राजधानी में कोचिंग क्लास की मंजूरी के बाद अब इस शहर में भी तैयारी जोरों पर, जल्द गाइडलाइन होगी जारी

इंदौर के भी सभी कोचिंग क्लासेज, कॉलेज और अन्य शैक्षणिक संस्थान बंद थे, जिन्हें अब धीरे धीरे नियमों के अनुसार खोलने की प्रशासनिक प्रक्रिया शुरु कर दी गई है।

By: Faiz

Published: 16 Dec 2020, 09:09 PM IST

इंदौर/ कोरोना काल के चलते देशभर में मार्च के महीने में लॉक डाउन किया गया था। तब से मध्य प्रदेश के इंदौर के भी सभी कोचिंग क्लासेज, कॉलेज और अन्य शैक्षणिक संस्थान बंद थे, जिन्हें अब धीरे धीरे नियमों के अनुसार खोलने की प्रशासनिक प्रक्रिया शुरु कर दी गई है। जल्द ही इस संबंध में जानकारों की एक बैठक होगी, जिसमें गाइडलाइन तय की जाएगी।

 

पढ़ें ये खास खबर- नगरीय निकाय का रण : पूर्व सीएम कमलनाथ बोले- प्रदेश में 26 लाख किसानों का माफ हुआ कर्ज


आपदा प्रबंधन समूह के अध्यक्ष ने कहा- एक सप्ताह में होगी बैठक

सांसद और जिला आपदा प्रबंधन समूह के अध्यक्ष शंकर लालवानी ने बताया कि, अब इसे सेक्टर में दिशा-निर्देश तय करके हुए गाइडलाइन जारी करनी है। एक सप्ताह में बैठक करके संबंधित अधिकारियों से सुझाव लिये जाएंगे, इसके बाद कोविड प्रोटोकाल की गाइड लाइन जारी करते हुए संबंधित संस्थानों को खोलने की अनुमति दी जाएगी।

 

पढ़ें ये खास खबर- कृषि विधेयक को लेकर भाजपा का किसान समर्थन सम्मेलन आज, कांग्रेस बोली- प्रशासन ने अनुमति कैसे दे दी


डेढ़ लाख से अधिक छात्रों की पढ़ाई हो रही प्रभावित

इंदौर शहर के शिक्षाविद् डॉ. अवनीश पांडे के मुताबिक, शहर में करीब 50 बड़ी कोचिंग हैं। वहीं, अगर छोटे-बड़े सभी संस्थानो को मिलाया जाए, तो शहर में करीब एक हजार से ज्यादा संस्थान हैं, जिनमें डेढ़ लाख से अधिक छात्र पढ़ाई करते हैं। इसमें 50 हजार से ज्यादा तो आईआईटी और मेडिकल प्रवेश परीक्षा की तैयारी करने वाले छात्र हैं। 12वीं की परीक्षा के लिए भी छात्र हैं, जिनके पास परीक्षा की तैयारी करने के लिए अब सिर्फ दो महीने ही बाकि हैं।

 

पढ़ें ये खास खबर- सावधान : ऑनलाइन एप से साइबर ठगी, लिंक पर क्लिक करते ही खाते से उड़ गए 18 हजार


राजधानी भोपाल को मिल चुकी है मंजूरी

बता दें कि, इससे पहले भोपाल जिला प्रशासन द्वारा शहर के कोचिंग संस्थानों को मंजूरी दे दी गई है और इसके लिए प्रावधान किया है कि, एक छात्र सप्ताह में तीन दिन यानी एक दिन छोड़कर एक दिन क्लास आएगा, छात्रों की बैठक व्यवस्था सोशल डिस्टेंसिंग के साथ ही की जाएगी। भाजपा नगराध्यक्ष गौरव रणदिवे के मुताबिक, कॉलेज भी बंद हैं, उनका भी काफी नुकसान हो रहा है, कई जगह से शैक्षणिक संस्थान फिर से खोलने की मांग तेज हो गई है।

 

बारिश की वजह से उतरा करंट, मवेशियों की मौत, देखें वीडियो

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned