scriptएसएमएस मेडिकल कॉलेज: विद्यार्थियों ने युवा सशक्तिकरण एवं कौशल कार्यक्रम में श्वासों की तकनीक तथा सुदर्शन क्रिया सीखी | SMS Medical College: Students learned breathing techniques and Sudarsh | Patrika News

एसएमएस मेडिकल कॉलेज: विद्यार्थियों ने युवा सशक्तिकरण एवं कौशल कार्यक्रम में श्वासों की तकनीक तथा सुदर्शन क्रिया सीखी

locationजयपुरPublished: Mar 02, 2024 08:07:52 pm

Submitted by:

Shipra Gupta

सुदर्शन क्रिया आर्ट ऑफ लिविंग संस्था द्वारा 184 देशों में सिखाई जाने वाली वैज्ञानिक श्वास क्रिया की यूएसपी तकनीक है ।जो की येल, हार्वर्ड मेडिकल स्कूल, कॉर्नेल यूनिवर्सिटी आईआईटी, आईआईएम तथा अनेकों संस्थान में युवा सशक्तिकरण एवं कौशल कार्यक्रम (YES!+) कार्यक्रम के माध्यम से छात्रों को सिखाई जाती है ।

msg347520408-37196.jpg

,,

एसएमएस मेडिकल कॉलेज में एमबीबीएस विद्यार्थियों के लिए आर्ट ऑफ लिविंग युवा सशक्तिकरण एवं कौशल कार्यक्रम का अयोजन किया गया। जिसमें 130 से भी अधिक विद्यार्थियों ने हिस्सा लिया। सभी विद्यार्थियों ने वैज्ञानिक तौर पर प्रमाणित श्वासों की तकनीक तथा सुदर्शन क्रिया सीखी।
विद्यार्थियों ने बताया की वह अपने अंदर हुए परिवर्तन से बहुत खुश और उत्साहित हैं। वैज्ञानिक दृष्टिकोण रखने वाले छात्र — छात्राओं ने साझा किया कि श्वास प्रक्रियाओं के अभ्यास अनुभव को वो हैप्पी हॉर्मोन रिलीज़, वेगस नर्व ऐक्टिवेशन एवं स्ट्रेस हॉर्मोन कोर्टिसॉल रिडक्शन से जोड़ पाएं । प्रतिभागियों ने साझा किया कि उनकी नींद की गुणवत्ता में सुधार हुआ है, वे बेहतर ध्यान केंद्रित करने में सक्षम औरआत्मविश्वास का स्तर बेहतर है।
msg347520408-37197.jpg
कार्यक्रम प्रशिक्षक विवेक एवं सुविधा अग्रवाल ने बताया कि युवाओं को सिखाए जाने वाले इस प्रैक्टिकल कार्यक्रम का लक्ष्य छात्रों को न केवल आंतरिक शांति प्रधान करना है बल्कि सामाजिक जिम्मेदारी और जुड़ाव की भावना के साथ बाहरी उत्कृष्टता और गतिशीलता प्रधान करना भी है।
एसएमएस मेडिकल कॉलेज प्रिंसिपिल डॉ. राजीव बगरहट्टा और वॉइस प्रिंसिपिल डॉ. मोनिका जैन व चिकित्सा शिक्षा समन्वयक ने साझा किया कि कार्यक्रम का हमेशा छात्रों पर सकारात्मक प्रभाव पड़ता है, जो उनके व्यवहार, शैक्षणिक और समग्र व्यक्तित्व में दिखाई देता है। यह उनके लिए जीवन में कुछ अच्छा करने और अपने जीवन की जिम्मेदारी लेने के लिए मनोबल बढ़ाने का काम करता है।
सुदर्शन क्रिया आर्ट ऑफ लिविंग संस्था द्वारा 184 देशों में सिखाई जाने वाली वैज्ञानिक श्वास क्रिया की यूएसपी तकनीक है ।जो की येल, हार्वर्ड मेडिकल स्कूल, कॉर्नेल यूनिवर्सिटी आईआईटी, आईआईएम तथा अनेकों संस्थान में युवा सशक्तिकरण एवं कौशल कार्यक्रम (YES!+) कार्यक्रम के माध्यम से छात्रों को सिखाई जाती है । यह पाया गया है की इस कार्यक्रम में सिखाई गई मानसिक स्वच्छता तकनीकों के माध्यम से छात्रों में समग्र उत्कृष्टता, जीवन कौशल का निर्माण, तनाव मुक्ति और जीवन की समग्र गुणवत्ता में सुधार को पूरा करता है।
loksabha entry point

ट्रेंडिंग वीडियो