इंजीनियरिंग छात्र ने की आत्महत्या : सुसाइड नोट में लिखी लव स्टोरी, कहा- पुलिस ने दूसरों को सौंप दी मेरी पत्नी

सुसाइड नोट पर अधूरी लव स्टोरी : आत्महत्या से पहले इंजीनियरिंग छात्र हरीश ने सुसाइड नोट लिखकर आत्महत्या की वजह राणापुर महिला इंस्पेक्टर कौशल्या चौहान और थाने के अन्य पुलिसकर्मी रामरथ परमार को बताया। जानिये पूरा मामला...।

By: Faiz

Published: 10 Apr 2021, 08:20 PM IST

झाबुआ। मध्य प्रदेश के झाबुआ जिले के राणापुर स्थित ग्राम वागलावाट में 21 वर्षीय इंजीनियरिंग के छात्र हरीश भूरिया पिता पार सिंह भूरिया ने जहरीला पदार्थ खाकर आत्महत्या कर ली। घटना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस को शव के पास से एक सुसाइड नोट भी मिला। शव के पास से मिले सुसाइड नोट को पढ़कर पुलिस भी हैरान रह गई, क्योंकि नोट में राणापुर थाना प्रभारी कौशल्या चौहान और थाने के अन्य पुलिसकर्मी रामरथ परमार को उसकी आत्महत्या की वजह बताया। सुसाइड नोट के मुताबिक, आरोप है कि, दोनों पुलिसकर्मियों ने अपने पद का दुरुपयोग करते हुए हरीश की पत्नी को से छीन लिया, साथ ही उसे दूसरे लोगों को सौंप दिया।

 

पढ़ें ये खास खबर- जॉब देने के बहाने ऑफिस बुलाया, बंधक बनाकर किया महिला से दुष्कर्म, वीडियो बनाकर 4 साल से रहा था ब्लैकमेल


सुसाइड नोट में लिखी ये बात

इंजीनियरिंग के छात्र हरीश भूरिया के पास से मिले सुसाइड नोट में लिखा था कि, 'भैया, मैं सबसे बड़ा लूजर हूं। कौशल्या चौहान और रामरथ परमार जब तक आप जैसे लोग पुलिस में रहेंगे, तब तक हम जैसे प्यार करने वालों के लिए सिर्फ मौत के सिवा कोई विकल्प नहीं बचेगा। आपने पद और अधिकार का बहुत गलत उपयोग किया। मेरे सास-ससुर और आपके जैसे लोग किसी लड़की को न मिले। आप लोगों ने सारी हदें पार कर दीं। उसे मुझसे दूर करने में कोई भी कसर नहीं छोड़ी। मारा, डराया, धमकाया और इतने से भी जी नहीं भरा, तो बोला हरीश के लिए ऐसा कर रही है, तो उसे ही उठा लेंगे और मार देंगे।


'हमारी तलाक हुई ही नहीं और आपने उसके दूसरे पुरुष के साथ संबंध बनवा दिये'

 

इंजीनियरिंग छात्र ने की आत्महत्या : सुसाइड नोट में लिखी लव स्टोरी, कहा- पुलिस ने दूसरों को सौंप दी मेरी पत्नी

सुसाइड नोट के जरिये हरीश ने ये आरोप भी लगाया कि, उसका तीन महीने का बच्चा गिरा दिया। किसी दूसरे आदमी के साथ जबरदस्ती बंधवाकर अब उसका शारीरिक शोषण भी करवा रहे हैं। मेरा ये नोट सामने आएगा, तो उसे बुलवाया जाएगा कि, मैं सब मेरी मर्जी से कर रही हूं लेकिन सच्चाई कुछ और है। मेरे सभी परिवार, संबंधी, दोस्तों से माफी चाहता हूं। आप लोगों ने कभी भी मुझ से ये उम्मीद नहीं की होगी। मां का ख्याल रखना। सॉरी, आई हेव नो मोर। ऊपर वाले का धन्यवाद, इतना अच्छा परिवार दिया। इतनी खूबसूरत पत्नी दी।'


TI कौशल्या चौहान ने दी सफाई

राणापुर थाना प्रभारी कौशल्या चौहान ने मामला सामने आने के बाद सफाई देते हुए कहा कि, लड़की बालिग है। लड़की के माता-पिता की शिकायत के बाद घर से फरार दोनों युवक युवती की तलाश की गई उन्हें यहां लाकर बयान लिए गए, तो उसने माता-पिता के साथ जाने की बात कही। इस आधार पर ही लड़की को उसके परिवार के साथ जाने की अनुमति दी गई थी।

 

पढ़ें ये खास खबर- तीखी गर्मी से राहत : राजधानी में तेज हवा के साथ हल्की-तेज बारिश, 9 जिलों में 3 दिनों तक येलो अलर्ट


लड़की वयस्क है, भोपाल में हुई थी रजिस्टर्ड शादी

मृतक हरीश के परिवार के सदस्यों ने बताया कि, दोनों एक दूसरे से प्यार करते थे। दोनों ने 8 अक्टूबर 2020 को भोपाल में रजिस्टर्ड मैरिज की थी। शादी करने के बाद दोनों गुजरात चले गए थे। लड़की के परिवार के लोगों ने उसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। लड़की वयस्क थी, फिर भी पुलिस दोनों को गुजरात से पकड़कर लाई और लड़की को उसके माता-पिता के हवाले कर दिया था। उनके पास मैरिज सर्टिफिकेट भी था इसके बावजूद भी पुलिस ने लड़की को उसके पति के साथ नहीं भेजा गया। बता दें कि, शुक्रवार को हरीश ने जहरीला पदार्थ खाकर सुसाइड कर ली है। फिलहाल, पुलिस मामले की तफ्तीश में जुटी हुई है।

 

देश में पहला कांग्रेस सांसद ने बनाया अपने खर्च पर CORONA अस्पताल- Video

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned