scriptGehlot's Statement Will Increase Bad Effect Sardarshahar by election | राजस्थान में भारत जोड़ो यात्रा की एंट्री से पहले गहलोत के तीखे तेवरों ने बढ़ाई आलाकमान की टेंशन | Patrika News

राजस्थान में भारत जोड़ो यात्रा की एंट्री से पहले गहलोत के तीखे तेवरों ने बढ़ाई आलाकमान की टेंशन

locationजयपुरPublished: Nov 25, 2022 09:32:38 am

Submitted by:

firoz shaifi

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी की ओर से निकाली जा रही भारत जोड़ो यात्रा के अगले माह के पहले सप्ताह में राजस्थान में एंट्री से पहले ही गहलोत कैंप और सचिन पायलट कैंप के तीखे तेवर है।

Gehlot Vs Pilot

जयपुर. कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी की ओर से निकाली जा रही भारत जोड़ो यात्रा के अगले माह के पहले सप्ताह में राजस्थान में एंट्री से पहले ही गहलोत कैंप और सचिन पायलट कैंप के तीखे तेवर है। इधर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की ओर एक बार फिर सचिन पायलट को खुलेआम गद्दार और नकारा बताए जाने के मामले ने भी प्रदेश का सियासी पारा गरमा दिया है।

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के आक्रामक और तीखे तेवरों ने अब पार्टी आलाकमान की भी टेंशन बढ़ा दी है,एक ओर जहां पार्टी के तमाम नेताओं की ओर से कांग्रेस शासित प्रदेश होने के चलते राजस्थान में भारत जोड़ो यात्रा के अभूतपूर्व स्वागत के दावे किए जा रहे हैं तो वही दोनों खेमों के बीच बढ़ते टकराव ने पार्टी थिंक टैंक को भी सोचने पर मजबूर कर दिया है। सियासी गलियारों में चर्चा इस बात की है कि जिस तरह से मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और सचिन पायलट कैम्प के बीच तकरार चल रही है उसका संदेश जनता में अच्छा नहीं जा रहा है।

सरदारशहर उपचुनाव पर भी पड़ सकता है असर

कांग्रेस गलियारों में चर्चा इस बात की है कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और सचिन पायलट के बीच चल रही बयानबाजी और टकराव का असर सरदारशहर उपचुनाव पर ही पड़ सकता है जहां विपक्षी पार्टियां गहलोत- पायलट कैंप के बीच चल चल रहे टकराव के मामले को उपचुनाव में भुनाने की तैयारी में है और जनता में भी संदेश देना चाहते हैं कि और कांग्रेस पार्टी और सरकार में पिछले 4 साल से काम की बजाए केवल आपसे झगड़े ही होते रहे हैं।

यह भी पढ़ें

सचिन पायलट गद्दार, कभी मुख्यमंत्री नहीं बन पाएंगे: अशोक गहलोत

डैमेज कंट्रोल में जुटी पार्टी

इधर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की ओर से सचिन पायलट पर तीखे हमले करने के बाद सचिन पायलट कैंप ने भी आक्रमक रुख अपनाया हुआ है, सचिन पायलट कैम्प के माने जाने वाले मंत्री राजेंद्र गुढ़ा और खुद सचिन पायलट ने भी मुख्यमंत्री के बयानों के प्रति नाराजगी जाहिर की है और उन्हें संयम की भाषा बोलने की नसीहत दी है। माना जा रहा है कि आने वाले दिनों में सचिन पायलट और अशोक के बीच और तीखे शब्द बाण चलेंगे।

इसी को देखते हुए पार्टी आलाकमान अब डैमेज कंट्रोल के मूड में हैं। माना जा रहा है कि पार्टी आलाकमान की ओर से कोई संदेशवाहक राजस्थान भेजा जा सकता है जो दोनों के बीच सामंजस्य और तालमेल की बात कर सके।पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव जयराम रमेश की ओर से भी गुरुवार रात इस तरह के संकेत दिए गए थे सचिन पायलट कैंप और गहलोत कैंप के बीच सुलह कराई जाएगी।

गौरतलब है कि पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट और मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बीच लंबे समय से अदावत चली आ रही है। गुरुवार को सचिन पायलट जहां कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी के साथ भारत जोड़ो यात्रा में शामिल हुए तो वही मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने एक टीवी चैनल को दिए इंटरव्यू में सचिन पायलट को गद्दार और निकम्मा करार दिया था और कहा था कि सचिन पायलट किसी भी कीमत पर मुख्यमंत्री स्वीकार नहीं होंगे अगर पार्टी आलाकमान को मुख्यमंत्री भगत बनाना है तो 102 विधायकों में से मुख्यमंत्री बनाया जाए। सचिन पायलट की गद्दारी की वजह से सरकार बचाने के लिए 38 दिन बाड़ेबंदी में रहना पड़ा था।

यह भी पढ़ें

हमारी मांग पूरी नहीं हुई तो राहुल गांधी को राजस्थान में नहीं घुसने देंगे: बैंसला

गहलोत के संकटमोचक अब पायलट के साथ

इधर सियासी संकट के दौरान मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के साथ चट्टान की तरह खड़े रहे मंत्री राजेंद्र गुढ़ा, विधायक खिलाड़ी लाल बैरवा और वाजिब अली अब बदली परिस्थितियों में सचिन पायलट कैंप में शामिल हो गए हैं,साथ ही मुख्यमंत्री अशोक गहलोत पर भी निशाना साधने का कोई मौका नहीं छोड़ रहे हैं जबकि इन्हीं नेताओं ने सियासी संकट के दौरान पायलट कैम्प पर सबसे ज्यादा ज्यादा हमले बोले थे।

सम्बधित खबरे

सबसे लोकप्रिय

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather Update: राजस्थान में बारिश को लेकर मौसम विभाग का आया लेटेस्ट अपडेट, पढ़ें खबरTata Blackbird मचाएगी बाजार में धूम! एडवांस फीचर्स के चलते Creta को मिलेगी बड़ी टक्करजयपुर के करीब गांव में सात दिन से सो भी नहीं पा रहे ग्रामीण, रात भर जागकर दे रहे पहरासातवीं के छात्रों ने चिट्ठी में लिखा अपना दुःख, प्रिंसिपल से कहा लड़कियां class में करती हैं ऐसी हरकतेंनए रंग में पेश हुई Maruti की ये 28Km माइलेज़ देने वाली SUV, अगले महीने भारत में होगी लॉन्चGanesh Chaturthi 2022: गणेश चतुर्थी पर गणपति जी की मूर्ति स्थापना का सबसे शुभ मुहूर्त यहां देखेंJaipur में सनकी आशिक ने कर दी बड़ी वारदात, लड़की थाने पहुंची और सुनाई हैरान करने वाली कहानीOptical Illusion: उल्लुओं के बीच में छुपी है एक बिल्ली, आपकी नजर है तेज तो 20 सेकंड में ढूंढकर दिखाये

बड़ी खबरें

ED का बड़ा आरोप- 'मनीष सिसोदिया ने बदले कई मोबाइल, मिटाए शराब घोटाले के सबूत'एयरपोर्ट और उसके आसपास के क्षेत्रों में अभी नहीं मिलेगी 5G सर्विस, जानिए क्या है कारणछह साल और 13 मैच के बाद भारत ने ऑस्ट्रेलिया को हराया, रोमांचक मुक़ाबले में 4-3 से दर्ज़ की जीतपंडित प्रदीप मिश्रा का विवादित बयान, बोले- बाहर से आने वाली लड़कियां बिगाड़ रहीं इंदौर की फिजा'गरीब छात्रों का पैसा छीनकर कितना कमाएगी सरकार', खरगे ने मोदी सरकार पर साधा निशानापंजाब में CM हाउस के बाहर प्रदर्शन कर रहे किसानों पर लाठीचार्ज, Video में देंखे पुलिस की दबंगईममता बनर्जी ने चलाई नाव, देखें पश्चिम बंगाल CM का अलग अंदाज वाला वीडियोश्रद्धा की हत्या के बाद आफताब ने नई गर्लफ्रेंड को गिफ्ट की थी अंगूठी, लड़की ने पुलिस के सामने किए कई खुलासे
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.