Dsp Heera Lal Viral Video: 10 जुलाई को बनाया गया वीडियो, 26 जुलाई के बाद 3 बार दी गई वायरल करने की धमकी

Dsp Heera Lal Saini Viral Video: आरपीएस हीरालाल सैनी और एक महिला कांस्टेबल के अश्लील वीडियो वायरल होने के मामले में पुलिस महानिदेशक एम.एल. लाठर ने शुक्रवार को दो आरपीएस और दो थानाधिकारियों को निलम्बित किया है।

By: santosh

Updated: 11 Sep 2021, 10:50 AM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
जयपुर। Dsp Heera Lal Saini Viral Video: आरपीएस हीरालाल सैनी और एक महिला कांस्टेबल के अश्लील वीडियो वायरल होने के मामले में पुलिस महानिदेशक एम.एल. लाठर ने शुक्रवार को दो आरपीएस और दो थानाधिकारियों को निलम्बित किया है।

निलम्बित होने वालों में कुचामन सीओ मोटाराम बेनीवाल, एसीपी झोटवाड़ा हरिशंकर शर्मा तथा चितावा थानाधिकारी प्रकाशचंद मीना व कालवाड़ थानाधिकारी गुरुदत्त सैनी शामिल हैं। हीरालाल सैनी के खिलाफ पुलिस मुख्यालय की सतर्कता शाखा में चल रही जांच में इन अधिकारियों की भूमिका की जांच भी होगी।

वीडियो प्रकरण की आंच एसपी स्तर पर भी आ सकती है। दोनों स्थानों पर एसपी को इस मामले की जानकारी समय रहते मिल गई थी। बावजूद इसके उनके स्तर पर न प्रभावी कार्रवाई की गई न उच्च स्तर पर बताया गया। यह मामला पहली बार जानकारी में तब आया जब महिला कांस्टेबल ने कालवाड़ थाने में 26 जुलाई को परिवाद दिया।

परिवाद की जांच थानाधिकारी गुरुदत्त सैनी ने अपने पास रखी। इसके चार दिन बाद ही महिला कांस्टेबल के प्रार्थना-पत्र पर एफआइआर भी दर्ज कर ली। रिपोर्ट में बताया कि 26 जुलाई के बाद तीन बार किसी ने इंटरनेट कॉल कर उसका व पुरुष मित्र का वीडियो वायरल करने की धमकी दी। बचने के लिए दस लाख रुपए भी मांगे।

इसके कुछ दिन बाद ही 3 अगस्त को एक शिकायत महिला कांस्टेबल के पति की ओर से नागौर के चितावा थाने में दी गई। इस शिकायत पर थानाधिकारी प्रकाशचंद मीना ने रिपोर्ट दर्ज नहीं की। थानाधिकारी व कुचामन सीओ मोटाराम बेनीवाल को वीडियो की भी जानकारी थी।

पहले एपीओ फिर निलम्बित
पुलिस महानिदेशक एम.एल. लाठर ने शुक्रवार दोपहर चितावा थानाधिकारी प्रकाश मीना और कालवाड़ थानाधिकारी गुरुदत्त सैनी को निलम्बित कर दिया। चितावा के क्षेत्रीय सीओ मोटाराम बेनीवाल व कालवाड़ के क्षेत्रीय एसीपी हरिशंकर को पहले एपीओ किया। इसके कुछ समय बाद ही उनका निलम्बन आदेश निकाला गया। उन पर आरोप है कि शिकायत आने के बाद न प्रभावी कार्रवाई की ना ही उच्चाधिकारियों को बताया। उलटा मोटाराम बेनीवाल समझौता कराने में जुटे थे।

10 जुलाई का है वीडियो
वीडियो वायरल होने के दो दिन बाद इस मामले में एसओजी ने एफआइआर दर्ज की। इसमें आरोपी हीरालाल को एसओजी ने गुरुवार को ही पकड़ लिया था। मामले की जांच अधिकारी अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक दिव्या मित्तल आरोपी हीरालाल को शनिवार को जयपुर की अदालत में पेश करेंगी। अभी तक की पड़ताल में सामने आया कि वीडियो 10 जुलाई को बनाया गया था। वीडियो बनने की जानकारी दोनों आरोपियों को थी।

आरपीएस मेहता का तबादला
उदयपुर में मावली सीओ हितेश मेहता का पुलिस महानिदेशक ने तबादला कर दिया। मावली से उन्हें आरएसी नई दिल्ली भेजा गया है। चर्चा है कि उन्हें अक्सर एक महिला के साथ देखा गया। उनकी कार्यशैली को लेकर भी कई शिकायतें थीं।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned