Home Remedies for Ringworm: अगर आप भी दाद से परेशान है तो ये चीज आपको दाद से छुटकारा दिला सकते है

Home Remedies for Ringworm: दाद खाज खुजली त्वचा की एक बीमारी है जो फंगल संक्रमण के कारण होती है। यह हाथ, पैर, गर्दन और अंदरूनी अंगों में कहीं भी हो सकता है। यह लाल चकत्ते के रूप में दिखाई देता है।

नई दिल्ली। Home Remedies for Ringworm: दाद एक ऐसी बीमारी है जो बहुत ही परेशान करती है और अगर समय पर इसका इलाज न किया जाए तो यह धीरे-धीरे पूरे शरीर में फैलने लगता है। दाद त्वचा की एक बीमारी है जो फंगल संक्रमण के कारण होती है। यह हाथ, पैर, गर्दन या अंदरूनी अंगों में कहीं पर भी हो सकता है।

यह लाल और हल्के भूरे चकत्ते के रूप में दिखाई देता है। दाद वाले चकत्ते बाहरी तरफ से किनारों पर लाल होते हैं। यह गोल चकत्तों के रूप में होते हैं तथा ऊपर की ओर उभरा हुआ होता है। दाद वाली जगह पर खुजली और जलन दोनों ही हो सकता है।

दाद एक फंगस होता है जो एक इंसान से दूसरे इंसान में फैलता जाता है। इसलिए जिन्हें ये होता है, वो लोग अक्सर इससे काफी परेशान रहते हैं। ऐसे में आपको उसकी साफ सफाई का पूरा ध्यान रखना चाहिए। दाद कवक बंद कमरों, बिस्तर या फिर पूल में मौजूद होते हैं। इसके अलावा ये तौलिया, कंघी, हेयर ब्रश और कपड़ों पर भी चिपके होते हैं। आइए जानते हैं कि आखिर वह कौन से उपाय है जो हमें राहत दिलाएंगे।

दाद से राहत पाने के उपाय

  • हल्दी एंटीबैक्ट्रीरिलय हीरो से भरपूर होती है, जो संक्रमण को बढ़ने से रोकती है। इसके लिए आप हल्दी में पानी मिलाकर गाढ़ा पेस्ट बना लें और दाद वाली जगह पर लगाकर छोड़ दें। जब ये पूरी तरह से सूख जाए तो इसे धो लें। इस उपाय को करने से आपको इसका असर बहुत नजर आने लगेगा।
  • भोजन में लौंग का प्रयोग करें। इसके सेवन से फंगल संक्रमण दूर होता है।
  • लहसुन में अजोइना नाम का एक प्राकृतिक एंटी फंगल एजेंट होता है जो फंगल संक्रमण को ठीक करने में मदद करता है। लहसुन की एक फांक छीलकर उसकी पतली स्लाइस काट लें, प्रभावित क्षेत्र पर पतली स्लाइस को रखें और उसके चारों ओर एक पट्टी लपेट लें और रात भर के लिए छोड़ दें। इसकी जगह पर लहसुन के पेस्ट का भी इस्तेमाल कर सकते हैं।
  • गेंदे के फूल में एंटी बैक्टीरियल और एंटी वायरल गुण होते हैं। गेंदे के फूल के पत्तों को पानी में उबालकर उसका लेप बना लें। इस लेप को दिन में दो से तीन बार प्रयोग करें। आपको कुछ दिनों में फर्क नजर आएगा।
  • त्रिफला को भूनकर इसे पीस लें और चूर्ण बना लें, इस चूर्ण में सरसों का तेल, देसी घी, थोड़ी-सी फिटकिरी और पानी मिलाकर मरहम बना लें। ये मरहम पकने वाले दाद के लिए रामबाण दवा है।
  • नीम की ताजी पत्तियों को पानी में उबालकर पानी को ठंडा कर लें तथा इस पानी को नहाने के लिए इस्तेमाल करने से दाद और खुजली में आराम मिलता है।
  • एलोवेरा का अर्क हर तरह के फंगल संक्रमण को ठीक कर देता है इसे तोड़कर सीधे दाद पर लगा लीजिए ठंडक मिलेगी। हो सके तो रात भर लगा कर रखें एलोवेरा का नियमित सेवन करने और प्रभावित स्थान पर लगाने से दाद और खुजली को मिलता है।
Roshni Jaiswal
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned