाने के उद्देश्य से अपने बड़े भाई सुधीर की हत्या कर दी। उसके बाद वह राज दबा रहा। सुधीर के बच्चों की देखरेख करने का भरोसा देते हुए उसने अपनी भाभी से ही शादी कर ली। उसके बाद लीलू ने अपने भतीजे की भी हत्या कर उसके शव को नहर में फेंक दिया। फिर अपनी दो भतीजियों की हत्या कर उनके शव को भी नहर में ही ठिकाने लगा दिया। आरोपी लीलू ने सारी वारदात को इस तरह से अंजाम दिया, ताकि किसी को कोई शक ना हो। अब फिर से लीलू ने प्रॉपर्टी हथियाने के चक्कर में अपने साथी सुरेंद्र, विक्रांत और उसके भांजे मुकेश व राहुल के साथ मिलकर दूसरे भाई बृजेश के बेटे का अपहरण कर हत्या कर दी। शव को बुलंदशहर के पहासू में नहर में फेंक दिया। फिलहाल पुलिस रेशू केशव की तलाश में जुटी हुई है।

यह भी पढ़ें- मुख्तार अंसारी ने कहा राज्य सरकार मेरे खिलाफ, जेल में मेरे भोजन में मिलाया जा सकता है जहर

इस तरह खुला पांच हत्याओं का राज

एसपी देहात डॉ. ईराज राजा ने बताया कि सैंथली गांव में रहने वाले बृजेश नाम के एक व्यक्ति ने अपने बेटे की गुमशुदगी दर्ज कराई थी, जिसकी तलाश में पुलिस जुटी हुई थी। तमाम अथक प्रयास के बाद जब पुलिस को कोई सुराग नहीं मिला तो बृजेश के भाई लीलू की भूमिका संदिग्ध नजर आई। लीलू से गहन पूछताछ की गई तो उसने 20 साल पुराना राज भी खोलते हुए बताया कि उसी ने अपने भतीजे रेशू की हत्या कर उसके शव को पहासू नहर में फेंक दिया है। उन्होंने बताया कि लीलू ने बताया कि उसने अपने साथी सुरेंद्र, विक्रांत, राहुल और मुकेश के साथ मिलकर अपहरण कर रेशू की हत्या की है।

आरोपी विक्रांत और मुकेश फरार

उन्होंने बताया कि गहन पूछताछ के बाद लीलू ने ही बताया कि उसी ने ही 20 साल पहले अपने भाई की हत्या की थी। उसके बाद अपने भतीजे और दो भतीजियों को भी मौत के घाट उतारा था और भाभी से खुद शादी कर ली थी। पुलिस ने लीलू, सुरेंद्र व राहुल निवासी उमरारे, गढ़ी थाना संभल को गिरफ्तार कर लिया है। जबकि फरार आरोपी विक्रांत व मुकेश की तलाश में पुलिस की टीमें दबिश दे रही हैं। जल्द ही उन्हें भी गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

यह भी पढ़ें- महंत नरेंद्र गिरि की मौत मिस्ट्री, अब खुल जाएगा राज सीबीआइ पहुंची प्रयागराज

lokesh verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned