पीएचई के रिटायर्ड एसडीओ सहित तीन के खिलाफ विशेष कोर्ट में चार्जशीट पेश

-आय से अधिक सम्पत्ति मामले में ईओडब्ल्यू कर रही थी जांच
eow special court

By: santosh singh

Published: 30 Sep 2020, 01:44 PM IST

जबलपुर। पीएचई के रिटायर्ड एसडीओ सुरेश उपाध्याय सहित पत्नी पूर्व पार्षद अनुराधा उपाध्याय व बेटे सचिन उपाध्याय के खिलाफ मंगलवार को ईओडब्ल्यू ने विशेष कोर्ट में चार्जशीट पेश की। ईओडब्ल्यू तीनों के खिलाफ आय से अधिक सम्पत्ति मामले की जांच कर रही थी। कोर्ट ने जहां बेटे सचिन को जेल भेज दिया। वहीं सुरेश उपाध्याय और उनकी पत्नी अनुराधा ने बीमारी का हवाला देकर कोर्ट में पेश नहीं हुए।
ये है मामला-
25 जून 2019 को ईओडब्ल्यू की टीम ने रिटायर्ड एसडीओ सुरेश उपाध्याय के अनंततारा स्थित बंगले सहित सदर स्थित कार्यालय, भीटा कजरवारा के दो अलग-अलग घरों में छापा मारा था। ईओडब्ल्यू ने छापे के दौरान जप्त कागजातों की छानबीन की तो सुरेश समेत उसके बेटे सचिन और पत्नी अनुराधा के नाम पर कृषि भूमि सहित 252 प्लॉटा आदि निकली थी। प्लॉट से जुड़े 78 दस्तावेज जब्त किए थे। सबसे अधिक कजरवारा में जमीन मिली थी। उपाध्याय के 2014 में रिटायर होने के बाद शिकायत हुई थी। इससे पहले 2010 में शिकायतकर्ता ही पीछे हो गया था। ईओडब्लयू ने भ्रष्टाचार और साजिश रचने के प्रकरण में तीनों को आरोपी बनाया था।
जांच में मिली थी अकूत सम्पत्ति
एसडीओपी ने अपनी नौकरी के दौरान कुल 55 लाख रुपए कमाए थे। बावजूद जांच में उसकी लग्जरी लाइफस्टाइल और प्रापर्टी सामने आने के बाद जांच अधिकारी भी अचम्भित रह गए। सचिन के नाम पर चेतन्य प्रमोटर्स नाम का फर्म मिली थी। उसके नाम पर 26 एकड़ जमीन मिले। वहीं डॉल्फिन इंडिया प्राइवेट कम्पनी में पार्टनरशिप भी मिली थी। जिसमें 19 एकड़ जमीन के दस्तावेज जब्त हुए थे। वहीं सुरेश ने लगभग 68 एकड़ जमीन दूसरे के नाम पर खरीदी थी, इसकी भी पुष्टि जांच में हुई थी। ईओडब्ल्यू एसपी देवेंद्र सिंह राजपूत ने बताया कि चार्जशीट विशेष कोर्ट में पेश कर दी गई है।

santosh singh Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned