script फिल्मों से जैसलमेर को मिली दुनिया में पहचान | Jaisalmer got recognition in the world through films | Patrika News

फिल्मों से जैसलमेर को मिली दुनिया में पहचान

locationजैसलमेरPublished: Dec 26, 2023 08:41:38 pm

Submitted by:

Deepak Vyas

फिल्मों से जैसलमेर को मिली दुनिया में पहचान

फिल्मों से जैसलमेर को मिली दुनिया में पहचान
फिल्मों से जैसलमेर को मिली दुनिया में पहचान

गोल्डनसिटी या स्वर्णनगरी के नाम से मशहूर हो चुके जैसलमेर को पहचान और प्रसिद्धि दिलाने में यहां फिल्माई गई फिल्मों का बड़ा योगदान है। सुनील दत्त ने 1970-71 में यहां अपनी महत्वाकांक्षी फिल्म रेशमा और शेरा की शूटिंग कर इस सिलसिले को शुरू किया था। इस फिल्म में आज के महानायक अमिताभ बच्चन से लेकर स्वयं सुनील दत्त, वहीदा रहमान, विनोद खन्ना जैसे सितारों ने काम किया था। बाद में 1973-74 में विख्यात बांग्ला फिल्मकार सत्यजीत रे ने जैसलमेर में सोनार केला का निर्माण कर इस सीमांत शहर को दुनिया भर में मशहूर कर दिया। उसके बाद से बंगाली सैलानियों का जैसलमेर आगमन शुरू हुआ जो आज तक बदस्तूर जारी है। ऐसे ही जैसलमेर में रूदाली, लेकिन, ऐलान-ए-जंग, रजिया सुल्तान, लम्हे, कच्चे धागे, सरफरोश, दीवार, ढाई अक्षर प्रेम के, नन्हे जैसलमेर, टशन, एयरलिफ्ट, बादशाहो, बजरंगी भाईजान, हाउसफुल-4, थिरन, बच्चन पांडे, वेन गार्ड, जेलर...जैसी मशहूर व अन्य दर्जनों फिल्मों की शूटिंग की जा चुकी हैं। फिल्मी पर्दे पर जैसलमेर की खूबसूरती उभर कर सामने आती है। यह एक बड़ी वजह है कि देशी सैलानी यहां विभिन्न प्रांतों से उमड़ कर घूमने पहुंचते हैं।
एक्सपर्ट व्यू -
उज्जवल है जैसलमेर का भविष्य
फिल्मों, कॉमर्शियल एड, वेब सीरीज आदि की शूटिंग के क्षेत्र में जैसलमेर का भविष्य पूरी तरह से उज्ज्वल है। आने वाले साल 2024 में अनेक बड़ी फिल्मों की शूटिंग यहां होगी। जैसलमेर में शूटिंग के लिए सभी जरूरी तत्व विद्यमान हैं। यहां की लोकेशंस आज भी अन्य जगहों से दुर्लभ है। यहां रेगिस्तान है तो पहाड़ी और पठारी क्षेत्र भी। कलात्मक तालाब, ऐतिहासिक दुर्ग और विशाल हवेलियों से लेकर यहां की सैकड़ों वर्ष प्राचीन बसावट फिल्मकारों के लिए आकर्षण का केंद्र हैं। राजस्थान सरकार की ओर से प्रदेश भर में शूटिंग की अनुमति के लिए सिंगल विंडो योजना लागू किए जाने से जैसलमेर में भी शूटिंग किया जाना पहले से आसान हुआ है। ऐसे ही पूर्ववर्ती सरकार ने राजस्थान में शूटिंग को प्रोत्साहित करने के लिए निर्माता कम्पनी को सब्सिडी देने की योजना शुरू की थी। इसका फायदा भी जैसलमेर सहित पूरे राजस्थान को मिला है। उम्मीद करते हैं कि प्रदेश की नई सरकार भी सब्सिडी की योजना को जारी रखेगी। वैसे जैसलमेर में हर साल छोटी-बड़ी फिल्मों के साथ कॉमर्शियल एड आदि की शूटिंग का सिलसिला चलता है और इससे सैकड़ों लोगों को प्रत्यक्ष-परोक्ष रूप से रोजगार प्राप्त होता है। वर्तमान में जैसलमेर के लिए विमान सेवा की सुविधा भी उपलब्ध है, इससे आगामी महीनों में कई बड़े प्रोजेक्ट्स की शूटिंग होने की उम्मीद है।
- तनसिंह पूनमनगर, फिल्म शूटिंग व्यवस्थापक
फोटो .....

शहर के लिए अच्छा रहा बीता वर्ष
साल 2020 से 2022 तक कोरोना महामारी का साया बना रहा। इससे अन्य क्षेत्रों की भांति फिल्मों की शूटिंग पर भी प्रतिकूल असर पड़ा लेकिन बीता साल 2023 उम्मीद जगाने वाला साबित हुआ।

फैक्ट फाइल -
- 100 से ज्यादा फिल्मों की शूटिंग अब तक जैसलमेर में
- 1970-71 में रेशमा और शेरा की शूटिंग से हुई शुरुआत
- 1973-74 में आई सोनार केला
- 01 दर्जन से ज्यादा आउटडोर लोकेशंस जैसलमेर में
- 04 शहरों के लिए जैसलमेर से सीधी विमान सेवा
उभरती है खूबसूरती
जैसलमेर में फिल्मों आदि की शूटिंग में हमारे शहर की सुंदरता और निखर कर दुनिया के सामने आती है। इससे पर्यटन क्षेत्र को सीधा फायदा मिलता है। अभी भी जैसलमेर में कई ऐसे स्थान हैं, जिन्हें सिनेमा के पर्दे पर दिखाया जाना बाकी है।
- चन्द्रशेखर थानवी, सामाजिक कार्यकर्ता

स्थानीय कलाकारों को अवसर
जैसलमेर में विभिन्न फिल्मों और वेब सीरीज की शूटिंग से स्थानीय कलाकारों को भी अभिनय करने का सहजता से अवसर प्राप्त हो रहा है। जैसलमेर के कई स्थानीय कलाकारों को इसके जरिए पहचान मिली है। अपने लोगों को सिनेमा व टीवी के पर्दे पर देखना सुखद अनुभूति है।
- नरेन्द्र व्यास, सामाजिक कार्यकर्ता

ट्रेंडिंग वीडियो