scriptGonda Sugar mills cannot refuse to take sugarcane from farmers | किसानों का गन्ना लेने से इनकार नहीं कर सकती चीनी मिले, आयुक्त ने मांगा स्पष्टीकरण दिया गन्ना नीति का हवाला, जाने नियम | Patrika News

किसानों का गन्ना लेने से इनकार नहीं कर सकती चीनी मिले, आयुक्त ने मांगा स्पष्टीकरण दिया गन्ना नीति का हवाला, जाने नियम

locationगोंडाPublished: Nov 24, 2023 05:04:25 pm

Submitted by:

Mahendra Tiwari

गन्ना नीति के मुताबिक कोई भी चीनी मिल गन्ना किसानों का गन्ना किसी भी परिस्थिति में लेने से इनकार नहीं कर सकती। एक मामले में आयुक्त ने बलरामपुर चीनी मिल से स्पष्टीकरण तलब किया है।

चीनी मिल
चीनी मिल
बलरामपुर चीनी मिल्स ने एक गन्ना किसान का गन्ना लेने से इनकार करने के मामले में किसान की शिकायत पर आयुक्त ने कड़ा रुख अपनाया है। गन्ना नीति का हवाला देते हुए आयुक्त ने चीनी मिल से तीन दिनों के भीतर स्पष्टीकरण तलब किया है। निर्धारित समय सीमा के अंदर स्पष्टीकरण ना देने पर चीनी मिल के खिलाफ कठोर कार्रवाई की चेतावनी दिया है।
सरकार के लाखों प्रयास के बावजूद चीनी मील गन्ना किसानों का तरह-तरह से शोषण करने का प्रयास करती हैं। गन्ने की वैरायटी को लेकर चीनी मिले कभी-कभी किसानों का गन्ना लेने से इनकार कर देती हैं। बलरामपुर चीनी मिल्स क्षेत्र में एक ऐसा ही मामला सामने आने पर देवीपाटन मंडल के मंडला आयुक्त योगेश्वर राम मिश्रा ने कड़ा रुख अपनाया है। उन्होंने सरकार की गन्ना नीति का हवाला देते हुए कहा है कि चीनी मील किसी भी परिस्थिति में गन्ना किसानों का गन्ना लेने से इनकार नहीं कर सकती। बलरामपुर चीनी मिल्स ने गन्ना किसान का गन्ना लेने से इनकार करने पर मंडलायुक्त योगेश्वर राम मिश्र ने कड़ा रूख अपनाया गया है। उनके द्वारा चीनी मिल्स के इकाई प्रमुख को पत्र भेज कर स्पष्टीकरण मांगा गया है कि किस आधार पर किसान का गन्ना लेने से इनकार किया गया। उन्होंने चीनी मिल्स के ईकाई प्रमुख से कहा है कि यदि 27 नवंबर की सुबह 11 बजे तक स्पष्टीकरण उपलब्ध नहीं कराया गया तो सुसंगत नियमों के अधीन चीनी मिल्स के खिलाफ़ कठोर कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। मंडलायुक्त ने ये भी आगाह किया है कि शासन की गन्ना नीति के अनुसार किसी भी परिस्थिति में किसान का गन्ना लेने से चीनी मिल द्वारा मना नहीं किया जा सकता है। उन्होंने बलरामपुर के जिलाधिकारी को भी निर्देश दिए कि भविष्य में इस प्रकार की स्थिति अन्य स्थानों पर न होने पाये। यदि इस प्रकार की स्थिति होती है। तो संबंधित के खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाए।

ट्रेंडिंग वीडियो