scriptVasundhara Raje supported or opposed the budget 2024, told through post | वसुंधरा राजे ने बजट को बताया जनकल्याणकारी, महिलाओं को लेकर ये कहा | Patrika News

वसुंधरा राजे ने बजट को बताया जनकल्याणकारी, महिलाओं को लेकर ये कहा

locationजयपुरPublished: Feb 01, 2024 07:38:07 pm

Submitted by:

Anant awdichya

देश का अंतरिम बजट पेश हुआ है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने अन्य कैबिनेट मंत्रियों के साथ नए संसद में इसे पेश किया। जिसमें इंफ्रास्ट्रक्चर, शिक्षा, तकनीक, कृषि, एवं पर्यटन सहित अन्य क्षेत्रों पर 30.80 लाख करोड़ का खर्च और कुल 47.66 लाख करोड़ व्यय रहने का अनुमान जताया गया है।

vasundhara_raje_on_budget_2024.jpg

जयपुर। देश का अंतरिम बजट पेश हुआ है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने अन्य कैबिनेट मंत्रियों के साथ नए संसद में इसे पेश किया। जिसमें इंफ्रास्ट्रक्चर, शिक्षा, तकनीक, कृषि, एवं पर्यटन सहित अन्य क्षेत्रों पर 30.80 लाख करोड़ का खर्च और कुल 47.66 लाख करोड़ व्यय रहने का अनुमान जताया गया है। इस पर पीएम नरेंद्र मोदी सहित मौजूदा सरकार के केंद्रीय मंत्रियों ने अपनी प्रतिक्रिया देते हुए इसे अविश्वनीय बताया है। वहीं राजस्थान की पूर्व सीएम वसुंधरा राजे ने बजट पर सोशल मीडिया के जरिए प्रतिक्रिया व्यक्त की और इसे 'आत्मनिर्भर भारत' की समृद्धि का संकल्प एवं अंत्योदय का विजन बताया। पूर्व सीएम ने आगे लिखा कि यह बजट निश्चित रूप से सर्वजन हिताय, सर्वजन सुखाय की भावना को समर्पित है। साथ ही उन्होंने लिखा कि केन्द्र सरकार का फोकस सिर्फ चार जातियों पर हैं। ये चार जातियां हैं - महिला, गरीब, युवा और किसान।

पीएम की प्रतिक्रिया:

पीएम ने अपने बजट के पश्चात अपने संबोधन में कहा कि आज का ये बजट इनक्लुसिव और इनोवेटिव बजट है। इस बजट में निरंतरता का आत्मविश्वास है। ये बजट विकसित भारत के चार स्तंभ- युवा, गरीब, महिला और किसान... सभी को सशक्त करेगा। निर्मला जी का ये बजट देश के भविष्य के निर्माण का बजट है। इस बजट में 2047 के विकसित भारत की नींव को मजबूत करने की गारंटी है। मैं निर्मला जी और उनकी पूरी टीम को बहुत-बहुत बधाई देता हूं।

साथ ही पीएम ने कहा, "हम एक बड़ा लक्ष्य तय करते हैं, उसे प्राप्त करते हैं और फिर उससे भी बड़ा लक्ष्य अपने लिए तय करते हैं। गांवों और शहरों में गरीबों के लिए हमने 4 करोड़ से अधिक घर बनाए और अब हमने 2 करोड़ और घर बनाने का लक्ष्य रखा है। हमने 2 करोड़ लखपति दीदी बनाने का लक्ष्य रखा था, अब इसे बढ़ाकर 3 करोड़ कर दिया है।"

यह भी पढ़ें

डोटासरा और राजेंद्र राठौड़ आमने-सामने, एक ने कहा- गलतफहमी ना पाल, तो दूसरे ने सुझाया अहंकार ठीक नहीं

कांग्रेस की प्रतिक्रिया :

कांग्रेस पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने बजट को शब्दों का मायाजाल बताया। साथ ही उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने एक बार गरीबों और मध्यम वर्गीय परिवारों के उम्मीदों पर पानी फेरा है। राष्ट्रीय अध्यक्ष ने मीडिया से बातचीत में कहा," मैंने बजट भाषण सुना। मैंने सोचा था कि वित्त मंत्री POOR और MIDDLE CLASS के लिए कोई नई योजनाएँ लाएंगी। उनकी तकलीफ़ों को कम करने के लिए कुछ घोषणाएँ होगी। लेकिन ऐसा कुछ नहीं हुआ। हर साल की तरह मोदी सरकार का अंतरिम बजट केवल रंग-बिरंगे शब्दों का मायाजाल था ! इसमें ठोस कुछ नहीं था, बड़े-बड़े और खोखले दावे करना इस सरकार की आदत है।"

ट्रेंडिंग वीडियो