scriptRajasthan Election Rajendra Rathod lashed out at Gehlot government showed mirror of its works | Rajasthan Election : गहलोत सरकार पर बरसे राजेन्द्र राठौड़, दिखाया कामों का आइना | Patrika News

Rajasthan Election : गहलोत सरकार पर बरसे राजेन्द्र राठौड़, दिखाया कामों का आइना

locationजयपुरPublished: Sep 01, 2023 02:53:58 pm

Rajasthan Assembly Election 2023 : भाजपा की पहली परिवर्तन यात्रा सवाई माधोपुर से 2 सितंबर को शुरू होगी। नेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र राठौड़ आज तैयारियों का जायज़ा लेने सवाई माधोपुर पहुंचे। मंडावा आक्रोश जनसभा में राजेन्द्र राठौड़ गहलोत सरकार पर जमकर बरसे।

rajendra_rathod.jpg
Rajendra Rathod
भाजपा की पहली परिवर्तन यात्रा सवाई माधोपुर से 2 सितंबर को शुरू होगी। नेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र राठौड़ आज तैयारियों का जायज़ा लेने सवाई माधोपुर पहुंचे। इससे पूर्व गुरुवार को झुंझुनूं जिले के मंडावा में आक्रोश जनसभा में राजेन्द्र राठौड़ ने गहलोत सरकार पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा प्रदेश में अपराध चरम पर हैं। कुचामन में दो दलित युवकों को बदमाशों ने गाड़ियों से कुचल दिया। अपराधी के साथ ही पेपर माफिया गिरोह भी प्रदेश में सक्रिय है। 4 साल में 16 पेपर लीक हुए। आरपीएससी सदस्य बाबूलाल कटारा पेपर लीक में आरोपी है।

लाल डायरी से घबराती है कांग्रेस सरकार

नेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र राठौड़ ने कहा, कांग्रेस सरकार लाल डायरी और नाथी के बाडे के नाम से बहुत घबराती है। भाजपा का शासन आने के बाद भ्रष्टाचार का सारा पैसा निकाला जाएगा। कांग्रेस सरकार तुष्टिकरण की राजनीति पर वोट की फसल काटना चाहती है। एक तरफ जयपुर बम ब्लास्ट में सरकार ने जानबूझकर लचर पैरवी की, जिससे आतंकी छूट गये। वहीं दूसरी तरफ जब मैंने 92 विधायकों के इस्तीफे प्रकरण को माननीय हाईकोर्ट में रखा तो देश के सबसे महंगे वकील अभिषेक मनु सिंघवी को मेरे खिलाफ खड़ा किया। इसी प्रकार केंद्र सरकार अयोध्या में राम मंदिर बनाती है वहीं राज्य सरकार सालासर में राम दरबार तोड़ती है।
यह भी पढ़ें

Rajasthan Election : कांग्रेस स्क्रीनिंग कमेटी ने पूछा, आपको टिकट नहीं मिले तो विकल्प में किसका नाम दोगे, उम्मीदवार निरुत्तर



साधु संत सुरक्षित नहीं

नेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र राठौड़ ने कहा कि कांग्रेस राज में साधु संत सुरक्षित नहीं है। महंत सियाराम दास बाबा की हत्या, कुचामन में संत मोहनदास की हत्या और भरतपुर जिले के पसोपा गांव में संत विजय दास का आत्मदाह करना यह इस बात का प्रमाण है कि प्रदेश में साधु संत सुरक्षित नहीं है।

प्रदेश में बिजली का अभूतपूर्व संकट

नेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र राठौड़ ने कहा आज प्रदेश में बिजली का अभूतपूर्व संकट बना हुआ है। 100 यूनिट फ्री बिजली देने के नाम पर बिजली आज तारों से ही गायब हो गई है। जानबूझकर विद्युत संयंत्रों को बंद कर रखा है ताकि महंगी बिजली खरीदकर जमकर चांदी कूटी जा सके। किसानों को दिन में दो ब्लॉक में बिजली मिलना तो दूर अब सिंचाई के समय भी बिजली नहीं मिल पा रही है।

यह भी पढ़ें

सीएम गहलोत की स्मार्टफोन योजना पर भाजपा का तंज, राजेन्द्र राठौड़ बोले - आउटडेटेड हैं फोन

ट्रेंडिंग वीडियो