script1500 bombs being made for the army, destroy enemy tanks within seconds | सेना के लिए बन रहे 1500 बम, सैकेंडों में ही दुश्मन के टैंक को कर देते हैं ध्वस्त | Patrika News

सेना के लिए बन रहे 1500 बम, सैकेंडों में ही दुश्मन के टैंक को कर देते हैं ध्वस्त

locationजबलपुरPublished: Dec 11, 2023 08:40:15 am

Submitted by:

Ashtha Awasthi

रूस-यूक्रेन युद्ध का असर नहीं, मैंगो प्रोजेक्ट में रूस के सहयोग से निर्माण

bomb.jpg
bombs

जबलपुर। आयुध निर्माणी खमरिया (ओएफके) भारतीय सेना को इस साल डेढ़ हजार 125 एमएम टैंकभेदी बम मुहैया कराएगी। मैंगो प्रोजेक्ट के तहत तैयार किए जा रहे ये बम दुश्मन के आधुनिक टैंक की आर्मर्ड प्लेन को भेदकर अंदर चला जाता है। इसके बाद विस्फोट होता है। इस बम के लिए रूस से टीओटी मिली हुई है। रूस-यूक्रेन युद्ध का इस प्रोजेक्ट पर ज्यादा असर नहीं पड़ा है। रूस से कंपोनेंट निर्माणी को भेजे जा रहे हैं।

तैयार होना है स्वदेशी वर्जन

इस बम का उत्पादन तीन चरणों में हो रहा है। पहले सेमी नॉक डाउन और दूसरा कंपलीट नॉक डाउन। वहीं, तीसरे चरण में इंडीजीनियस यानी स्वदेशी वर्जन तैयार होना है। हालांकि इस चरण में अभी वक्त लग सकता है।

विदेश से कलपुर्जों की सप्लाई

यह बम यहीं असेंबल हो रहा है। इसका शॉट रूस से आ रहा है। हालांकि मेटैलिक बेस यहीं बन रहा है। इससे कुछ निर्भरता कम हुई, पर स्वदेशी वर्जन नहीं बन सका है। मैंगो प्रोजेक्ट से टैंकभेदी 1500 बम का उत्पादन हो रहा है। कुछ कंपोनेंट विदेश से मंगाए हैं। कुछ का उत्पादन देश में किया है। -एमएन हालदार, महाप्रबंधक, ओएफके

ट्रेंडिंग वीडियो