scriptRajasthan Elections 2023 Pakistani husband and wife voted in Jaipur know reason | Rajasthan Elections 2023 : 'पाकिस्तानी' पति-पत्नी ने जयपुर में किया मतदान, जानें वजह | Patrika News

Rajasthan Elections 2023 : 'पाकिस्तानी' पति-पत्नी ने जयपुर में किया मतदान, जानें वजह

locationजयपुरPublished: Nov 26, 2023 01:19:02 pm

Rajasthan Elections 2023 : राजस्थान विधानसभा चुनाव 2023 के लिए 25 नवम्बर को वोटिंग हुई। इस वोटिंग में बड़ी हैरान करने वाली बात सामने आई। एक पाकिस्तानी-हिंदू दंपति ने शनिवार को पहली बार भारत के जयपुर में मतदान किया। वजह जानकर आप कहेंगे ... वाह।

rajasthan_elections_2023_voting.jpg
Rajasthan Elections 2023 Voting
Rajasthan Elections 2023 Voting : राजस्थान विधानसभा चुनाव 2023 की वोटिंग खत्म हो गई है। अब कई रोचक जानकारियां सामने आ रहीं हैं। आपको ताज्जुब होगा कि एक 'पाकिस्तानी' कपल ने जयपुर में वोटिंग की। मामला कुछ इस प्रकार है। जयपुर के एक पाकिस्तानी-हिंदू दंपति ने शनिवार को पहली बार भारत में मतदान किया। इस दंपति का नाम अशोक माहेश्वरी और निर्मला माहेश्वरी है। इनके तीन बच्चे हैं। यह सभी पाकिस्तान के हैदराबाद में रहते थे। पर कथित धार्मिक उत्पीड़न के बाद हैदराबाद को टाटा कर विजिटर वीजा पर अपने तीन बच्चों के साथ वर्ष 2014 मेंभारत आ गए। आधिकारिक जांच आठ साल तक चली। इसके बाद सरकार संतुष्ट हो गई और डॉक्टर माहेश्वरी दंपति को 2022 में भारतीय नागरिकता दे दी गई। जिसके बाद अशोक माहेश्वरी और निर्मला माहेश्वरी ने राजस्थान विधानसभा चुनाव 2023 में जयपुर के सांगानेर के विद्यास्थली स्कूल बूथ में मतदान किया।

गर्व से कह सकते हैं हम भारतीय हैं

अशोक माहेश्वरी और निर्मला माहेश्वरी दोनों डाक्टर हैं। निर्मला माहेश्वरी जर्नल मेडिसिन प्रैक्टिसनर है तो अशोक माहेश्वरी एक (एनेस्थेसियोलॉजिस्ट) हैं। मतदान करने के बाद दोनों ने कहा, हम गर्व से कह सकते हैं कि हम भारतीय हैं।

यह भी पढ़ें

Rajasthan Elections 2023 : शिव विधानसभा सीट की देश-विदेश में चर्चा, वजह जानकर चौंका जाएंगे



नागरिकता के आभार व्यक्त किया

डॉक्टर दंपति ने भारत की नागरिकता के लिए केंद्र सरकार का आभार व्यक्त किया। साथ ही सरकार से गुजारिश की है कि उनके बच्चों को अभी तक भारतीय नागरिकता नहीं मिली है। उन्हें भी भारतीय नागरिकता देने का कष्ट करें। उन्होंने बताया बाकी परिवार अभी हैदराबाद में ही है। वो भी भारत में बसने के लिए प्रयासरत हैं।

यह भी पढ़ें

Rajasthan Elections 2023 : जयपुर में रिकॉर्ड 75.15 फीसदी मतदान, शाहपुरा में सबसे अधिक तो सबसे कम यहां हुई वोटिंग

ट्रेंडिंग वीडियो